विराट कोहली की शिकायत करने वाले संजीव गुप्ता ने दिया इस्तीफा, गांगुली पर भी किया था केस

नई दिल्ली। पिछले काफी समय से भारतीय क्रिकेट में देश के टॉप खिलाड़ियों पर हितों के टकराव का मुद्दा सामने आता रहा है। इस दौरान लोकपाल की जांच के बाद खिलाड़ियों को क्लीन चिट मिली लेकिन हर बार इस केस ने खबरों में खासा मुद्दा गर्माया। अब इन खिलाड़ियों को बडी़ राहत की खबर मिल रही है क्योंकि इन खिलाड़ियों के खिलाफ हितों के टकराव का केस दर्ज करने वाले संजीव गुप्ता ने मध्य प्रदेश क्रिकेट संघ की आजीवन सदस्यता से अपना इस्तीफा दे दिया है।

और पढ़ें: ऑस्ट्रेलिया दौरे से पहले जसप्रीत बुमराह से डरे मार्नस लाबुशाने, जानें क्या कहा

हाल ही में संजीव गुप्ता ने भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली पर हितों के टकराव का केस किया था जिसमें उन्होंने एक स्पोर्टस पीआर एजेंसी में विराट के निदेशक होने का दावा किया था। भारतीय कप्तान होने के नाते उन पर इसके तहत हितों के टकराव का मुद्दा बनता है और फिलहाल बीसीसीआई लोकपाल डी के जैन इस मामले की जांच कर रहे हैं।

और पढ़ें: ENG vs WI: ICC का नियम तोड़ने के जुर्म में जोफ्रा आर्चर पर लगा भारी जुर्माना

संजीव गुप्ता ने आजीवन सदस्यता से दिया इस्तीफा

संजीव गुप्ता ने आजीवन सदस्यता से दिया इस्तीफा

संजीव गुप्ता के एक करीबी सूत्र से मिली जानकारी के अनुसार उन्होंने मध्य प्रदेश क्रिकेट एसोशिएशन (एमपीसीए) की आजीवन सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। सूत्र ने इस बारे में बात करते हुए कहा कि संजीव गुप्ता ने निजी तौर पर देश के टॉप खिलाड़ियों पर हितों के टकराव की शिकायत की थी, इसमें किसी भी तरह से एमपीसीए का कोई लेना देना नहीं है।

उल्लेखनीय है कि संजीव गुप्ता ने विराट कोहली से पहले सचिन तेंदुलकर, वीवीएस लक्ष्मण और सौरव गांगुली के खिलाफ भी हितों के टकराव की शिकायत की थी जब यह सब क्रिकेट सलाहकार समिति के सदस्य थे। समिति भंग होने के बाद उनकी शिकायत भी बेमानी हो गई।

विराट कोहली के खिलाफ की थी शिकायत

विराट कोहली के खिलाफ की थी शिकायत

गौरतलब है कि संजीव गुप्ता ने हाल ही में विराट कोहली पर हितों के टकराव का आरोप लगाया था। इसको लेकर उन्होंने बीसीसीआई लोकपाल डीके जैन को एक मेल भी किया था। एक अंग्रेजी अखबार टाइम्‍स ऑफ इंडिया के अनुसार संजीव गुप्ता ने बीसीसीआई (BCCI) को विराट कोहली के खिलाफ मेल की जिसमें उन्होंने भारतीय कप्‍तान के व्‍यापारिक उपक्रमों के बारे में बात की और कहा कि यह लोढ़ा समिति की सिफारिशों का उल्‍लंघन हैं।

उन्होंने अपनी शिकायत में दावा किया कि विराट कोहली एक ही समय पर दो पदों पर काबिज हैं, जो सुप्रीम कोर्ट द्वारा अनुमोदित बीसीसीआई के नियम 38 (4) का उल्‍लघंन हैं, जिसके चलते कोहली को एक पद छोड़ना होगा। उनके दो पद में एक खिलाड़ी और दूसरा संविदात्‍मक इकाई है।

गांगुली के खिलाफ भी कर चुके हैं शिकायत

गांगुली के खिलाफ भी कर चुके हैं शिकायत

संजीव गुप्‍ता ने अपनी शिकायत में नैतिक अधिकारी से अनुरोध करते हुए कहा कि वो भारतीय कप्तान विराट कोहली को अपने एक पद को त्‍यागने का आदेश दें, जिससे बीसीसीआई के संविधान की नियम संख्‍या 38 (4) का पालन हो सके।

आपको बता दें कि संजीव गुप्ता ने इससे पहले बीसीसीआई अध्‍यक्ष सौरव गांगुली के खिलाफ भी हितों के टकराव की शिकायत की थी। सौरव गांगुली के मामले में संजीव गुप्ता ने उनके इंस्टाग्राम पर शेयर की गई उस तस्वीर का हवाला दिया था जिसके कैप्शन में गांगुली ने खुद को जेएसडब्ल्यू सीमेंट का ब्रांड एंबेसडर बताया। उल्लेखनीय है कि जेएसडब्ल्यू स्पोर्ट्स आईपीएल की टीम दिल्ली कैपिटल्स का मालिकाना हक रखता है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Saturday, July 18, 2020, 23:10 [IST]
Other articles published on Jul 18, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X