UEFA Champions League 2020: 7 साल बाद बायर्न म्यूनिख जीता खिताब, छठी बार बना चैम्पियन

नई दिल्ली। दुनिया भर में फैली महामारी कोरोना वायरस के चलते काफी लंबे समय तक निलंबित हुई यूईएफए चैम्पियंस लीग का फाइनल मैच रविवार को खेला गया। पहली बार 425 दिनों तक चले इस टूर्नामेंट का फाइनल मैच बायर्न म्यूनिख और पेरिस सेंट जर्मेन के बीच खेला गया जिसमें बायर्न म्यूनिख की टीम ने किंग्सली कोमान के हेडर की बदौलत पीएसजी की टीम को 1-0 से हराकर चैम्पियनशिप खिताब पर कब्जा जमाया।

'धोनी ने जमकर मचाई तबाही, जो भी रास्ते में आया उसे किया बर्बाद', संन्यास को लेकर बोले माइकल होल्डिंग

दुनिया के सबसे महंगे फुटबॉलर नेमार का जादू इस मैच में देखने को नहीं मिल सका और उन्होंने पीएसजी के लिये दो बार गोल करने का मौका गंवा दिया जिसकी बदौलत अंत में पीएसजी की टीम हार गई।

ENG vs AUS: इंग्लैंड दौरे पर पहुंची ऑस्ट्रेलियाई टीम, स्टीव स्मिथ को खल रही इस बात की कमी

छठी बार बायर्न म्यूनिख ने जीता खिताब

छठी बार बायर्न म्यूनिख ने जीता खिताब

उल्लेखनीय है कि इस जीत के साथ ही बायर्न म्यूनिख की टीम ने अपना छठा चैम्पियंस लीग का खिताब हासिल किया है। वहीं पेरिस सेंट जर्मेन (पीएसजी) की टीम ने पहली बार सेमीफाइनल के श्राप को तोड़कर फाइनल तक का सफर तय किया था। इस लीग का फाइनल मैच पहले मई के महीने में इस्तांबुल में खेला जाना था, लेकिन कोरोना वायरस के चलते बाद में इसकी मेजबानी लिस्बन को दे दी गई।

पहली बार बिना फैन्स के बिना फाइनल

पहली बार बिना फैन्स के बिना फाइनल

फुटबॉल के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि चैम्पियंस लीग के बड़े खिताबी फाइनल का आयोजन बिना फैन्स की मौजूदगी में किया गया। फाइनल से पहले स्टेडियम में जाने वाले सभी खिलाड़ियों और सपोर्टिंग स्टाफ की कोविड-19 जांच की गई। इस दौरान मैदान में कुछ सौ लोग ही मौजूद रहे। इससे पहले कभी भी इस यूरोपीय चैंपियनशिप के मुकाबलों को खाली स्टेडियम में नहीं खेला गया था।

पीएसजी ने खूब किया है खर्च

पीएसजी ने खूब किया है खर्च

पीएसजी के साथ आठ साल से जुड़े मार्को वेर्राटी ने कहा, ‘इस क्लब के इतिहास और फुटबॉलर के तौर पर यह हमारी जिंदगी के सबसे अहम 90 मिनट होंगे।'

गौरतलब है कि पीएसजी की टीम ने इस खिताब को जीतने के सपने को पूरा करने के लिए टीम में शामिल किये गये खिलाड़ियों पर भारी भरकम खर्च किया था जिसमें उसने ब्राजील के फुटबॉलर नेमार को भारी भरकम रकम खर्च करके अपने क्लब में शामिल करना शामिल था। बायर्न की टीम 2013 में चैंपियन बनने के बाद चार बार सेमीफाइनल से आगे नहीं बढ़ सकी थी।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Monday, August 24, 2020, 16:27 [IST]
Other articles published on Aug 24, 2020
+ अधिक
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X