'पैसा बोलता है, कोई भारत के खिलाफ करके देखे', पाकिस्तान दौरे कैंसिल होने पर भड़के ऑस्ट्रेलिया के उस्मान ख्वाजा

नई दिल्ली। क्रिकेट जगत में पिछले कुछ दिनों में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मेजबानी के प्रयासों को गहरा झटका लगा है, जिसके तहत दो बड़ी टीमों ने सुरक्षा का हवाला देकर दौरा रद्द करने का फैसला किया। इसमें पहला नाम न्यूजीलैंड का है जिनकी महिला और पुरुष टीमों को पाकिस्तान के खिलाफ सीमित ओवर्स प्रारूप की सीरीज खेलनी थी और टीमें इसके लिये पाकिस्तान पहुंच भी गई थी, हालांकि पहले वनडे मैच के शुरू होने से कुछ देर पहले कीवी टीम ने सुरक्षा खतरे का हवाला देते हुए वापस अपने देश जाने का फैसला किया और दौरा रद्द कर दिया।

और पढ़ें: IPL 2021: सनराइजर्स हैदराबाद को मिली 7वीं हार, शर्मनाक रिकॉर्ड की लिस्ट में शामिल हुआ नाम

वहीं इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड को भी अपने महिला और पुरुष टीमों की सीमित ओवर्स सीरीज के लिये अक्टूबर के पहले हफ्ते में पाकिस्तान के दौरे पर भेजना था, हालांकि कीवी बोर्ड के सुरक्षा कारणों का हवाला देकर वापस आने के बाद ईसीबी ने भी दौरा रद्द करने का फैसला किया। पीसीबी ने दोनों क्रिकेट बोर्ड की ओर से यह फैसला लिये जाने के बाद अपनी निराशा प्रकट की है और आरोप लगाया है कि उसे अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में मेजबानी से अलग-थलग किये जाने की साजिश की जा रही है।

और पढ़ें: क्या फिल्मी पिच पर ओपनिंग करने वाले हैं वीरेंदर सहवाग, बयान ने फैन्स को किया कन्फ्यूज

पैसा बोलता है, भारत के साथ नहीं करेगा कोई

पैसा बोलता है, भारत के साथ नहीं करेगा कोई

इसको लेकर पाकिस्तान मूल के ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा ने भी अपनी राय रखते हुए ईसीबी और न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड की आलोचना की है। उस्मान ख्वाजा महज 5 साल की उम्र में पाकिस्तान से ऑस्ट्रेलिया शिफ्ट हो गये थे। ख्वाजा ने इस पर बात करते हुए कहा कि खिलाड़ियों और टीमों के लिये पाकिस्तान को अलग करके न खेलने का फैसला करना आसान है और यह चीज बांग्लादेश के साथ भी हो सकती है, हालांकि अगर यह चीज भारत के साथ हो तो चीजें पूरी तरह से बदल जाती हैं। ख्वाजा का मानना है कि इस तरह की बातचीत में पैसा बड़ा अहम रोल अदा करता है और क्योंकि भारत (बीसीसीआई) इस मामले में सब पर भारी पड़ता है इसलिये चीजें बदल जाती हैं।

पाकिस्तान बन सकता नो-गो जोन

पाकिस्तान बन सकता नो-गो जोन

ख्वाजा ने आगे बात करते हुए कहा कि पाकिस्तान ने समय-समय पर यह साबित किया है कि वह खेलों की मेजबानी के लिये सुरक्षित देश हैं तो ऐसे में कोई तुक नहीं बनता की टीमें वहां का दौरा रद्द कर खेलने के लिये न जायें। उल्लेखनीय है कि पीसीबी ने पिछले 2 सालों में अपनी सरजमीं पर अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी के लिये काफी कोशिशें की हैं लेकिन जिस तरह से चीजें अभी हो रही हैं, उससे आने वाले समय में पाकिस्तान को नो-गो जोन घोषित किया जा सकता है।

मौजूदा समय में पूरी तरह से सुरक्षित है पाकिस्तान

मौजूदा समय में पूरी तरह से सुरक्षित है पाकिस्तान

द वेस्ट डॉट कॉम डॉट एयू से बात करते हुए ख्वाजा ने कहा,'मुझे लगता है कि खिलाड़ियों और संस्थाओं के लिये पाकिस्तान को न कहना आसान है क्योंकि वो पाकिस्तान है। मुझे लगता है कि यही चीज बांग्लादेश पर भी लागू होती है। लेकिन कोई भी ऐसी समान परिस्थितियों में भारत को न नहीं कहेगा। पैसा बोलता है, हम सभी जानते हैं कि ऐसी परिस्थितियों में पैसा सबसे बड़ा रोल अदा करता है। उन्होंने समय-समय पर टूर्नामेंट आयोजित कर साबित किया है कि वो सुरक्षित हैं, मुझे कोई कारण समझ नहीं आता कि ऑस्ट्रेलिया को पीछे हटना चाहिये।'

गौरतलब है कि उस्मान ख्वाजा यूएई में खेले गये पाकिस्तान सुपर लीग का हिस्सा बने थे। उन्होंने आगे बात करते हुए कहा कि पाकिस्तान में अपने दोस्तों से बात कर यह साफ लगा है कि वहां पर खेलना पूरी तरह से सुरक्षित है। वहां पर पहले जरूर कुछ चीजें ऐसी रही थी लेकिन मौजूदा समय मे वह पूरी तरह से सुरक्षित है।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts
आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2021 भविष्यवाणी
Match 18 - October 26 2021, 03:30 PM
दक्षिण अफ्रीका
वेस्टइंडीज
Predict Now

Story first published: Thursday, September 23, 2021, 15:40 [IST]
Other articles published on Sep 23, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X