IND vs ENG: वाशिंगटन सुंदर की बल्लेबाजी के फैन हुए अश्विन, बताया- इंग्लैंड ने क्यों नहीं दिया फॉलो ऑन

IND vs ENG
Photo Credit: ICC/twitter

India vs England 1st Test R Ashwin Reveals Why England didn't give Follow On to Indian Team praises Washington Sundar: नई दिल्ली। भारत और इंग्लैंड (India vs England) के बीच खेली जा रही टेस्ट सीरीज का पहला मैच चेन्नई के मैदान पर खेला जा रहा है। भारतीय टीम को मैच के आखिरी दिन जीत के लिये 381 रनों की दरकार है जबकि इंग्लैंड की टीम को जीत के लिये 9 विकेट और चाहिये। इंग्लैंड की टीम ने पहली पारी में 578 रन बनाने के बाद भारतीय टीम को 337 रन पर समेट दिया और 241 रनों की बढ़त हासिल कर ली। वहीं भारतीय टीम ने दूसरी पारी में वापसी करते हुए इंग्लैंड को महज 178 रन पर समेट दिया और भारत को जीत के लिये 420 रनों की दरकार है। वहीं भारतीय टीम ने चौथे दिन का खेल खत्म होने तक एक विकेट खोकर 39 रन बना लिये हैं। भारतीय टीम के लिये जहां रविचंद्रन अश्विन ने दूसरी पारी में 6 विकेट हासिल किये तो वहीं पर पहली पारी में वाशिंगटन सुंदर (Washington Sundar) ने नाबाद 85 रन बनाकर भारतीय टीम के स्कोर को 337 तक पहुंचाने का काम किया।

चौथे दिन का खेल समाप्त होने के बाद रविचंद्रन अश्विन ने पिच के बारे में बात करते हुए बताया कि गेंदबाजों की कब्रगाह समझ आने वाली इस पिच पर 73 ओवर गेंदबाजी करना आसान नहीं था। इस दौरान उन्होंने बताया कि गेंदबाजी के दौरान उन्हें काफी खुशी मिलती है जिसके चलते वह शरीर पर पड़ने वाले बोझ को भूल जाते हैं, साथ ही उन्होने बताया कि इंग्लैंड ने इतनी बढ़त होने के बावजूद फॉलोऑन क्यों नहीं दिया।

IND vs ENG: लगातार तीसरी पारी में फ्लॉप हुए रोहित शर्मा, जीत के लिये भारत को 381 रनों की दरकार

उन्होंने कहा, 'लोग काफी शानदार विश्लेषण करते हैं कि मैदान पर क्या होगा और क्या नहीं लेकिन एक क्रिकेटर के मन में यह बात सबसे आखिर में आती हैं। मेरे लिये रोज 40 से 45 ओवर गेंदबाजी करना और नेट प्रैक्टिस करना टाइम टेबल का हिस्सा रहा है। गेंदबाजी से मुझे इतनी खुशी मिलती है कि कई बार मेरा शरीर साथ नहीं देता लेकिन फिर भी मैं गेंदबाजी करता हूं।'

अश्विन ने इस बारे में आगे बात करते हुए कहा कि पिच पूरी तरह से सपाट है और इसमें टॉस का अहम रोल रहा, हालांकि चौथे दिन हमने अच्छी वापसी की है और पांचवे दिन भी जीत सकते हैं।

उन्होंने कहा, 'जब मैंने यहां पर विकेट देखा था तो लगा कि बल्लेबाजी के लिये विकेट बहुत शानदार होगा लेकिन दूसरे दिन के बाद से पिच बेहतर होती गई। इस पिच पर टॉस काफी अहम रहा है। हालांकि मेरा मानना है कि हमने काफी अच्छी वापसी की और पांचवे दिन अगर हम अच्छा खेले तो जीत भी सकते हैं।'

PAK vs SA: 18 साल में पहली बार साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज जीता पाकिस्तान, 2-0 से किया क्लीन स्वीप

अश्विन ने इंग्लैंड के फॉलोऑन न देने के फैसले के बारे में बात करते हुए कहा कि वह उनके फैसले से हैरान नहीं थे। इंग्लैंड की टीम के पास दो विकल्प थे लेकिन उन्होंने अपने गेंदबाजों को आराम देने के लिये फॉलोआन नहीं देने का फैसला किया। बाहर से यह बात उतनी अच्छी तरह से समझ नहीं आती लेकिन कई बार तरोताजा गेंदबाज थके हुए गेंदबाजों से ज्यादा कमाल कर जाते हैं। इस दौरान रविचंद्रन अश्विन ने वाशिंगटन सुंदर की बल्लेबाजी की तारीफ की, जिन्होंने पहली पारी में शानदार खेल दिखाते हुये नाबाद 85 रनों की पारी खेली।

उन्होंने कहा, 'वाशिंगटन सुंदर एक शानदार बल्लेबाज हैं, कई लोग उनकी बल्लेबाजी का आकलन टी20 में उनके प्रदर्शन के आधार पर करते हैं जहां पर वो 7वें नंबर पर बल्लेबाजी करने आते हैं। हर कोई उनके टैलेंट को पहचान नहीं पाता कि वह कितने खास बल्लेबाज हैं।'

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

 

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Monday, February 8, 2021, 22:18 [IST]
Other articles published on Feb 8, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X