'उप-कप्तानी नहीं मिलने से दुखी नहीं हूं,' अश्विन ने दिया दिल जीतने वाला बयान

Ravichandran Ashwin : नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) ऑस्ट्रेलिया के सफल दौरे से अभी स्वदेश लौटी है। इस दौरे पर भारत ने ऑस्ट्रेलिया को चार मैचों की टेस्ट सीरीज (Test Series) में 2-1 से हराकर इतिहास रच दिया। इस टेस्ट सीरीज के दौरान, 3 भारतीय खिलाड़ी उप-कप्तान के ताैर पर काम करते दिखे थे। हालांकि, भारतीय टीम के अनुभवी खिलाड़ी आर अश्विन को इस पद के लिए नजरअंदाज कर दिया गया था। अब अश्विन ने इस पर टिप्पणी की है।

एडिलेड में गावस्कर टेस्ट श्रृंखला के पहले टेस्ट के बाद, भारत के नियमित कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) घर लौट आए। इसलिए शेष तीन मैचों में अजिंक्य रहाणे ने टीम का नेतृत्व किया। मेलबर्न में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच में चेतेश्वर पुजारा को उपकप्तान बनाया गया। लेकिन तीसरे टेस्ट से बल्लेबाज रोहित शर्मा की वापसी के साथ, पुजारा को हटा दिया गया और रोहित को टीम का उप-कप्तान बनाया गया। पहले मैच में रहाणे उप-कप्तान थे।

अपने अनुभव और कौशल के बावजूद, अश्विन को उप-कप्तान की जिम्मेदारी नहीं दी गई। इसके बाद अश्विन ने एक ऐसा बयान दिया जिसने सभी का दिल जीत लिया। उन्होंने कहा, "मैं निराश नहीं हूं कि मुझे टीम का उप-कप्तान बनने का मौका नहीं दिया गया। वहां जाने के बाद, मैंने अपनी योजना बनाई और मुझे अपनी जरूरत के अनुसार चीजें मिलीं। यदि आप टीम के साथी की मदद कर रहे हैं, तो यह नेतृत्व का एक रूप है। "

केएल राहुल और अथिया शेट्टी की बढ़ीं नजदीकियां, डिनर पार्टी की तस्वीरें वायरल

विराट और रहाणे की कप्तानी एक जैसी ही है

विराट और रहाणे के नेतृत्व पर आगे बोलते हुए, अश्विन ने कहा, "मैं किसी और के नेतृत्व के साथ उनकी तुलना करना पसंद नहीं करता। मेरी राय में, भारतीय खिलाड़ियों को ड्रेसिंग रूम में उनके सौहार्दपूर्ण रवैये से फायदा हुआ है; इससे हमें पिछले कुछ वर्षों में काफी सफलता मिली है। विराट स्वभाव से एक बातूनी व्यक्ति और एक शुरुआती मिक्सचर है। रहाणे विपरीत स्वभाव के व्यक्ति हैं। लेकिन उनकी नेतृत्व शैली लगभग समान है। "

बता दें कि अश्विन ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार मैचों की टेस्ट सीरीज में तीन मैच खेले हैं। उन्होंने इन मैचों की 6 पारियों में गेंदबाजी करते हुए 28.83 की औसत से 12 विकेट लिए हैं। इस बीच, ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज स्टीव स्मिथ को लगातार तीन बार बोल्ड किया गया। इसके साथ ही अश्विन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में दूसरे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं। युवा पेसर मोहम्मद सिराज 13 विकेट लेकर शीर्ष पर रहे।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

 

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Tuesday, January 26, 2021, 16:00 [IST]
Other articles published on Jan 26, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X