मिताली राज ने संन्यास पर किया बड़ा खुलासा, बताया क्या होगा करियर का आखिरी टूर्नामेंट

MIthali Raj Reveals When she Will announce her retirement says ICC World Cup 2022 in New Zealand will be my swansong: नई दिल्ली। भारतीय महिला क्रिकेट की दिग्गज खिलाड़ी और वनडे टीम की कप्तान मिताली राज ने अपने क्रिकेटिंग करियर के दौरान लगभग सब कुछ हासिल कर लिया है सिवाय आईसीसी की विश्व कप ट्रॉफी के। 38 वर्षीय महिला खिलाड़ी ने अपने करियर के दौरान आये दिन नये-नये कीर्तिमान रचने का काम किया है। हालांकि इसके बावजूद उनकी विश्व कप जीतने की इच्छा अधूरी है और इसी इच्छा की पूर्ति के लिये अपने करियर के तीसरे दशक में कदम रखने वाली मिताली राज ने साफ किया है कि वो न्यूजीलैंड में होने 2022 विश्व कप को देश के लिये जीतने का साथ ही करियर का अंत करना चाहती हैं।

न्यूज 18 के साथ बात करते हुए मिताली ने कहा कि वह अभी एक साल तक और क्रिकेट खेलना जारी रखेंगी और अगले साल होने वाला विश्व कप उनके करियर का आखिरी टूर्नामेंट होगा, जिसमें वो देश के लिये ट्रॉफी जीतना चाहती हैं। मिताली ने हाल ही में अपने 10 हजार अंतर्राष्ट्रीय रन पूरे किये थे और ऐसा करने वाली दूसरी महिला खिलाड़ी बनी थी।

और पढ़ें: IND vs ENG: खतरे में पड़ा मोहम्मद शमी का करियर, जानें क्यों टीम में वापसी हुई मुश्किल

उन्होंने कहा,' मैं आराम करने का जोखिम नहीं ले सकती। मैं चाहती हूं कि टीम को ट्रॉफी जीतते हुए देखूं। मैं ऐसी टीम तैयार करना चाहती हूं जिसमें मेरे जाने के बाद कई अच्छे खिलाड़ी मौजूद हों। मैं अभी एक साल और खेलने वाली हूं। मेरे दिमाग में बस अब एक ही चीज बाकी रह गई है वो है विश्व कप जीतना। मैं उस ट्रॉफी को घर लाना चाहती हूं। यह कुछ ऐसा है जो हमेशा से मेरे दिमाग में रहा है। मुझे पता है कि मेरी निजी उपलब्धियां मेरे लिये छोटे समय तक ही खुशियां ला सकती हैं। मेरा अंतिम उद्देश्य भारत के लिये विश्व जीतना है। 2022 में होने वाला विश्व कप मेरा आखिरी टूर्नामेंट होगा।'

गौरतलब है कि मिताली राज ने साल 2019 में ही अपने टी20 करियर को अलविदा कह दिया था। मिताली की कप्तानी वाली भारतीय महिला टीम ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 5 मैचों की वनडे सीरीज के साथ वापसी की जिसमें उसे 4-1 से हार का सामना करना पड़ा।

और पढ़ें: IND vs ENG: जानें क्यों ट्विटर पर अचानक ट्रेंड होने लगा लॉर्ड शार्दुल

टीम के प्रदर्शन को लेकर मिताली ने कहा,' अगर हम सीरीज के रिजल्ट को लेकर ज्यादा दबाव न दें तो हमारे लिये सीरीज से सबसे अहम बात होगी कि हमारा समय कैसा रहा। हम पहले 3 वनडे मैचों की सीरीज खेलते थे लेकिन 5 मैचों की सीरीज ने हमें नये खिलाड़ियों को शामिल करने और उन्हें परखने का मौका दिया। इससे मुझे काफी हद तक इस बात का पता चल गया कि मैं टीम के लिये क्या देख रही थी और मुझे कैसे खिलाड़ियों की जरूरत है।'

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Thursday, March 25, 2021, 16:59 [IST]
Other articles published on Mar 25, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X