कप्तानी विवाद से लेकर गांगुली के झूठ तक, जानें 5 बड़ी बातें जो विराट कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस मे कही

IND vs SA
Photo Credit: Screen grab/Twitter

नई दिल्ली। 8 दिसंबर को भारतीय चयन समिति की ओर से साउथ अफ्रीका दौरे पर टेस्ट टीम का ऐलान किये जाने के बाद से विवादों का सिलसिला शुरू हो गया था और मंगलवार (14 दिसंबर) आते-आते चीजें इतनी ज्यादा उलझ गई कि बीसीसीआई बैकफुट पर नजर आने लगा। ऐसे में लगातार उठ रही अफवाहों को खत्म करने का एक ही रास्ता नजर आ रहा था कि कप्तान विराट कोहली मीडिया के सामने आकर खुद इन सवालों का जवाब दें। टी20 विश्वकप में न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच से पहले कोहली आखिरी बार प्रेस कॉन्फ्रेंस में नजर आये थे, जिसके बाद अफवाहों ने कोहली से कप्तानी छिनने के विवाद को बहुत ज्यादा आगे बढ़ा दिया तो विराट ने बुधवार को पीसी करने का फैसला किया। साउथ अफ्रीका दौरे पर रवाना होने से पहले विराट कोहली ने मीडिया में चल रहे लगभग सभी हॉट टॉपिक पर जवाब दिया।

और पढ़ें: गांगुली-कोहली के बयानों के बीच अचानक क्यों ट्रेंड करने लगे अनिल कुंबले, फैन्स ने लगाई विराट की क्लास

साउथ अफ्रीका दौरे से पहले भारतीय कप्तान को लेकर कई खबरें सामने आयी थी जिसमें उनका वनडे टीम की कप्तानी छिनने के बाद रोहित से खफा होना, बीसीसीआई की तरफ से कप्तानी छोड़ने का अल्टीमेटम मिलना, साउथ अफ्रीका में वनडे सीरीज खेलने से इंकार करना जैसी बातों पर चर्चा थी, लेकिन कोहली ने इन सभी मुद्दों पर जवाब देने के साथ कुछ ऐसी बातों पर भी जवाब दिया जिससे बोर्ड और कप्तान के बीच कम्यूनिकेशन की कमी नजर आ रही है। आइये एक नजर उन 5 बातों पर डालें जो विराट कोहली ने अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कही।

और पढ़ें: क्या टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने वाले हैं रविंंद्र जडेजा, अब खुद दिया इस सवाल का जवाब

झूठ है अफ्रीका दौरे पर वनडे सीरीज न खेलने की खबर

झूठ है अफ्रीका दौरे पर वनडे सीरीज न खेलने की खबर

इस प्रेस कॉन्फ्रेंस की शुरुआत सबसे बड़े सवाल से हुई जो कि पिछले 2 दिन से हर किसी की जुबां पर था कि क्या विराट कोहली साउथ अफ्रीका के खिलाफ 3 मैचों की वनडे सीरीज का हिस्सा बनेंगे या नहीं। कई मीडिया रिपोर्ट में यह दावा किया गया था कि विराट कोहली आराम करना चाहते हैं और अपने बेटी वामिका का पहला जन्मदिन मनाना चाहते हैं तो वो वनडे सीरीज से ब्रेक लेना चाहते हैं। हालांकि यह खबर आगे और बदल गई और कोहली के ब्रेक की वजह बेटी वामिका के बजाय रोहित की कप्तानी बन गई। कोहली ने इस सवाल के जवाब में कहा कि बिल्कुल वह इस सीरीज में खेलते नजर आयेंगे।

उन्होंने कहा,'मैं पहले भी चयन के लिये उपलब्ध था और अब भी चयन के लिये उपलब्ध रहूंगा। आपको मुझसे इस तरह के सवाल नहीं पूछने चाहिये, सच कहूं तो यह सवाल उन लोगों से पूछने चाहिये जो कि ऐसी खबरें सूत्रों के हवाले से लिख रहे हैं क्योंकि जहां तक मेरी बात है मैं हमेशा से उपलब्ध रहा हूं। मेरी इस बारे में बीसीसीआई से कोई बात नहीं हुई है कि मुझे आराम की जरूरत है। ऐसी ही कुछ खबरें पहले भी लिखी गई थी कि मैं कुछ कार्यक्रम का हिस्सा बन रहा हूं, जो कि सच नहीं थी। जो भी लोग ऐसी बातें अपने सूत्रों के हवाले से ऐसा लिख रहें हैं, मेरे लिये वो बिल्कुल भी क्रेडिबल नहीं हैं।'

डेढ़ घंटे पहले ही मिली कप्तानी जाने की सूचना

डेढ़ घंटे पहले ही मिली कप्तानी जाने की सूचना

भारतीय चयन समिति ने जब साउथ अफ्रीका दौरे के लिये टेस्ट टीम का ऐलान किया तभी भारत की वनडे टीम के नये कप्तान की भी घोषणा की और विराट कोहली से कमान लेकर रोहित शर्मा को नेतृत्व की बागडोर सौंप दी। कप्तानी से हटाये जाने के बाद विराट कोहली ने पहली बार इस मुद्दे पर बात की और बताया कि इस फैसले को लेकर उनकी और बीसीसीआई की क्या बात हुई थी। इस दौरान कोहली ने उन खबरों को खारिज किया जिसमें उन्हें कप्तानी छोड़ने के लिये 48 घंटे का अल्टीमेटम देने की बात कही गई थी।

उन्होंने कहा,'कप्तानी से जुड़े निर्णय को लेकर जिस भी बातचीत का दावा किया जा रहा है वो गलत है। मुझे 8 दिसंबर को टेस्ट सीरीज के लिये हुई सेलेक्शन मीटिंग से डेढ़ घंटे पहले संपर्क किया गया था और इस फैसले के बारे में बताया गया। टी20 प्रारूप की कप्तानी छोड़ने के बाद से 8 दिसंबर तक इसके अलावा वनडे कप्तानी को लेकर मुझसे कोई और बात नहीं की गई थी। मुख्य चयनकर्ता ने मुझसे टेस्ट टीम के बारे में बात की जिसको लेकर हम दोनों सहमत हुए और कॉल खत्म होने के कुछ देर पहले ही उन्होंने मुझे बताया कि 5 चयनकर्ताओं की समिति ने फैसला लिया है कि मैं अब से वनडे प्रारूप की कप्तानी नहीं करूंगा। इसका जवाब देते हुए मैंने कहा ठीक है। इसके बाद जब सेलेक्शन को लेकर बैठक हुई तो इस पर विस्तार से चर्चा हुई कि क्या हुआ। उससे पहले तक कोई बात नहीं की गई थी।'

T20 की कप्तानी छोड़ने से किसी ने नहीं था रोका

T20 की कप्तानी छोड़ने से किसी ने नहीं था रोका

इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जो चर्चा का सबसे बड़ा केंद्र बना वह था कोहली का बयान जो कि टी20 प्रारूप की कप्तानी से जुड़ा था और बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली से बिल्कुल अलग था। बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कुछ दिन पहले एक इंटरव्यू में कहा था कि उन्होंने खुद निजी तौर पर कोहली से बात की थी और टी20 प्रारूप की कप्तानी न छोड़ने के लिये कहा था।

इसके जवाब में कोहली ने कहा,' जब मैंने टी20 प्रारूप की कप्तानी छोड़ने को लेकर बीसीसीआई से संपर्क किया तो मुझे अच्छा रिस्पॉन्स मिला। किसी को मेरा यह फैसला बुरा या हिचकिचाहट भरा नहीं लगा। किसी ने मुझे इसको लेकर दोबारा सोचने के लिये नहीं कहा। मुझे यही कहा गया कि मेरा यह फैसला प्रोग्रेसिव है और सही दिशा में लिया गया है। इसके बाद मैंने यह भी कहा कि मैं टेस्ट और वनडे में कप्तानी करना जारी रखना चाहूंगा, जब तक कि बीसीसीआई अधिकारी और चयनकर्ता इसको लेकर कुछ और न सोचते हों। मैं जो कहना चाहता था उसे मैंने उसे बिल्कुल साफ तौर पर कह गिया। मैंने उन्हें एक विकल्प दिया था कि अगर उन्हें लगता है कि मुझे कप्तानी जारी नहीं रखनी चाहिये तो वो मुझे हटा सकते हैं। यह फैसला पूरी तरह से उनके हाथ में था।'

रोहित के साथ कोई विवाद नहीं, सफाई देते-देते थक गया हूं

रोहित के साथ कोई विवाद नहीं, सफाई देते-देते थक गया हूं

गौरतलब है कि विराट कोहली और रोहित शर्मा के बीच विवाद की खबरें नई नहीं है, सबसे पहले यह अफवाह 2018 में भारत के इंग्लैंड दौरे पर सामने आयी थी, जिसके बाद 2019 विश्वकप के बाद चर्चा फिर से गर्म हो गई। वहीं रोहित को कप्तान बनाये जाने के बाद इन चर्चाओं ने फिर से जोर पकड़ लिया है। इस सवाल का जवाब देते हुए कोहली ने कहा कि मैं इस सवाल का जवाब देते-देते थक गया हूं।

उन्होंने कहा,'मैं इस सवाल का जवाब कई बार दे चुका हूं कि हमारे बीच कोई भी समस्या नहीं है और सच बताउं तो पिछले 2-2.5 साल से इस बात पर सफाई देते-देते मैं थक गया हूं। हर बार यह सवाल घूम-फिरकर आता रहता है। मैं आपको एक बात की गारंटी दे सकता हूं कि मेरा कोई भी एक्शन या बात टीम को पीछे या नीचे धकेलने के प्रयास में नहीं हूं। जब से मैं खेल रहा हूं और जब तक मैं खेलूंगा मेरा नजरिया यही है और भारतीय क्रिकेट को लेकर हमेशा यही रहेगा।'

द्रविड़-रोहित के साथ मेरा पूरा 100% समर्थन

द्रविड़-रोहित के साथ मेरा पूरा 100% समर्थन

बतौर कप्तान विराट कोहली ने सालों तक भारतीय टीम के लिये अच्छा प्रदर्शन किया है और एक बल्लेबाज के रूप में जब वापसी करेंगे तो अफने नये कप्तान रोहित शर्मा और हेड कोच राहुल द्रविड़ को पूरा समर्थन देंगे। गौरतलब है कि पिछले 8 सालों से भारत आईसीसी का एक भी खिताब नहीं जीता है, ऐसे में रोहित की कप्तानी और कोहली की बल्लेबाजी जल्द ही टीम के खिताब के सूखे को खत्म कर सकती है। खुद विराट कोहली ने नये टीम मैनेजमेंट की जमकर तारीफ की है।

उन्होंने कहा,'रोहित एक बहुत ही काबिल कप्तान हैं, जो कि रणनीतिक रूप से काफी मंझे हुए हैं। हमने उनकी कप्तानी का नमूना उन मैचों में देखा है जिसमें उन्होंने भारत के लिये कमान थामी है या फिर आईपीएल में भी। ऐसे में राहुल भाई साथ जो कि जबरदस्त मैन मैनेजर और संतुलित कोच है और रोहित दोनों को मेरा पूरा समर्थन है और उनके विजन में मेरा जिस भी तरीके से योगदान हो सकेगा मैं दूंगा। मैं अपना 100 प्रतिशत समर्थन दूंगा और उस खिलाड़ी की भूमिका निभाउंगा जो कि टीम को सही राह पर आगे बढ़ाता रहे।'

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Wednesday, December 15, 2021, 19:58 [IST]
Other articles published on Dec 15, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X