'चोट के बावजूद कम नहीं हुई पांड्या की धार', हार्दिक के फैन हुए शेन बॉन्ड

IPL 2021 Mumbai Indians bowling Coach shane bond praises hardik pandya says didn't lost touch after injury: नई दिल्ली। भारतीय टीम के हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या चोट से उबरने के बाद वापसी कर चुके हैं और इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में गेंदबाजी करते हुए भी नजर आये हैं। अब यह दिग्गज खिलाड़ी आईपीएल में मुंबई इंडियंस की ओर से खेलते नजर आये। इसको लेकर न्यूजीलैंड के पूर्व तेज गेंदबाज और मुंबई इंडियंस के बॉलिंग कोच शेन बॉन्ड ने हार्दिक पांड्या की जमकर तारीफ की है और उनका मानना है कि चोट के बावजूद इस खिलाड़ी के ऑलराउंडर होने की धार कम नहीं हुई है।

IPL 2021: कैफ ने पंत की कप्तानी को लेकर दिया बड़ा बयान, कहा - बनायेगी बेहतर खिलाड़ी

शेन बॉन्ड ने अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए कहा कि किसी भी खिलाड़ी को जब पीठ की चोट के चलते सर्जरी से गुजरना पड़ता है तो उसकी रफ्तार में कमी आ जाती है, हालांकि मुझे नहीं लगता कि हार्दिक ने बतौर ऑलराउंडर कुछ भी खोया है। हार्दिक का आक्रामक नजरिया अभी भी कायम है, उनके पास गेंद को स्विंग कराने की काबिलियत है, बाउंसर करा सकते हैं और अभी अच्छी-खासी स्पीड से गेंद फेंक सकते हैं।

5 खिलाड़ी जो IPL 2021 में बन सकते हैं सिक्सर किंग, 6 गेंदों पर लगा सकते हैं 6 छक्के

हम चाहते थे कि हार्दिक करें वापसी

हम चाहते थे कि हार्दिक करें वापसी

बॉन्ड का मानना है कि जब आपकी सर्जरी होती है तो आपके शरीर के बाकी हिस्सों में भी दर्द होने की संभावना रहती है। जब पिछली बार आईपीएल में हार्दिक खेल रहे थे तो वो दर्द से काफी परेशान थे और हम नहीं चाहते थे कि उन्हें कोई और चोट लग जाये क्योंकि बतौर बल्लेबाज वो काफी अहम हैं। उस वक्त हमारा बस एक ही लक्ष्य था कि हम उनकी भारतीय टीम में बतौर ऑलराउंडर वापसी करा सकें और इस पूरी प्रक्रिया का हिस्सा बन सकें।

अच्छी बल्लेबाजी की वजह से गेंदबाजी पर कम हुआ दबाव

अच्छी बल्लेबाजी की वजह से गेंदबाजी पर कम हुआ दबाव

शेन बॉन्ड ने हार्दिक के बारे में बात करते हुए कहा कि उनकी बल्लेबाजी की शानदार फॉर्म ने उन्हें बॉलिंग का और मजा लेने का मौका दिया है। जब उन्हें भारतीय टीम में चुना गया था तो वो पूरे ऑलराउंडर बन चुके थे जो बल्ले और गेंद दोनों से प्रदर्शन कर सकते थे, हालांकि यह उनकी विस्फोटक बल्लेबाजी है जिसने उन पर गेंदबाजी में दबाव कम किया और बेहतर ऑलराउंडर बनने में मदद की। हार्दिक को पता है कि वो सीमित ओवर्स प्रारूप के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज बन सकते हैं जिसकी वजह से उनकी गेंदबाजी में वो दबाव महसूस नहीं करते हैं।

टेस्ट क्रिकेट में भारत के लिये बन सकते हैं चौथे तेज गेंदबाज

टेस्ट क्रिकेट में भारत के लिये बन सकते हैं चौथे तेज गेंदबाज

शेन बॉन्ड ने हार्दिक पांड्या की तारीफ करते हुए कहा कि वो टेस्ट क्रिकेट में भारतीय टीम के लिये गेंदबाजी के चौथे विकल्प साबित हो सकते हैं, हालांकि मेरा मानना है कि उन्हें टेस्ट मैच के दौरान 15-16 ओवर के बजाय एक दिन में सिर्फ 10 ओवर ही बॉलिंग करनी चाहिये। इससे उनका वर्कलोड मैनेज होगा।

आपको बता दें कि हाल ही में खेली गई वनडे सीरीज के दौरान हार्दिक से गेंदबाजी न कराने को लेकर विराट कोहली ने भी उनके वर्कलोड को मैनेज करने की ही बात कही थी।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Saturday, April 3, 2021, 18:53 [IST]
Other articles published on Apr 3, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X