IPL 2020: मैच के दौरान घबरा गए थे अय्यर, जीत के बाद बताया टीम के अनसुने हीरो का नाम

नई दिल्लीः दिल्ली कैपिटल्स और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने अगर शनिवार को अपने मुकाबले जीते ना होते तो हम कहते कि आईपीएल अब रोचक होने जा रहा है लेकिन ऐसा नहीं हो रहा है। हारने वाले लगातार हार रहे हैं और जीतने वाले इसके ठीक उलट कर रहे हैं।

अब टॉप की तीन टीमों और बाकियों के बीच की खाई ज्यादा चौड़ी हो गई है। दिल्ली ने चेन्नई को मात देकर 14 अंक बटोर लिए हैं और वह टॉप पर शान से विराजमान है। दूसरी और आरसीबी ने डिविलियर्स के दम पर एक और मैच जिता। वे लोग भी नंबर 3 पर बैठे हुए हैं, उनके 6 जीत के साथ 12 अंक हैं।

अय्यर ने कहा- मैं बहुत घबरा गया था

अय्यर ने कहा- मैं बहुत घबरा गया था

लेकिन दिल्ली कैपिटल्स का चेन्नई के साथ मुकाबला इतना आसान नहीं था। यह आखिरी ओवर में गया और अक्षर पटेल ने 5 गेंदों पर 21 रनों की पारी खेल दी। धवन 101 रन बनाकर नाबाद लौटे। मैच के बाद कप्तान अय्यर ने कहा है कि वे थोड़ा नर्वस थे।

IPL 2020: CSK के कप्तान एमएस धोनी ने बताई DC के खिलाफ हार की मुख्य वजह

"मैं बहुत घबरा गया था, पता नहीं है कि क्या कहना है क्योंकि यह आखिरी ओवर में जा रहा था। मुझे पता था कि अगर शिखर आखिर तक टिके रहे तो हम जीतेंगे। लेकिन जिस तरह से अक्षर ने गेंद को मारा वह देखने में अद्भुत था। जब भी हम अपने ड्रेसिंग रूम में मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार देते हैं, तो वह हमेशा होता है। वह एक अनसुना हीरो हैं। उसकी तैयारी हमेशा बिंदु पर होती है और वह जानता है कि वह क्या कर रहा है।"

दिल्ली कैपिटल्स के ड्रेसिंग रूम का माहौल-

दिल्ली कैपिटल्स के ड्रेसिंग रूम का माहौल-

अय्यर ने आगे कहा-

"हम अपने शिविर के पहले दिन से एक टीम के रूप में अच्छी तरह से तैयार हैं। हम एक-दूसरे की ताकत और कमजोरियों को जानते हैं। हमने एक दूसरे की सफलता और असफलता को उसी तरह से स्वीकार किया है मैंने आज टीम के साथियों में से एक को बताया कि आज उसने जिस तरह से बल्लेबाजी की, वह वास्तव में देखने लायक था। कप्तान के रूप में मुझे सांस लेने की जगह भी मिलती है।"

दिल्ली कैपिटल्स के ड्रेसिंग रूम में अपने अलग मैन ऑफ द मैच देने की परिपाठी रही है। लेकिन मैदानी मैन ऑफ द मैच इस बार शिखर धवन थे जिनकी यह पहली आईपीएल शतकीय पारी थी।

मैन ऑफ द मैच शिखर धवन ने ये कहा-

मैन ऑफ द मैच शिखर धवन ने ये कहा-

"यह बहुत खास है (पहला आईपीएल टन)। 13 साल तक खेलना, इसलिए बहुत खास है। बहुत खुश हूं। टूर्नामेंट की शुरुआत में, मैं गेंद को मार रहा था, लेकिन मैं 20 या 30 के स्कोर को अर्द्धशतक में परिवर्तित नहीं कर रहा था। एक बार जब आप ऐसा करना शुरू कर देते हैं, तो आपको अधिक आत्मविश्वास मिलता है। मैं बस उसी फॉर्म को जारी रखना चाहता हूं और इसका अधिकतम लाभ उठाना चाहता हूं। मैं अपनी मानसिकता को सकारात्मक रखता हूं, मैं बहुत सोचता नहीं हूं। बेशक, मेरे पास पिच के हिसाब से कुछ रणनीतियां हैं। मुझे लगता है कि मेरे पास हिम्मत है। यह (फिटनेस) बहुत महत्वपूर्ण है। सौभाग्य से, मैं कोरोना के कारण इस लंबे ब्रेक के कारण अपनी दिनचर्या पर बहुत काम कर पा रहा था।"

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Sunday, October 18, 2020, 8:16 [IST]
Other articles published on Oct 18, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X