IND vs ENG: रोहित शर्मा का खुलासा, बताया- कैसे विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंचेगी भारतीय टीम

India vs England 3rd Test Rohit Sharma reveals How India Wil get Finals seat of World Test Championship: नई दिल्ली। विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के तहत भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही चार मैचों की टेस्ट सीरीज का तीसरा मैच बुधवार (24 फरवरी) से अहमदाबाद के नवनिर्मित मोटेरा स्टेडियम में खेला जाना है। पिंक बॉल से डे-नाइट प्रारूप में खेले जाने वाले इस तीसरे टेस्ट मैच के लिये दोनों टीमें इस समय अहमदाबाद पहुंच चुकी हैं और अभ्यास कर रही हैं। पहले मैच में 227 रनों से हार के बाद भारतीय टीम ने जबरदस्त वापसी करते हुए दूसरे टेस्ट मैच में इंग्लैंड को 317 रनों से हराया। इसके साथ ही भारतीय टीम के विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंचने की उम्मीदें बरकरार रखी हैं।

भारतीय टीम को विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंचना है तो सीरीज के बचे बाकी दोनों मैचों मेें हार को टालना होगा और कम से कम एक मैच में जीत हासिल करना जरूरी है। इस बारे में रविवार को जब सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा से बात की गई तो उन्होंने बताया कि फाइनल की टिकट के लिये आखिरकार भारतीय टीम का क्या प्लान है।

IPL 2021: धोनी के लिये आईपीएल जीतना चाहते हैं रॉबिन उथप्पा, जानें क्या कहा

वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में बात करते हुए रोहित शर्मा ने कहा, 'विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंचने के लिये हमें काफी चीजें सही करने की जरूरत है। हम भी क्वालिफाई करना चाहते हैं और जब हम खेल रहे होंगे तो हमें बस इस बात का ध्यान रखना है कि कैसे हम जीत हासिल करने के लिये चीजें सही कर सकते हैं। फाइनल में पहुंचने से पहले जीत हमारे लिये जरूरी है जिसके लिये काफी कुछ करने की जरूरत है और इसमें सबसे अहम है कि हम वर्तमान में रहकर अपने प्लान को सही तरीके से अंजाम दे सकें।'

इसके साथ ही रोहित शर्मा ने बुधवार से खेले जाने वाले डे-नाइट टेस्ट मैच को लेकर बताया कि बल्लेबाजों के लिये किस वक्त गेंदबाजों का सामना करना सबसे मुश्किल रहने वाला है।

IPL 2021: ऑस्ट्रेलियाई कप्तान के बाद अब कंगारू कोच को भी राजस्थान रॉयल्स ने किया बाहर, जानें कौन बना नया कोच

उन्होंने कहा, 'हमारे लिये यह तीसरा ही डे-नाइट टेस्ट मैच है और मैं अब तक सिर्फ एक बार ही बांग्लादेश के खिलाफ पिंक बॉल से टेस्ट मैच में खेला हूं। मैंने टीम के साथी खिलाड़ियों से सुना है कि जब सूरज ढलने वाला होता है तो उस वक्त गेंद को खेल पाना थोड़ा मुश्किल और चुनौतीपूर्ण हो जाता है, मौसम और रोशनी से परिस्थितियां बदल जाती हैं और इस वक्त आपको ज्यादा फोकस और सावधान रहने की जरूरत होती है। हालांकि मैं अभी तक इस समय बल्लेबाजी नहीं कर सका हूं, लेकिन बल्लेबाजी करते हुए इस बात को दिमाग में रखना जरूरी है।'

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

 

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Sunday, February 21, 2021, 22:37 [IST]
Other articles published on Feb 21, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X