IPL 2020: लीग से पहले अभ्यास मैच कराना चाहते हैं जॉन्टी रोडस, कर रहे खास मांग

नई दिल्ली। बीसीसीआई की ओर से इस साल यूएई में आयोजित की जाने वाली इंडियन प्रीमियर लीग की तैयारियों को लेकर शुरु कर दी है और लगभग सभी टीमें मैदान पर ट्रेनिंग करते हुए नजर आ रहे हैं। इस बीच किंग्स इलेवन पंजाब (Kings XI Punjab) के फील्डिंग कोच जॉन्टी रोड्स (Jonty Rhodes) ने खिलाड़ियों की बेहतर तैयारी के लिये बीसीसीआई से खास मांग की है। उनका मानना है कि कोरोना वायरस के चलते खिलाड़ी काफी समय से मैदान से दूर चल रहे थे इस कारण उन्हें मैच की परिस्थितियों के अनुसार ढलने के लिये लीग शुरू होने से पहले अभ्यास मैच कराने की जरूरत है।

IND vs AUS: टीम इंडिया को कोरोना से बचाने के लिये जानें कितने करोड़ खर्च करेगा क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया

आईपीएल में करीब 2 साल बाद वापस लौट रहे जोंटी रोड्स ने यह भी कहा कि उनके जैसे कोचिंग स्टाफ पर खिलाड़ियों को भावनात्मक सहयोग देने की भी जिम्मेदारी है क्योंकि कोरोना वायरस स्वास्थ्य सुरक्षा प्रोटोकॉल के कारण अधिकांश अपने परिवार और दोस्तों से दूर रहेंगे।

Cricket History: जब 2 रन से विश्व रिकॉर्ड बनाने से चूक गये थे सुनील गावस्कर

खिलाड़ियों के लिये अभ्यास मैच कराने जरूरी

खिलाड़ियों के लिये अभ्यास मैच कराने जरूरी

उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस को देखते हुए इस बार यूएई में 19 सितंबर से आईपीएल को आयोजित किया जा रहा है जिसको लेकर बीसीसीआई कड़ाई से जैविक सुरक्षित मानक संचालन प्रक्रिया का पालन कर रहा है। इसी को देखते हुए ज्यादातर खिलाड़ियों ने अपने परिवार को साथ नहीं ले जाने का फैसला किया है।

इसी को लेकर रोड्स (Jonty Rhodes) ने कहा ,' कौशल की बात करें तो सभी खिलाड़ी लय में लौट आये हैं और नेट्स पर अपना स्वाभाविक खेल दिखा रहे हैं जो रोचक है क्योंकि लॉकडाउन के दौरान वे अधिक अभ्यास नहीं कर सके । हम कोशिश कर रहे हैं कि मैच परिस्थितियों में ढलने के लिये एक या दो अभ्यास मैच कराये जा सकें।'

बिना परिवार के तैयारी करना खिलाड़ियों के लिये मुश्किल

बिना परिवार के तैयारी करना खिलाड़ियों के लिये मुश्किल

रोड्स (Jonty Rhodes) ने कहा ,'भारत में क्रिकेट बहुत खास है । मैने आईपीएल के दौरान देखा है। होटल के कमरों में परिवार और दोस्तों के साथ रात को डिनर लेना वगैरह लेकिन ये पेशेवर क्रिकेटर हैं और सबसे कठिन 'बायो बबल' नहीं बल्कि खेलने का मौका नहीं मिलना है। खिलाड़ी बायो बबल में रहने के लिये तैयार होकर आये हैं।'

कोच की जिम्मेदारी होती है खिलाड़ियों को भावनात्मक मजबूती देना

कोच की जिम्मेदारी होती है खिलाड़ियों को भावनात्मक मजबूती देना

उन्होंने कहा ,'टूर्नामेंट में प्रदर्शन में उतार चढाव आता रहता है और कोचों की जिम्मेदारी है कि खिलाड़ियों को भावनात्मक सहयोग दें क्योंकि परिवार साथ नहीं है।'

Kings XI Punjab squad: अर्शदीप सिंह, क्रिस गेल, क्रिस जॉर्डन, दर्शन नालकंडे, दीपक हुड्डा, ग्लेन मैक्सवेल, कृष्णप्पा गौतम, हार्डस विलजॉइन, हरप्रीत बराबर, इशान पोरेल, जगदीश सुचित, जेम्स नीशम, करुण नायर, केएल राहुल, मनदीप सिंह, मयंक अग्रवाल, मोहम्मद शमी, मुजीब उर रहमान, मुरुगन अश्विन, निकोलस पूरन, प्रभसिमरन सिंह, रवि बिश्नोई, सरफराज खान, शेल्डन कॉटरेल और तेजिंदर ढिल्लों।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Friday, September 4, 2020, 21:42 [IST]
Other articles published on Sep 4, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X