पूर्व क्रिकेटर का बयान- अब धोनी की जरूरत नहीं है, उनके बिना भी विश्व कप जीत सकते हैं

नई दिल्ली। महेंद्र सिंह धोनी ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्हें फैंस मैदान पर लगातार खेलते हुए देखना पसंद करते हैं। धोनी ने हालांकि पिछले साल इंग्लैंड में हुए आईसीसी विश्व कप के बाद कोई मैच नहीं खेला, लेकिन बावजूद इसके उनके प्रशंसकों का मानना है कि धोनी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टीम में वापसी करेंगे। धोनी साल 2021 में होने वाला टी20 विश्व कप खेलेंगे या नहीं, यह बड़ा सवाल है। वहीं अब भारत के पूर्व बल्लेबाज आैर कमेंटेटर आकाश चोपड़ा का कहना है कि अब T-20 वर्ल्ड कप के लिए धोनी की जरुरत नहीं है, क्योंकि टीम उनके बिना भी आगे बढ़ सकती है।

IPL 2020 : चेन्नई के सामने आईं मुश्किलें, शुरूआती मैचों से बाहर रहेंगे ये धाकड़ खिलाड़ी

टीम में अब उनकी जरूरत नहीं है

टीम में अब उनकी जरूरत नहीं है

दरअसल, उनके यूट्यूब चैनल पर एक फैन ने सवाल किया कि क्या भारतीय टीम 2021 T20 विश्व कप में एमएस धोनी के बिना अपनी छाप छोड़ सकती है। जवाब देते हुए आकाश चोपड़ा ने इस कथन पर सहमति व्यक्त की और कहा, कि भारत अब अपने दम पर आगे बढ़ने सक्षम है। चोपड़ा ने कहा, ''हम 2021 के बारे में बात करें तो मुझे लगता है कि हम उसके बिना भी प्लान तैयार कर सकते हैं। टीम में अब उनकी जरूरत नहीं है।''

अब खेलना नहीं चाहते हैं धोनी

अब खेलना नहीं चाहते हैं धोनी

ये बयान देते हुए चोपड़ा ने कहा कि भारतीय टीम के साथ कप्तान कूल होना हमेशा एक फायदेमंद साबित होंगे, लेकिन इससे भी बड़ा सवाल यह है कि धोनी खुद आगे बढ़ना चाहते हैं या नहीं। चोपड़ा के तर्क के अनुसार, धोनी अब टीम के लिए खेलने के लिए ज्यादा तैयार नहीं हैं। उन्होंने कहा, ''यह भारत में है और आप निश्चित रूप से धोनी को टीम में रखना चाहते हैं और उन्हें खेलना चाहते हैं। लेकिन पहली बात, क्या धोनी खेलना चाहते हैं? मैं एक टूटे हुए रिकॉर्ड की तरह यह कह रहा हूं कि मुझे लगता है कि वह अब टीम के लिए खेलना नहीं चाहते हैं।''

पीपीई किट पहने हुए युजवेंद्र चहल की मंगेतर धनश्री ने किया डांस, क्या आपने देखा?

उनके बिना भी विश्व कप जीत सकते हैं

उनके बिना भी विश्व कप जीत सकते हैं

चोपड़ा ने इस तथ्य पर जोर दिया कि भले ही धोनी खेलने के लिए उपलब्ध हों, भारत को उनके बिना आगे बढ़ना सीखना चाहिए क्योंकि हम 2021 के टी20 विश्व के बारे में बात कर रहे हैं और ऐसे समय होंगे जब धोनी टीम का समर्थन करने के लिए नहीं होंगे। इसके अलावा, उनकी उपस्थिति बहुत महत्वपूर्ण नहीं है कि यह खेल के परिणामों को प्रभावित करेगा। उन्होंने कहा, ''अभी भी एक साल से अधिक समय बाकी है जब भारत में विश्व कप होगा। इसलिए, हमें उसके बिना प्रबंधन करने की आदत डालनी होगी और मुझे लगता है कि तब तक इसकी आदत हो जाएगी।'' उन्होंने कहा, "इसलिए मुझे लगता है कि उनकी उपस्थिति इतनी महत्वपूर्ण नहीं है कि अगर वह वहां नहीं हैं तो आप विश्व कप नहीं जीत पाएंगे। हम उनके बिना भी जीत सकते हैं।"

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Wednesday, August 12, 2020, 13:26 [IST]
Other articles published on Aug 12, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X