दो सप्ताह पहले हुआ था पेट का ऑपरेशन, दर्द में कराहते हुए इस कप्तान ने टीम को पहुंचाया वर्ल्ड कप में

Posted By:
I only had my operation two weeks ago, I still feel pain inside: Afghan captain Asghar Stanikzai

नई दिल्ली। अफगानिस्तान की टीम ने 2019 वर्ल्ड कप के लिए क्वालीफाई कर लिया है। शुक्रवार को खेले गए मुकाबले में अफगानिस्तान ने आयरलैंड को 5 विकेट से मात देकर 2019 के वर्ल्ड कप के लिए अपनी जगह पक्की कर ली है। अफगानिस्तान की तरफ से राशिद खान ने 40 रन देकर 3 विकेट लिए, जिसकी बदौलत अफगानिस्तान ने आयरलैंड को 7 विकेट पर 209 रन पर रोक दिया।

शुरु के लगातार तीनों मुकाबले हारने वाली अफगानिस्तान ने 210 रनों के लक्ष्य को 49.1 ओवर में हासिल कर लिया। उसके लिए मोहम्मद शहजाद ने सबसे अधिक 54 रनों की पारी खेली, जबकि गुलबदीन नैब ने 91 गेंदों में 45 रनों की महत्वपूर्ण पारी खेली। लेकिन सबसे ज्यादा खास पारी रही कप्तान असगर स्टैनिकजई की, असगर स्टैनिकजई ने सिर्फ 29 गेंदों में 4 चौके और 1 छक्का की मदद से नाबाद 39 रनों की पारी खेली।

लेकिन उनके लिए ये पारी आसान नहीं रही। दरअसल असगर का दो सप्ताह पहले ही अपेंडिक्स का ऑपरेशन हुआ था और उन्होंने अपने दर्द को भुलाते हुए मैच खेला। न केवल मैच खेला बल्कि टीम के अपनी तूफानी पारी के दम पर मैच भी जितवाया। असगर का कहना है कि जब भी टीम और उनके देश को उनकी जरूरत होगी वे वहां मौजूद रहेंगे।

मैच के बाद असगर ने स्वीकार किया कि वे 100 प्रतिशत फिट नहीं थे। उन्होंने कहा- "मैं अच्छी तरह से महसूस नहीं कर रहा था, 100% नहीं। मेरा दो सप्ताह पहले ही मेरा ऑपरेशन हुआ था। यहां तक कि मैं अभी भी अंदर दर्द महसूस करता हूं। खासकर जब मैं बड़े शॉट खेल रहा था तब मेरे लिए खुद पर और दर्द पर नियंत्रण करना बहुत कठिन था। लेकिन यह हम हैं, हम युवा हैं, हमें लड़ना होगा और हमारे देश के लिए त्याग करना होगा। और यही हमने किया।"

असगर ने आगे कहा कि "जब देश को मेरी जरूरत होगी मैं वहां रहूंगा। मैं दर्द या कुछ भी हो चाहें ऑपरेशन ही क्यों न हो, मैं उसे भूल जाऊंगा, और मुझे गर्व है कि मैंने यह किया। ये मेरे देश के लिए मेरा बहुत ही छोटा योगदान है।" असगर ने अपनी टीम की जीत को अफगानिस्तान के लोगों को समर्पित किया। उन्होंने कहा कि देश के लोग हमारे प्रदर्शन से काफी खुश होंगे।

असगर कहते हैं कि "हमारे पास पहले राउंड के बाद क्वालीफाई करने का 10% मौका भी नहीं था, लेकिन अफगानिस्तान के लोगों का समर्थन, अफगानिस्तान के लोगों की प्रार्थना से ये संभव हो पाया। हमें जो संदेश मिले, सोशल मीडिया पर सभी संदेश में यही था कि ये न सिर्फ हमारा बल्कि सभी अफगानिस्तान सपना था कि हम वर्ल्ड कप के लिए क्वालीफाई करें।"

यहां देखें मुकाबले का हाईलाइट-

यहां देखिए वो मूमेंट जिसमें अफगानिस्तान ने रचा इतिहास

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Saturday, March 24, 2018, 13:31 [IST]
Other articles published on Mar 24, 2018

MyKhel से प्राप्त करें ब्रेकिंग न्यूज अलर्ट