ISL 7: 10 खिलाड़ियों के बावजूद जमशेदपुर ने खेला ड्रॉ, मुंबई को जीत से रोका

नई दिल्ली। जमशेदपुर एफसी ने सोमवार को हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के सातवें सीजन के अपने छठे मुकाबले में 28वें मिनट के बाद से ही 10 खिलाड़ियों के साथ खेलते हुए टेबल टॉपर मुम्बई सिटी एफसी को 1-1 की बराबरी पर रोक दिया। मुम्बई को इस सीजन का पहला ड्रॉ खेलना पड़ा जबकि जमशेदपुर चौथा ड्रॉ खेला है। मुम्बई के छह मैचों के बाद 13 अंक हो गए हैं। उसके खाते में चार जीत, एक हार और एक ड्रॉ है। जमशेदपुर का भी यह छठा मैच था। उसे भी एक मैच में जीत और एक में हार मिलीा है। उसके खाते में सात अंक हैं और वह तालिका में छठे स्थान पर पहुंच गई है।

जीएमसी स्टेडियम में खेले गए इस मैच के पहले हाफ में मुम्बई सिटी एफसी ने पहले ही मिनट में जोरदार हमला किया लेकिन एडम लेफोंड्रे, बिपिन सिंह और बार्थोलोमेव ओग्बेचे के इस सम्मिलित हमले को एइतोर मोनरॉय ने बेकार कर दिया।

मैच का पहला रोमांचक पल नौवें मिनट में आया जब जमशेदपुर एफसी ने गोल करते हुए 1-0 की लीड ले ली। उसके लिए यह गोल नेरीजुस वाल्सकिस ने किया। इस गोल में जैकीचंद सिंह का एसिस्ट रहा।

और पढ़ें: AUS vs IND: एलन बॉर्डर ने ऑस्ट्रेलियाई टीम को लताड़ा, पिंक बॉल प्रैक्टिस मैच में किया खराब प्रदर्शन

ओग्बेचे ने एक खराब बैक पास दिया, जिसे जैकीचंद सिंह ने इंटरसेप्ट कर लिया। जैकी तेजी से बॉक्स में घुसे और वाल्सकिस को अच्छा पास दिया। वाल्सकिस ने पहले ही टच में गेंद को पोस्ट में डाल दिया।

14वें मिनट में जमशेदपुर के मोनरॉय को पीला कार्ड दिखाया गया और 15वें मिनट में मुम्बई ने ओग्बेचे के गोल की मदद से 1-1 की बराबरी कर ली। इस गोल में बिपिन सिंह का सहयोग रहा। 22वें मिनट में जमशेदपुर ने लीड लेने की पूरी कोशिश की लेकिन मुम्बई सिटी की किस्मत अच्छी रही कि गोल ना हो सका।

28वां मिनट जमशेदपुर के लिए बुरी खबर लेकर आया। मोनरॉय को फाउल के लिए दूसरा पीला कार्ड दिखाया गया और वह मैदान से बाहर चले गए। यहां से जमशेदपुर 10 खिलाड़ियों के साथ खेलने को मजबूर हुई।

इसके बावजूद जमशेदपुर ने हिम्मत नहीं हारी और अपना संघर्ष जारी रखा। 33वें और 43वें मिनट में करण अमीन ने दो शानदार बचाव करते हुए मुम्बई को लीड लेने से रोका। 45वें मिनट में जमशेदपुर के गोलकीपर टीवी रेहेनेश ने एक शनदार बचाव करते हुए अपनी टीम को पिछड़ने से बचाया।

और पढ़ें: AUS vs IND: स्लेजिंग पर फिंच ने दी ऑस्ट्रेलियाई टीम को वार्निंग, जानें क्या बोले

दूसरे हाफ के शुरुआती 15 मिनट में मुम्बई का दबदबा रहा। इस दौरान उसने कई अच्छे हमले किए लेकिन जमशेदपुर का डिफेंस सावधान था। 60वें मिनट में स्टीफन इजे ने एक शानदार बचाव करते हुए मुम्बई को लीड लेने से रोका।

61वें मिनट में मुम्बई के पास लीड लेने का निश्चित मौका था लेकिन यह मौका भी उसके हाथ से निकल गया। युवा भारतीय रोवलिन बोर्गेस पोस्ट के मुहाने पर मिले पास पर गोल करने से चूक गए। मुम्बई के खिलाड़ियों के यकीन नहीं हो रहा था कि यह मौका उनके साथ से निकल गया।

इस्साक वैनमालसावामा 71वें मिनट पर मैदान पर आए और आते ही एक अच्छा मूव बनाया। लेफ्ट फ्लैंक से गेंद लेकर इस्साक ने विलियन लालनुनफेला को अच्छा पास दिया लेकिन विलियन गेंद को कनेक्ट नहीं कर सके। मेहताब सिंह ने गेंद को क्लीयर कर दिया।

73वें मिनट में जमशेदपुर के कप्तान पीटर हार्टल ने शानदार डिफेंडिंग के जरिए मुम्बई को आगे निकलने से रोका। अगर वह समय पर गेंद क्लीयर नहीं करते तो ओग्बेचे मैच का अपना और टीम का दूसरा गोल कर देते। 77वें मिनट में मुम्बई ने एक और अगले ही मिनट में जमशेदपुर ने तीन बदलाव किए।

79वें मिनट में वाल्सकिस ने गोल कर दिया लेकिन लाइंसमैन ने उन्हें ऑफसाइड करार दिया। 82वें मिनट में हासिल कार्नर पर मुम्बई ने अच्छी रणनीति के तहत गोल करना चाहा लेकिन रेहेनेश ने जाहो के करारे किक को रोक दिया। गेंद रीबाउंड होकर पोस्ट में जा रही थी लेकिन रेहेनेश ने उठते हुए उसे दूर धकेल दिया। इस तरह हार्टले की देखरेख में जमशेदपुर ने 10 खिलाड़ियों के साथ ही अंक बांटने पर मजबूर किया।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Monday, December 14, 2020, 22:11 [IST]
Other articles published on Dec 14, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X