IPL 2020: 5 दिग्गज खिलाड़ी जो खेल सकते हैं आईपीएल का अपना आखिरी सीजन

नई दिल्ली। आईसीसी की ओर से इस साल ऑस्ट्रेलिया की मेजबानी में होने वाले टी20 विश्व कप को टालने के बाद बीसीसीआई ने आईपीएल 2020 की तैयारियां शुरू कर दी हैं। 29 मार्च से शुरू होने वाले इस टूर्नामेंट को कोरोना वायरस के चलते अनिश्चितकाल के लिये टाल दिया था जिसके बाद इसे अनिश्चितकालीन समय तक के लिये टाल दिया गया था। आईपीएल में दुनिया भर के खिलाड़ी शामिल होते हैं और अपने प्रदर्शन का कमाल दिखाकर लोगों का मनोरंजन करते हैं। इस दौरान कई ऐसे खिलाड़ी भी शामिल होते हैं जो कि अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में सक्रिय नहीं है लेकिन लीग क्रिकेट में खेलते नजर आते हैं।

महज 29 साल में ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज ने लिया संन्यास, पिता के नाम है 931 विकेट

हालांकि हर खिलाड़ी को एक ऐसे दिन का सामना करना पड़ता है जिसके तहत उसे क्रिकेट को अलविदा कहना पड़ता है। ऐसे में आज हम आईपीएल में भाग लेने वाले उन 5 खिलाड़ियों के बारे में बात करेंगे जो कि इस बार अपना आखिरी सीजन खेलते हुए नजर आ सकते हैं।

विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप को लेकर ICC का बड़ा ऐलान, कहा- शेड्यूल में नहीं होगा बदलाव

क्रिस गेल (Chris Gayle)

क्रिस गेल (Chris Gayle)

कैरेबियन दिग्गज़ खिलाड़ी और टी20 क्रिकेट में एक अलग ही मुकाम हासिल करने वाले बायें हाथ के बल्लेबाज़ क्रिस गेल पिछले कुछ सालों से उस तरह के फार्म में नहीं दिख रहे हैं, जिसकी उनसे उम्मीद की जाती है। गेल के छक्के अब ज्यादा चमक नहीं बिखेर रहे हैं।

आईपीएल की नीलामी में जब उन्हें किसी टीम ने नहीं खरीदा था, तो उनको लेकर काफी चर्चा हुई थी, जिसके बाद किंग्स इलेवन पंजाब ने अपनी टीम में शामिल किया। गेल ने आईपीएल 2011 और 2012 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए खेलते हुए शानदार प्रदर्शन किया था।

गेल लगभग 40 साल के होने वाले हैं, जिसके बाद वह एक आईपीएल सीजन और खेलकर इसे अलविदा कहना चाहेंगे। अभी तक गेल ने आईपीएल में 125 मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 326 छक्के लगाये हैं और फैंस उनके आखिरी सीजन में कुछ ऐसा ही देखना चाहेंगे।

शेन वॉटसन (Shane Watson)

शेन वॉटसन (Shane Watson)

शेन वॉटसन निःसंदेह टी20 क्रिकेट के सफल खिलाड़ियों में से एक हैं। हाल के वर्षों में वॉटसन ने चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए अहम भूमिका निभाते हुए आईपीएल में अपने पिछले दो साल में 32 मैचों से 953 रन बनाकर अपने आलोचकों को करारा जवाब दिया।

उन्होंने फाइनल में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ फ़ाइनल में शानदार शतक लगाकर चेन्नई को आईपीएल का ख़िताब जितवाया। वॉटसन ने घरेलू क्रिकेट से पहले ही संन्यास ले लिया है और 39 वर्षीय खिलाड़ी को फिटनेस की समस्याओं से भी गुजरना पड़ा है। फील्डिंग के दौरान इस खिलाड़ी में उम्र का तकाजा जरूर देखने को मिला था। ऐसे में इस साल वॉटसन आखिरी बार इस लीग में खेलते हुए दिख सकते हैं।

हरभजन सिंह (Harbhajan Singh)

हरभजन सिंह (Harbhajan Singh)

साल 2016 में भारतीय टीम के लिए अपना आखिरी मैच खेलने वाले दिग्गज़ ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह जिनके लिए शायद अब भारतीय टीम में वापसी करने के सभी दरवाजे लगभग पूरी तरह से बंद हो चुके हैं। आइपीएल में हरभजन सिंह ने अपने करियर की शुरुआत मुंबई इंडियंस की तरफ से की। 2008 से 2017 तक मुंबई इंडियंस के लिए खेले और इस प्रक्रिया में तीन आईपीएल ट्रॉफी जीती। 2018 से हरभजन ने फिर चेन्नई सुपरकिंग्स (सीएसके) के लिए खेलना शुरू किया। उन्होंने चेन्नई के लिए अपने पहले सीजन में औसत दर्जे का प्रदर्शन किया था।

इस दौरान उन्होंने 13 मैचों से 38।57 की औसत से सिर्फ 7 विकेट ही निकाल सकें। सीएसके के साथ उनका दूसरा सीजन बेहतर रहा। हरभजन ने 19।50 की औसत से 11 मैचों में 16 विकेट चटकाए थे। 40 वर्षीय हरभजन इस सीजन के बाद अपने करियर पर विराम लगा सकते हैं।

अमित मिश्रा (Amit Mishra)

अमित मिश्रा (Amit Mishra)

भले ही अमित मिश्रा को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खुद को साबित करने का उतना मौका ना मिला हो, लेकिन वह आईपीएल में एक बड़े खिलाड़ी माने जाते हैं, हालाँकि मिश्रा के लिए इंडियन प्रीमियर लीग के पिछले कुछ सीज़न उम्मीद के मुताबिक नहीं बीते हैं। इसके बावजूद वह दिल्ली कैपिटल्स के प्रमुख खिलाड़ी जरूर बने हुए हैं। पिछले आईपीएल सीजन में अमित मिश्रा ने 11 मैच खेले जिसमें वह सिर्फ 11 विकेट ही अपने नाम पर कर सके। दिल्ली की टीम उन्हें एक और मौका जरूर देना चाहेगी।

मिश्रा आईपीएल के अभी तक के इतिहास में एकलौते ऐसे गेंदबाज़ रहे हैं, जिन्होंने तीन हैट्रिक ली हैं, इसके अलावा वह आईपीएल में सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज़ो में दूसरे स्थान पर हैं। मिश्रा ने 157 विकेट आईपीएल में लिए हैं और वह मलिंगा से सिर्फ 13 विकेट पीछे हैं।

लसिथ मलिंगा (Lasith Malinga)

लसिथ मलिंगा (Lasith Malinga)

36 साल के लसिथ मलिंगा आईपीएल के पहले सीज़न से खेल रहे हैं और मुम्बई इंडियंस टीम के एक महत्तवपूर्ण सदस्य रहे हैं। आईपीएल के 12 वें सीज़न में मलिंगा ने वापसी की थी, क्योंकि वह उसके पिछले सीजन में खेलने की जगह एक कोच की भूमिका में थे। श्रीलंका के इस दिग्गज़ तेज गेंदबाज को पिछले कुछ समय से फिटनेस की समस्या से काफी जूझना पडा हैं, जिससे उनकी गति में भी कमी आ गयी और इसका असर गेंदबाज़ी में साफ तौर पर देखने को मिलता है, क्योंकि पहले मलिंगा 140 की गति से गेंद फेकते है।

इस कारण बल्लेबाज़ो को उन्हें समझना बेहद मुश्किल भरा हो जाता था। लेकिन अब मलिंगा एक मध्यम गति के गेंदबाज़ की तरह गेंदबाजी कर रहे हैं, जिसमें वह धीमी गति की गेंदे अधिक इस्तेमाल करते हैं। मुम्बई इंडियंस ने भी इस बात को समझ लिया है, जिसके बाद वह उनके विकल्प की तलाश में पहले से ही जुट गयी है। इसी कारण यह सीजन मलिंगा के लिए आखरी साबित हो सकता है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Friday, July 31, 2020, 22:41 [IST]
Other articles published on Jul 31, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X