साल 2017: भारत की दो बेटियों ने रचा दिया था इतिहास, लेकिन नहीं थी खुद को खबर

Posted By:
flashback 2017: Deepti Sharma and Punam Raut put on the biggest partnership in Women's ODI history

नई दिल्ली। महिला क्रिकेट के लिहाज से साल 2017 भारत के लिए काफी शानदार रहा। भले ही टीम इंडिया वर्ल्डकप नहीं जीत पाई लेकिन देश कि बेटियों ने अपने शानदार प्रदर्शन से करोड़ों भारतवासियों का दिल जीत लिया। सासें रोक दोने वाले फाइनल में इंग्लैंड के हाथों भारत 9 रनों से हार गया। लेकिन टीम इंडिया ने अपने प्रदर्शन से सभी को चौंका दिया था। कुल मिलाकर साल 2017 बेटियों के लिए काफी शानदार रहा। कई खिलाड़ियों ने बड़े-बड़े रिकॉर्ड बनाए लेकिन दो खिलाड़ियों ने इतिहास रचा था।

इन दोनों ने महिला क्रिकेट का इतिहास लिखा था

इन दोनों ने महिला क्रिकेट का इतिहास लिखा था

हम बात कर रहे हैं दीप्ति शर्मा और पूनम राउत की, इन दोनों ने महिला क्रिकेट का इतिहास लिखा था। दोनों ने आयरलैंड के खिलाफ 320 रनों की साझेदारी निभाई थी। ये महिला क्रिकेट के इतिहास की सबसे बड़ी साझेदारी थी। दीप्ति शर्मा ने 188 रनों की रिकॉर्ड पारी खेली थी। वहीं पूनम राउत 109 रन बनाकर रिटायर्ड हर्ट हुईं थीं।

किसी भी विकेट की सबसे बड़ी साझेदारी

किसी भी विकेट की सबसे बड़ी साझेदारी

ये महिला एकदिवसीय में न सिर्फ पहले विकेट की, बल्कि किसी भी विकेट की सबसे बड़ी साझेदारी है। इससे पहले महिला क्रिकेट में कभी भी 300 रनों की साझेदारी नहीं निभाई गई थी। इसके अलावा दीप्ति शर्मा ने 188 रनों की पारी खेली, जो भारत की तरफ से सबसे बड़ी और विश्व क्रिकेट में दूसरी सबसे बड़ी पारी है। उनसे ज्यादा रन एक पारी में सिर्फ ऑस्ट्रेलिया की बेलिंडा क्लार्क (229) ने डेनमार्क के विरुद्ध 1997 विश्व कप में बनाया था।

भारत ने रिकॉर्ड 249 रनों जीता मुकाबला था

भारत ने रिकॉर्ड 249 रनों जीता मुकाबला था

इन दोनों खिलाड़ियों के शतकों की बदौलत भारतीय टीम ने 358/2 का विशाल स्कोर बनाया था। ये एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय में भारतीय टीम का सबसे बड़ा स्कोर है और पहली बार टीम ने 300 का आंकड़ा पार किया था। इससे पहले रिकॉर्ड 298/2 का था, जो टीम ने 2004 में वेस्टइंडीज के खिलाफ बनाया था। भारत ने रिकॉर्ड 249 रनों जीता मुकाबला था।

इतिहास रचने के बाद हुई थी खुद को खबर

इतिहास रचने के बाद हुई थी खुद को खबर

दोनों खिलाड़ी महिला क्रिकेट के इतिहास का सबसे बड़ा रिकॉर्ड बना चुकी थीं लेकिन उन्हें भी इस बात की जानकारी नहीं थी। वेबसाइट 'ईएसपीएनक्रिकइन्फो डॉट कॉम' के अनुसार, मैच की समाप्ति के करीब दो घंटे बाद जब दोनों खिलाड़ियों ने भारतीय महिला टीम के वॉट्सएप ग्रुप पर आए बधाई संदेशों को देखा, तो उसके बाद उन्हें अपनी उपलब्धि की जानकारी मिली थी।

Story first published: Tuesday, December 19, 2017, 11:16 [IST]
Other articles published on Dec 19, 2017
Please Wait while comments are loading...