BCCI में नए CEO की तलाश, शीर्ष परिषद की बैठक में शुरू हो सकती है नियुक्ति प्रक्रिया

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) द्वारा 17 जुलाई को अपनी एपेक्स काउंसिल की बैठक में एक नए सीईओ की नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू करने की संभावना है। राहुल जौहरी के द्वारा खाली किया गया यह पद इस सप्ताह के शुरू में बोर्ड द्वारा उनके इस्तीफे को स्वीकार करने के बाद खाली है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा अनुमोदित बीसीसीआई के नए संविधान के अनुसार, सीईओ होना अनिवार्य है।

संविधान के नियम 23 के अनुसार, सीईओ को एपेक्स काउंसिल द्वारा नियुक्त किया जाना है। यह पता चला है कि "कर्मचारियों की नियुक्ति" 17 जुलाई की बैठक के एजेंडे में से एक है।

जब थम गई सांसें, वर्ल्ड कप में हुआ ODI का महानतम मैच, आज ही के दिन इंग्लैंड बना चैम्पियनजब थम गई सांसें, वर्ल्ड कप में हुआ ODI का महानतम मैच, आज ही के दिन इंग्लैंड बना चैम्पियन

उस दिशा में पहला कदम सीईओ के पद के लिए विज्ञापन है, जिसके बाद उम्मीदवारों को शॉर्टलिस्ट किया जाएगा। देश में स्थिति को देखते हुए, उम्मीदवार का चयन करने से पहले साक्षात्कार ऑनलाइन आयोजित किया जा सकता है।

पिछले साल नवंबर में संतोष रंगनेकर के इस्तीफे के बाद सीईओ के अलावा बीसीसीआई सीएफओ के भी बिना है। राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में एक सीओओ था। दिसंबर में टोफान घोष द्वारा खाली किए जाने के बाद वह पद खाली है। यह देखा जाना बाकी है कि बीसीसीआई इन दो पदों के लिए नए चेहरों को नियुक्त करता है या केवल एक सीईओ के लिए विज्ञापन करता है।

बीसीसीआई में सीईओ एक महत्वपूर्ण पद है, जो कई विभागों को संभालने की जिम्मेदारी के साथ आता है। सीईओ के काम को समझाने के लिए आपको बीसीसीआई के संविधान के छोटे भाग में लेकर चलते हैं।

BCCI संविधान के नियम 20 (1) में कहा गया है: "संचालन, तकनीकी, मानव संसाधन, वित्त और मीडिया सहित गैर-क्रिकेटिंग मामलों के डे टू डे प्रबंधन को शीर्ष परिषद की देखरेख में सीईओ द्वारा संचालित किया जाएगा साथ ही नियम 24 में निर्धारित स्टेंडिंग समिति की सलाह भी इसमें ली जाएगी। "

संविधान यह भी निर्दिष्ट करता है कि सीईओ को "कम से कम 100 करोड़ रुपये के टर्नओवर वाली कंपनी के सीईओ / एमडी के रूप में कम से कम पांच साल के प्रबंधन के अनुभव के साथ प्रबंधन पेशेवर होना चाहिए।"

सीईओ को "वित्त, तकनीकी, बुनियादी ढाँचा, कानून, मीडिया और मानव संसाधन" के मामले में अधिक से अधिक छह प्रबंधकों की एक टीम द्वारा सहायता प्रदान की जा सकती है।

सीईओ की नौकरी काफी आकर्षक है, जौहरी की नौकरी 2016 में लगभग 5.5 करोड़ रुपये के वार्षिक वेतन पर शुरू हुई थी। वेतन पैकेज भी बीसीसीआई द्वारा अर्जित आय से जुड़ा हुआ है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Read more about: bcci बीसीसीआई
Story first published: Tuesday, July 14, 2020, 9:54 [IST]
Other articles published on Jul 14, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X