बड़ी खबर : BCCI चाहता है कि कोहली ODI कप्तानी छोड़ दे, ये है बड़ा कारण

नई दिल्ली। टी20 विश्व कप 2021 में भारत का अभियान पूरा हो चुका है और एक नए युग की शुरुआत होने वाली है। नए युग की शुरूआत ऐसे कि कोहली अब टी20आई क्रिकेट की कप्तानी छोड़ चुके हैं। अब देखना होगा कि उनका यह कदम राष्ट्रीय टीम को कैसे प्रभावित करता है। टूर्नामेंट से पहले कोहली ने घोषणा की थी कि वह टूर्नामेंट के बाद भारत के T20I कप्तान के रूप में पद छोड़ देंगे। खबर थी कि कोहली अन्य दो प्रारूपों में कप्तानी करना जारी रखेंगे, लेकिन अब जो खबर आ रही है, उसके मुताबिक भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) चाहता है कि वह वनडे कप्तानी भी छोड़ दें। भारतीय क्रिकेट बोर्ड जाहिर तौर पर चाहता है कि कोहली कप्तानी का बोझ उतार दें और आगामी सीरीज में अपने पुराने बल्लेबाजी फॉर्म में लौट आएं।

यह भी पढ़ें- अभी तक संन्यास नहीं लिया इन 2 बड़े भारतीय क्रिकेटरों ने, ढूंढ चुके हैं दूसरा काम

ये है कारण

ये है कारण

एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार, "बोर्ड सीमित ओवरों के क्रिकेट में कोहली को कप्तानी के बोझ से मुक्त करना चाहता है ताकि वह अपनी बल्लेबाजी पर ध्यान केंद्रित कर सके और अपने दबदबे में वापसी कर सके। टीम इंडिया की वनडे कप्तानी में बदलाव दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ द्विपक्षीय सीरीज के रूप में हो सकता है, जो 11 जनवरी, 2022 से शुरू हो रही है। रोहित शर्मा के 50 ओवर के प्रारूप में भी कप्तानी संभालने की उम्मीद है, केएल राहुल टीम के उप-कप्तान होंगे।''

रोहित किए गए हैं टी20 क्रिकेट के कप्तान घोषित

रोहित किए गए हैं टी20 क्रिकेट के कप्तान घोषित

भारत अपने आगामी असाइनमेंट में तीन T20I और दो टेस्ट मैचों के लिए न्यूजीलैंड की मेजबानी करेगा। जहां कोहली को सीरीज के लिए आराम दिया गया है, वहीं भारत के नए T20I कप्तान रोहित शर्मा घोषित किए गए हैं। कोहली कथित तौर पर पहले टेस्ट मैच में भी नहीं खेलेंगे, लेकिन अंतिम मैच के लिए बताैर कप्तान वापसी करेंगे। रोहित पूरी टेस्ट सीरीज के लिए आराम करेंगे। वहीं पहले टेस्ट में अजिंक्य रहाणे टीम की कप्तानी करेंगे। रहाणे इस साल सबसे लंबे प्रारूप में रनों से कम रहे हैं। इसलिए, यह देखना दिलचस्प होगा कि वह कोहली और रोहित की अनुपस्थिति में भारतीय टीम कीवी टीम से कैसे निपटती है।

जल्द लेना होगा ODI कप्तानी पर फैसला

जल्द लेना होगा ODI कप्तानी पर फैसला

टीम इंडिया तीन टेस्ट, तीन वनडे और चार टी20आई मैचों की सीरीज के लिए दक्षिण अफ्रीका का दौरा करने के लिए तैयार है। इसलिए, बोर्ड को दाैरे से पहले वनडे कप्तानी पर फैसला करना होगा। जब भी विराट को आराम दिया गया, रोहित ने कप्तानी की भूमिका में अच्छा प्रदर्शन किया। इसलिए, चयनकर्ता उन्हें सफेद गेंद वाले क्रिकेट में कप्तान के रूप में संभालने पर विचार कर सकते हैं।

गाैर हो कि कोहली तीनों प्रारूपों में कप्तानी की जिम्मेदारी संभालने के कारण अधिक बोझ नहीं झेल पा रहे थे। साल 2019 से उनके बल्ले से कोई अंतरराष्ट्रीय शतक भी नहीं निकला है। नवंबर 2019 में बांग्लादेश के खिलाफ कोलकाता में खेले गए डे-नाइट टेस्ट मैच में शतक लगाया था। तब से अब तक कोहली कुल 41 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके हैं, जिसमें 8 टेस्ट, 15 वनडे और 18 टी20 मैच शामिल हैं। उन्होंने इन सभी मैचों में 42.57 की औसत से 17 अर्धशतक लगाकर 1703 रन बनाए, लेकिन एक भी शतक नहीं बना पाए। अब हर कोई चाहता है कि कोहली पुराने अंदाज में वापस लाैटें।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Thursday, November 11, 2021, 21:42 [IST]
Other articles published on Nov 11, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X