हार के बावजूद कायम है विनेश फोगाट के पदक जीतने की उम्मीद, मिल सकती है ओलिम्पिक की टिकट, जानें कैसे

नई दिल्ली। दुनिया भर के पहलवानों के लिए जारी विश्व कुश्ती चैम्पियनशिप में विनेश फोगाट की हार से भारत के पदक और ओलिम्पिक में पहुंचने की उम्मीदों को बड़ा झटका जरूर लगा है लेकिन घबराने की बात नहीं है क्योंकि अभी भी विनेश फोगाट थोड़ा किस्मत और अपनी ताकत के सहारे भारत के इस सपने को साकार कर सकती हैं। एशियाई खेलों में भारत के लिए गोल्ड मेडल जीतने वाली विनेश फोगाट को विश्व कुश्ती चैम्पियनशिप के प्री-क्वार्टर फाइनल मुकाबले में दो बार की ओलिम्पिक चैंपियन मायू मुकाइदा के हाथों हार का सामना करना पड़ा। जापान की मायू मुकाइदा ने विनेश फोगाट के खिलाफ 7-0 से जीत दर्ज की और क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। हालांकि, इस हार के बावजूद विनेश के कांस्य पदक जीतने और 2020 टोक्यो ओलम्पिक में पहुंचने की उम्मीदें बराकरार हैं।

अगर जापान की मायू मुकाइदा फाइनल तक का सफर तय करने में कामयाब हो जाती हैं तो विनेश फोगाट को रेपपचेज में जगह मिल जाएगी और उनके पास कम से कम कांस्य पदक जीतने का मौका होगा। हालांकि विनेश फोगाट ने टूर्नामेंट की शुरुआत जीत के साथ की थी।

World Wrestling Championship: खत्म हुई भारत को गोल्ड की आस, दूसरे दौर में हारी विनेश फोगाट

महिलाओं के 53 किग्रा भार वर्ग में विनेश फोगाट ने पहले मुकाबले में रियो ओलम्पिक की पदक विजेता स्वीडन की सोफिया मैटसन को 13-0 के बड़े अंतर से शिकस्त दी थी। मैटसन ने 2016 में रियो में हुए ओलम्पिक खेलों में कांस्य पदक हासिल किया था। मैच रेफरी ने टेक्निकल सुपरियोरिटी के आधार पर 25 वर्षीय विनेश फोगाट को विजेता घोषित किया था।

विनेश फोगाट भारत के लिए पहले 50 किग्रा वर्ग में मुकाबला करती थी लेकिन अब वह भार वर्ग को बढ़ाते हुए 53 किग्रा भार वर्ग में मुकाबला करती हैं। विनेश फोगाट ने यासर डागु, पोलैंड ओपन और स्पेन ओपन में भी भारत के लिए स्वर्ण पदक जीते हैं।

भारत के अन्य पहलवान नवीन को भी हार का सामना करना पड़ा। पुरुषों के 130 किग्रा ग्रेको-रोमन रेपचेज में नवीन को एस्टोनिया के हिके नाबी ने 9-0 से पराजित किया। इस हार के साथ ही भारतीय खिलाड़ी के ओलम्पिक की टिकट पाने का सपना भी टूट गया।

ATP Rankings: करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग पर पहुंचे सुमित नागल, लगाई 16 पायदान की छलांग

सीमा को महिलाओं के 50 किग्रा वर्ग के क्वार्टर फाइनल में ओलम्पिक रजत पदक विजेता अजरबाइजान की मारिया स्टादनिक के खिलाफ हार झेलनी पड़ी। हालांकि, सीमा के रेपचेज में पहुंचने की उम्मीद भी जिन्दा है। इसके अलावा, ललिता शेरावत को 55 किग्रा और कोमल भागवाल को 72 किग्रा वर्ग के क्वार्टर फाइनल में मात मिली।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Wednesday, September 18, 2019, 10:02 [IST]
Other articles published on Sep 18, 2019
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X