IND vs ENG: 'मैं गुस्से से कांप रहा हूं, IPL ना होता तो ये टेस्ट मैच जरूर खेला जाता'

मैनचेस्टर: यह सभी जानते हैं कि भारतीय खिलाड़ियों और बीसीसीआई के लिए आईपीएल सबसे ऊपर है। इस लीग में खेलने के बाद बाकी सब चीजें देखी जाती हैं। अब भारत इंग्लैंड में खेल रहा था लेकिन आईपीएल सिर पर है। आईपीएल भारत के लिए उतना ही जरूरी है जितना इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के लिए एशेज का जुनून। खैर एशेज प्रतिष्ठा और टेस्ट क्रिकेट की सबसे बड़ी प्रतिद्वंदता का मामला है। आईपीएल पैसा और ग्लैमर का खेल है, यह फटाफट क्रिकेट है जो फटाफट ही पैसा देता है। केवल भारत ही नहीं, दुनिया के कई क्रिकेटर आईपीएल के लिए मरते हैं।

अब भारतीय टीम ने मैनचेस्टर टेस्ट से पिंड छुड़ाने में सबकी भलाई समझी क्योंकि अगर ये मैच एक दो दिन लेट होता तो आईपीएल में देरी हो जानी थी। आईपीएल तो तय समय पर ही होना है, ऐसे में मैच से हट जाना बीसीसीआई को ज्यादा बढ़िया विकल्प लगा।

'ये खबर सुनकर मैं गुस्से से कांप रहा था'

'ये खबर सुनकर मैं गुस्से से कांप रहा था'

बीसीसीआई ने माफी-वाफी मांगकर इस प्रतिष्ठित सीरीज को नमस्ते कर दी है, जबकि भारत अब तक 4 मैचों में 2-1 की खुशनुमा लीड ले रहा था। ईसीबी की स्थिति बेचारा वाली थी, वह बीसीसीआई के सामने ज्यादा कुछ बोल नहीं सका। दोनों बोर्ड तगड़े दोस्त हैं और इनके बिजनेस हित करीब से एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं। ईसीबी ने दबी जुबान में टेस्ट मैच को कैंसिल करने की सहमित भरी है लेकिन इंग्लैंड की बार्मी आर्मी भारतीय क्रिकेट से खफा है।

इस पूरे मामले पर बार्मी आर्मी के प्रबंध निदेशक क्रिस मल्लार्ड गुस्से में हैं। उन्होंने कहा: "बिल्कुल गुस्सा हूं। मैं ओल्ड ट्रैफर्ड पहुंच ही रहा था कि सुबह 8 बजे के बाद यह खबर आई, उस पर मैं गुस्से से कांप रहा था।

उन्होंने कहा कि ऐसे टेस्ट मैच रद्द होने से बहुत लोगों को नुकसान होता है। कई लोगों के छोटे-छोटे बिजनेस भी इससे जुड़े होते हैं।

T20 world Cup 2021 के लिए श्रीलंका ने घोषित की अपनी शुरुआती टीम

'आईपीएल ना होता तो टेस्ट मैच जरूर खेला जाता'

'आईपीएल ना होता तो टेस्ट मैच जरूर खेला जाता'

उन्होंने आईपीएल को कोसा और कहा कि अगर यह लीग ना होने वाले होती तो बिना किसी शक के यह टेस्ट मैच खेला जाता। उन्होंने कहा कि भारतीय खिलाड़ियों ने आईपीएल कॉन्ट्रेक्ट को सुरक्षित रखने के लिए टेस्ट मैच से पल्ला झाड़ लिया।

उन्होंने क्रिकेट में भारत की पॉवर का जिक्र किया जिसके चलते भारतीय खिलाड़ियों ने ऐसा मनमाना फैसला लिया है और उनको ईसीबी पर गुस्सा है जिसने उनका फैसला यूं ही मान लिया। अब भारत से नुकसान की भरपाई की अपेक्षा की जा रही है।

इंग्लिश फैंस में गुस्से और मायूसी की लहर-

इंग्लिश फैंस में गुस्से और मायूसी की लहर-

इंग्लैंड और भारत के बीच पांचवें और अंतिम टेस्ट को बीसीसीआई और ईसीबी के आपसी निर्णय के कारण भारतीय खेमे में कोविड के डर के कारण रद्द करना पड़ा, क्योंकि सहायक फिजियो योगेश परमार ने पांचवें टेस्ट की पूर्व संध्या पर कोविड19 टेस्ट पॉजिटिव कराया था।

मुकाबले के अचानक कैंसिल होने से इंग्लैंड के एक समर्थक एलेक्स गैट सहित कई दर्शक और प्रशंसक निराश हो गए, जिन्होंने टॉकस्पोर्ट को बताया कि वह अपने दोस्तों के साथ होटल और यात्रा पर लगभग £ 2000 खर्च कर चुके हैं, और अब ये रिफंड भी नहीं होंगे।

गट ने कहा, "मैं पूरी तरह से हैरान हूं। मेरे साथ 18 लोग हैं जो पूछ रहे हैं अब क्या होगा क्योंकि मुझे नहीं लगता हमें होटल से रिफंड मिलने जा रहा है। होटल पहले से ही बुक है और इसके लिए भुगतान किया गया है। हमको यह सब भुगतना होगा।"

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Friday, September 10, 2021, 19:09 [IST]
Other articles published on Sep 10, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X