IND vs ENG: बुमराह, शमी, उमेश और ईशांत- इंग्लैंड को डराने वाला पेस अटैक

नई दिल्लीः वो दिन लद गए जब भारत में आकर विपक्षी टीम के लिए केवल स्पिनर ही खतरा होते थे। पिछले चार साल में भारत में 60 प्रतिशत विकेट तेज गेंदबाजों ने ही निपटाए हैं।

जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, उमेश यादव और ईशांत शर्मा ने भारतीय इतिहास का सबसे बेहतरीन पेस अटैक बनाया है। इंग्लैंड की टीम इस बात से बखूबी अवगत होगी जो चार मैचों की टेस्ट सीरीज से शुरुआत करेगी। पहला मुकाबला चेन्नई में होगा।

जसप्रीत बुमराह

जसप्रीत बुमराह

टेस्ट क्रिकेट में शुरुआत से पहले बुमराह ने मुंबई इंडियंस के लिए अपना नाम कमा लिया था और भारत के लिए सफेद गेंद सनसनी बनकर उभर चुके थे।

27 साल के बुमराह ने 17 टेस्ट मैचों में 21.59 की औसत से 79 विकेट लिए हैं और वे बहुत ही सटीक हैं। टेस्ट क्रिकेट में तेज गति से गेंद को दोनों और घुमाना उनकी खासियत है।

सुरेश रैना ने बीबीसी से बात करते हुए कहा- विराट कोहली जब भी मुश्किल में होते हैं वह बुमराह को गेंदबाजी देना चाहते हैं।

फिर से टेनिस कोर्ट पर दिखेगा रोजर फेडरर का जलवा, इस टूर्नामेंट से करेंगे वापसी

मोहम्मद शमी

मोहम्मद शमी

जब शमी की बात हो तो वह पिछले कुछ सालों से भारत के सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज हैं। 30 साल के गेंदबाज के पास अच्छा कंट्रोल है। वे गेंद को हवा में तैराते हैं और पिच से पटकते भी हैं।

शमी के बंगाल के टीम के साथी झुनझुनवाला ने बीबीसी से बात करते हुए बताया- वह अपने खाने और नींद से प्यार करते हैं। हम सभी उनकी क्षमता से परिचित हैं। उनकी रवैया एक समस्या था जिसके बारे में हम सोचते थे कि अगर वह ठीक हुआ तो एक दिन शमी भारत के लिए खेलेंगे।

आज शमी बिल्कुल अहलदा गेंदबाज हैं। उन्होंने 1 जनवरी 2017 से अब तक 28 टेस्ट मैचों में 23.92 की औसत से 104 विकेट लिए हैं जो बाकी तेज गेंदबाजों से ज्यादा हैं।

उमेश यादव

उमेश यादव

यादव 33 साल के हो चुके हैं और उनका काम अधिकतर मौकों पर शमी, ईशांत और बुमराह के चोटिल होने पर टीम में जगह भरने का रहा है। उनकी कदकाठी मजबूत है।

विदर्भ के लोकल फर्स्ट क्लास टीम कप्तान प्रीतम गांधी कहते हैं- उमेश के पास साफ सुथरा रन अप नहीं था लेकिन वह तेज थे। तब मुझे लगा कि उनके पास कुछ तो है।

सच यह है कि उमेश ये 1 जनवरी 2017 से अब तक विश्व क्रिकेट में दूसरा बेस्ट स्ट्राइक रेट निकालते हुए विकेट लिए हैं। उन्होंने 42 के स्ट्राइक रेट से बॉलिंग की है। उनसे आगे केवल कैगिसो रबाडा हैं जिन्होंने 41 के स्ट्राइक रेट से बॉलिंग की है।

ईशांत शर्मा-

ईशांत शर्मा-

ईशांत भारतीय पेस अटैक में सबसे ज्यादा अनुभवी हैं और वे 97 टेस्ट खेलकर 297 विकेट ले चुके हैं। वे 300 विकेट और 100 टेस्ट खेलने की उपलब्धि इंग्लैंड के खिलाफ हासिल कर लेंगे। यह दुर्लभ उपलब्धि भारतीय तेज गेंदबाजों में कपिल देव के सिवाए और किसी को नहीं मिली।

ईशांत के ससेक्स काउंटी कप्तान रहे बेन ब्राउन ने बीबीसी से बात करते हुए कहा- ईशांत मैदान के बाहर मजाकिया हैं लेकिन फील्ड में बहुत कट्टर प्रतिद्वंदी हैं।

ईशांत 32 साल के हैं और उन्होंने शुरुआ के 205 विकेट 37 के औसत से लिए थे लेकिन पिछले 92 विकेट उनको केवल 21.98 के औसत से मिले हैं।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

 

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Tuesday, February 2, 2021, 15:27 [IST]
Other articles published on Feb 2, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X