स्पॉट फिक्सिंगः यहां हिंदी में पढ़िए बुकी और पत्रकार के बीच की पूरी बातचीत

Posted By:
Complete transcript from investigation into Ashes match-fixing

लंदन। क्रिकेट जगत में एक बार फिर से स्पॉट फिक्सिंग के एक मामले ने सनसनी मचा दी है। इस बार ऐतिहासिक एशेज सीरीजी फिक्सिंग के घेरे में है। एशेज पर फिक्सिंग के आरोप के बाद आईसीसी ने इसकी जांच की शुरुआत कर दी है। आईसीसी ने फिक्सिंग के आरोपों को काफी गंभीर बताया है। वहीं क्रिकेट जगत की कई बड़ी हस्तियों ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए अपना गुस्सा जाहिर किया है।

क्या है मामला?
इंग्लैंड के बड़े अखबर द सन ने यह मामला उजागर किया। द सन की रिपोर्ट के अनुसार भारत से दो लोगों ने सट्टेबाजी के लिए 140000 यूरो (12089936 रुपये) की मांग की थी। द सन ने कहा है कि उसके पास ऐसे मैच फिक्सर आए जो पैसे लेकर स्पॉट फिक्सिंग कर सकते थे। अखबरा के मुताबिक उसके पास 2 भारतीय बुकीज आए थे जो एशेज सीरीज के तीसरे टेस्ट को फिक्स कराने की बात कर रहे थे। इनमें से एक भारतीय सट्टेबाज का नाम 'मिस्टर बिग' है।

यहां पढ़िए बुकीज और रिपोर्टर की बातचीत की हिंदी ट्रांसक्रिप्ट
बुकीज के नाम
- सोबर्स जोबान और प्रियांक सक्सेना

(भारतीय फिक्सर प्रियांक सक्सेना ने दावा किया कि वह ऑस्ट्रेलिया बिग बैश और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) जैसी टी20 लीग को भी फिक्स कर सकते हैं।)

सोबर्स जॉबान (बुकी) रिपोर्टर से: प्रियंका भाई ने एशेज के काम के बारे में जो कहा, क्या आप उसमें रुचि रखते हैं, वह उस आदमी, साइलेंट मैन, ऑस्ट्रेलियाई आदमी से बात करेंगे और वह ऑस्ट्रेलिया भी जाएंगे अगर आप उसके साथ जाना चाहते हैं तो ठीक है, लेकिन आप मीटिंग में नहीं बैठेंगे, और जो भी पैसे वह उसके लिए लगाएगा मुझे नहीं पता कि वह क्या होगा हो सकता है वो स्क्रिप्ट या सेशन दे दे। जीत/ हार जो कुछ भी हो- उस समय वह कितना पैसा चाहता है, ये वही बताएगा अभी नहीं बता सकता... अगर मैं आपको बताता हूं कि वह एक करोड़ (11,600 यूरो) चाहता है, क्या पता है वह पांच करोड़ रुपये (580,000 यूरो) चाहता हो।

पत्रकार- तो जो भी उसने कहा वह कन्फर्म हो जाएगा?

प्रियंका सक्सेना: 1000 प्रतिशत

(सन के मुताबित दो कॉल रिकॉर्ड हो जाने के बाद उसने तीसरे एशेज टेस्ट पर ठीक जानकारी बेचने की पेशकश की लेकिन अखबार ने कानूनी कारणों से इन डिटेल्स को नहीं बताया है।)

सोबर्स जोबान (बुकी) पत्रकार से- मैं आपको एशेज, पर्थ टेस्ट में काम दे दूँगा।

पत्रकार- तो हमें लगता है कि हम तीसरे टेस्ट में कुछ हासिल कर सकते हैं?

सोबर्स जोबान (बुकी): हाँ, एशेज में सेशन में।

पत्रकार- पर्थ में तीसरे टेस्ट में?

सोबर्स जोबान (बुकी)- हाँ, तीसरा टेस्ट - सेशन

पत्रकार- क्या आप जानते हैं कि यह कब होगा, क्या यह पहले ही दिन होगा?

सोबर्स जोबान (बुकी): शायद पहले दिन या दूसरे दिन।

सोबर्स जोबान (बुकी): हाँ, चलता है, अगर एक सत्र होने जा रहा है, आदमी 60 लाख रुपये, छह, शून्य (£ 69,000) ले जाएगा।

पत्रकार: ओके, 60 लाख रुपये

सोबर्स जोबान (बुकी): हाँ, 60. शायद एक दिन, दो दिन, तीन दिन। हमारे पास दो सेशन का काम है, और एक सत्र की लागत 60 (£ 69,000) है।

पत्रकार: ठीक है ठीक है।

सोबर्स जोबान (बुकी): दो सत्र 120 (£138,000)

पत्रकार: तो क्या यह जानकारी सही है?

सोबर्स जोबान (बुकी): हाँ, बिल्कुल सही जानकारी है। मुंबई में एक और चैनल है जो काम कर रहा है। आपको भारत में एडवांस पैसे देने होंगे मैं आपको सटीक आंकड़े बताऊंगा, मेरा मतलब है 10 ओवर, 35

पत्रकार: तो टॉस के बाद गुरुवार को एशेज में ये काम होगा, जब हम काम करना शुरू कर देंगे तब।

सोबर्स जोबान (बुकी): टॉस के बाद, निश्चित रूप से, टॉस के बाद।

पत्रकार: जब सेशन...

सोबर्स जोबान (बुकी): हाँ, हाँ, हाँ शायद उसी दिन, शायद पहले या दूसरे दिन

(इसके बाद जॉबन ने बिग बैश 20/20 लीग के बारे में जानकारी प्रदान करने में मदद कर रहे एक पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी और प्रशासक का दावा किया है- जिनका अखबार ने कानूनी कारणों के चलते नाम नहीं दिया है)

सोबर्स जोबान (बुकी): तो आप क्या चाहते हैं? आप बिग बैश में कुछ जादू देखना चाहते हैं?

सोबर्स जोबान (बुकी): बिग बैश में हम कुछ मैचों में जीत और हार कर सकते हैं- हमारे पास कुछ खबर है, हमें कुछ समाचार की पुष्टि हुई, XXXX के माध्यम से और एक आदमी भी है।

पत्रकार: XXXX के माध्यम से?

सोबर्स जोबान (बुकी): (सिर हिलाते हुए) XXXX के माध्यम से और इसमें एक और भी व्यक्ति शामिल है। कन्फर्म न्यूज है हम बिग बैश में कर सकते हैं।

पत्रकार: क्या वह भी बिग बैश में खेलेंगे?

सोबर्स जोबान (बुकी): (सिर हिलाते हुए) XXXX इसमें भी शामिल है। XXXX को ऑस्ट्रेलिया में किसी व्यक्ति से खबर मिलती है। एक ऐसा व्यक्ति जो खुद भी शामिल है। वह बहुत कुछ कर रहा है, वह कई लोगों, सट्टेबाजों और सभी के साथ जुड़ा हुआ है, ऑस्ट्रेलिया का ही है। बिग बैश में हमें चार से पांच मैचों की पुष्टि की जाएगी।

सोबर्स जोबान (बुकी): स्क्रिप्ट, मैं आपको 3:45 बजे बताऊंगा है अब हमारे पास मैच 6 बजे से है तब। अब मैं आपको स्क्रिप्ट दे रहा हूँ- 6 ओवरों में 32 रन, 10 ओवरों में 60 से 60 या 62 रन। 15 ओवरों में 70 या 80 रन। अंतिम 20 ओवर, फाइनल स्कोर 152। इसे स्क्रिप्ट कहा जाता है।

पत्रकार: यह कितना सही है आखिरी रन?

सोबर्स जोबान (बुकी): हाँ, 52, 53 नहीं, 51-52 यह ठीक है- 53 नहीं। दूसरी पारी में 6 ओवर 45 रन- नॉट आउट। जो भी आप चाहते हैं। आप 152 रनों का आप पीछा कर रहे हैं। 10 ओवर, 90 - एक आउट। 12, 13,1 4 ओवर - इन तीन ओवरों में 4 विकेट गिरेंगे।

पत्रकार: आपने उसे स्क्रिप्ट में लिखा है?

सोबर्स जोबान (बुकी): हाँ, जो भी आप चाहते हैं, यह उस व्यक्ति के बारे में है जो आप के साथ जुड़ा हुआ है।

(यहां जोबान का दावा है कि उसने खिलाड़ियों को सूक्ष्म संकेतों का उपयोग करने के लिए व्यवस्थित किया है ताकि फिक्सिंग को जगह मिल सके)

सोबर्स जोबान (बुकी): सभी नए और सभी पुराने सिग्नल हैं। पुराने सिग्नल और नए सिग्नल। आपके पास एक लाल टी-शर्ट है और मैं आपको एक लाल घड़ी देता हूं, आप लाल घड़ी पहनते हैं क्योंकि सभी टी-शर्ट फुल और हॉफ नहीं होती है। आईपीएल में पांच टी-शर्ट पहला साइज होगा (फुल स्लीव)। पांच टी शर्ट टीम को दी जाएंगी जो हॉफ सिलीव (आस्तीन) की होंगी। वह कोई सिग्नल नहीं देंगे, लेकिन गेंदबाजी फुल टी-शर्ट के साथ- छठे, 10वें ओवर, 15वें, 20वें ओवर- ठीक है। ये सिग्नल होंगे।

पत्रकार: आपको कितनी देर तक जरूरत है? क्या बाजार को प्रभावित करने में सक्षम होने में कुछ मिनट लगते हैं?

सोबर्स जोबान (बुकी: हमारे पास दो से तीन मिनट हैं, फोन लाइन जुड़ी है और आप बस दांव पर कॉल करते हैं, हाँ, हाँ, नहीं, नहीं, हाँ, हाँ, नहीं, नहीं

पत्रकार: तो यह तीन मिनट है?

सोबर्स जोबान (बुकी: हाँ। उस पल में आप आस पास नहीं बैठेंगे, आप दो या तीन या चार में बैठेंगे और वे एक पेड़ की तरह जुड़े होंगे।

सोबर्स जोबान (बुकी: मैंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाड़ियों, ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों, पाकिस्तान के खिलाड़ियों के साथ बहुत सारे संपर्क बनाए हैं, सभी चीजों को की गारंटी है कि आप पैसे की गारंटी दें और आप किसी के साथ बात नहीं करेंगे।

सोबर्स जोबान (बुकी: हां, आईपीएल हर किसी को बहुत अच्छा मौका दे रहा है, अगर आप आईपीएल में (निवेश करना चाहते हैं) जो भी आप करना चाहते हैं खिलाड़ियों के अपने सट्टेबाजों और एजेंट हैं। यह आईपीएल फिक्सिंग के बारे में पूरी दुनिया को सिखाता है।

पत्रकार: फिक्सिंग के बारे में?

सोबर्स जोबान (बुकी: पैसे के बारे में

नोटः- फोटो और स्टोरी को द सन से लिया गया है।

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Thursday, December 14, 2017, 13:39 [IST]
Other articles published on Dec 14, 2017

MyKhel से प्राप्त करें ब्रेकिंग न्यूज अलर्ट