घर का भेदी लंका ढाए- 72 साल पहले जब एक ऑस्ट्रेलियन ने करवाया था ब्रैडमैन को OUT

नई दिल्ली: ऑस्ट्रेलिया ने 1948 में 5-मैचों की एशेज श्रृंखला के लिए इंग्लैंड का दौरा किया जो द्वितीय विश्व युद्ध के बाद इंग्लैंड में पहली एशेज थी। तब ऑस्ट्रेलिया का काफी दबदबा था और यह टीम अपराजेय चल रही थी और ऑस्ट्रेलिया अपनी इस सिलसिले को जारी रखने के लिए तैयार था क्योंकि यह श्रृंखला उनके कप्तान सर डोनाल्ड ब्रैडमैन की अंतिम सीरीज थी। श्रृंखला का पहला टेस्ट नॉटिंघम के ट्रेंट ब्रिज द्वारा आयोजित किया गया था जो 10 जून से शुरू हुआ था।

बात 1948 में ऑस्ट्रेलिया के दबदबे की है-

बात 1948 में ऑस्ट्रेलिया के दबदबे की है-

पहले बल्लेबाजी इंग्लैंड की टीम ने की लेकिन मेजबान टीम 165 पर आउट हो गई। जबकि ऑस्ट्रेलिया ने दूसरे दिन सुबह 73 रन की ओपनिंग साझेदारी कर ली थी। ब्रैडमैन ने नंबर 3 पर कदम रखा और दिन का खेल समाप्त होने तक अपनी टीम को शीर्ष पर रखा क्योंकि उन्होंने नाबाद 130 रन बनाए। दूसरे दिन स्टंप पर ऑस्ट्रेलिया 293/4 रन बना रहा था और मेजबान टीम को 128 रनों की बढ़त मिल गई थी। ब्रैडमैन और लिंडसे हैसेट के बीच 108 रनों का स्टैंड हो चुका था।

कोहली एंड कंपनी को द्रविड़ की चेतावनी- इस बार का ऑस्ट्रेलिया दौरा बड़ा और कठिन होगा

अंग्रेजों को दुर्गति के बीच मिला एक ऑस्ट्रेलियाई का सहारा-

अंग्रेजों को दुर्गति के बीच मिला एक ऑस्ट्रेलियाई का सहारा-

जब ऑस्ट्रेलियाई टीम अंग्रेजी टीम को कुचलती जा रही थी तब उनके पूर्व साथी बिल ओ'रिली प्रेस बॉक्स से खेल को कवर कर रहे थे। बिली एक कंगारू लेग स्पिनर थे जिन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ 1946 के वेलिंगटन टेस्ट के अंत में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की और फिर पत्रकार बने। बिली को ब्रैडमैन के साथ मतभेद रखने के लिए जाना जाता था।

ट्रेंट ब्रिज में दूसरे दिन के बाद, बिल ओ'रिली ने ब्रैडमैन के लिए अपनी गेंदबाजी रणनीति के बारे में बात करने के लिए इंग्लैंड के एलेक बेडसर के साथ बातचीत की और इंग्लिश पेसर को बताया कि ब्रेडमैन को परेशान करने के लिए फील्ड प्लेसमेंट में बदलाव की आवश्यकता है।

बिल ओ रिली ने बताया डॉन को आउट करने का प्लान-

बिल ओ रिली ने बताया डॉन को आउट करने का प्लान-

तब बेडसर ने एक कागज उठाया और ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर के सुझावों को नोट किया। बिल ओ'रिली ने नियमित लेग-स्लिप स्थिति को हटाने के बारे में बताया। और बल्लेबाज के करीब एक अपरंपरागत फाइन-लेग लगाने का सुझाव दिया। इसका मतलब था कि एक फील्डर को शॉर्ट फाइन-लेग और शॉर्ट स्क्वायर-लेग के बीच रखा जाना चाहिए जो कि बल्लेबाज से 12 गज की दूरी पर था।

एलेड बेडसर ने डॉन ब्रैडमैन को इनस्विंगर के साथ तीसरे दिन सुबह शुरू की। उन्होंने ओ'रेली के सुझाव के अनुसार सर लेन हटन को बैकवार्ड लेग में तैनात किया। ब्रैडमैन नेबेडर के दूसरे ओवर की दूसरी गेंद पर कवर के जरिए एक चौका लगाया। लेकिन अगली ही गेंद पर ब्रैडमैन नेगेंद पर ग्लांस किया लेकिन हटन द्वारा लपके गए, जिससे उनकी 138 रन की पारी समाप्त हो गई।

खाता भी नहीं खोल पाए ब्रैडमैन, पर ऑस्ट्रेलिया जीता मैच-

खाता भी नहीं खोल पाए ब्रैडमैन, पर ऑस्ट्रेलिया जीता मैच-

फिर भी ऑस्ट्रेलिया ने 509 रन बनाए। इंग्लैंड दूसरी पारी में 441 रन पर आउट हो गया। दूसरी पारी में भी ब्रैडमैन पहली पारी के अंदाज में हटन द्वारा लपके गए। उन्होंने 10 बॉल खेलकर कोई रन नहीं बनाया। हालांकि ऑस्ट्रेलिया ने 98 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए केवल 28.3 ओवरों में 8 विकेट से जीत दर्ज की। लेकिन एक ऑस्ट्रेलियाई के बताए प्लान के हिसाब से इंग्लैंड महान ब्रैडमैन को दो बार आउट करने में कामयाब रहा।

जोंटी रोड्स ने एक VIDEO शेयर करके बताया- क्यों है उनको भारत से इतना प्यार

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Friday, June 12, 2020, 13:34 [IST]
Other articles published on Jun 12, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X