साइना के गोल्डेन मूवेंट को नहीं देख पाई मां, जानिए क्या है वजह

Posted By:
 Usha Rani, Mother of Saina Nehwal express her feeling on her Daughter gold victory in CWG18
नई दिल्ली। शटलर क्वीन साइना नेहवाल ने 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स में एक बार फिर से इतिहास रचते हुए बैडमिंटन महिला एकल मुकाबले में गोल्ड मेडल जीता। साइना ने फाइनल मुकाबले में उन्होंने अपनी ही देश की स्टार शटलर पीवी सिंधु को कड़ी चुनौती देते हुए मुकाबला 21-18 और 23-21 से जीत लिया। साइना की जीत पर देश के साथ-साथ उनके परिवार वाले बेहद खुश है। साइना की मां ऊषा रानी ने साइना की जीत पर खुशी जताते हुए कहा है कि जीत के लिए काफी मेहनत की है। साइना की जीत से परिवार वाले बेहद खुश है। उन्होंने अपनी बेटी के साथ-साथ पीवी सिंधु को भी जीत की बधाई दी और कहा कि दोनों ने बेहतरीन खेला।

एएनआई से बात करते हुए उन्होंने कहा कि वो साइना के मुकाबले नहीं देखती। उनके मैच के दौरान वो टीवी के बजाए पूजा-पाठ में लीन रहती हैं और जीत की कामना करती हैं। आपको बता दें कि साइना ने सिंधु को पहले गेम में 22 मिनट में हराया, जबकि दूसरा गेम में दोनों खिलाड़ी एक-एक प्लाइंट के लिए कड़ी टक्कर देते नजर आएं। दूसरे मुकाबले को खत्म होने में 34 मिनट लग गए।

गौरतलब है कि कॉमनवेल्थ गेम्स में साइना नेहवाल का यह दूसरा गोल्ड मेडल है। ऐसा करने वाली वह भारत की पहली महिला शटलर हैं। इससे पहले उन्होंने साल 2010 कॉमनवेल्थ गेम्स में भी गोल्ड मेडल जीता था।

Story first published: Sunday, April 15, 2018, 10:19 [IST]
Other articles published on Apr 15, 2018

MyKhel से प्राप्त करें ब्रेकिंग न्यूज अलर्ट