IND vs NZ: धोनी के खेल पर पत्रकार ने उठाए सवाल, कोहली ने दिया करारा जवाब

Posted By:

तिरुवनंतपुरम। आखिरकार विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया ने वो कर दिखाया जिसका इंतजार ना जाने कब से हो रहा था, भारत ने पहली बार न्यूजीलैंड को टी20 सीरीज में मात दी है। सीरीज जीतने के बाद जहां विराट कोहली ने जीत का सेहरा पूरी टीम के सिर बांधा, वहीं दूसरी ओर उन लोगों को आड़े हाथों लिया, जो न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टी 20 मैच हारने के बाद भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को कोस रहे थे। दरअसल जैसे ही विराट कोहली से एक पत्रकार ने धोनी के खेल और टीम की जगह को लेकर सवाल किए, वो भड़क गए और उन्होंने उसे आड़े हाथों लेते हुए करारा जवाब दिया। कोहली ने कहा कि मुझे समझ नहीं आता लोग सिर्फ उन पर (धोनी) पर उंगली क्यों उठा रहे हैं, अगर मैं तीन मैच में रन न बनाऊं, तो मेरे ऊपर कोई उंगली नहीं उठाएगा, क्योंकि मैं 35 साल का नहीं हूं, तो उनके साथ ऐसा क्यों? राजकोट में उस समय स्थिति ऐसी थी, कि अगर हार्दिक पंड्या बल्लेबाजी के लिए आते, तो वो भी रन नहीं बना सकते थे, किसी को भी धोनी पर सवाल उठाने का कोई हक नहीं है। धोनी पर निशाना साधना तो जैसे आजका फैशन बन गया है। कोहली की ये बातें उन लोगों के गाल पर करारा तमाचा हैं, जो कि कहते फिरते हैं विराट और धोनी में मनमुटाव चल रहा है।

IND vs NZ: धोनी के खेल पर पत्रकार ने उठाए सवाल, कोहली ने दिया करारा जवाब

टीम इंडिया की हार का ठीकरा सबसे ज्यादा पूर्व कैप्टन एमएस धोनी के सिर फूटा

गौरतलब है कि राजकोट टी20 में टीम इंडिया की हार का ठीकरा सबसे ज्यादा पूर्व कैप्टन एमएस धोनी के सिर फूटा था। मैच के बाद पूर्व क्रिकेटर वीवीएस लक्ष्मण और अजीत अगरकर ने कहा कि अब धोनी की जगह टीम में किसी यंगस्टर को देनी चाहिए। बैट्समैन के तौर पर टीम उन्हें मिस नहीं करेगी। लक्ष्मण ने तो यहां तक कह दिया कि धोनी टीम में किसी युवा खिलाड़ी की जगह छीन रहे हैं। जिसके बाद एक बार फिर से धोनी के संन्यास, उम्र और परफार्म को लेकर चर्चाएं शुरू हो गई थीं, जिन्हें करारा जवाब टीम इंडिया के पूर्व विस्फोटक खिलाड़ी वीरेंद्र सहवाग ने पहले दिया था और अब कप्तान कोहली ने दिया है।

Read Also:Democracy XI: जानिए धोनी के बारे में क्या सोचते हैं सचिन तेंदुलकर, सच जानकर हैरान रह जाएंगे आप

Story first published: Wednesday, November 8, 2017, 14:10 [IST]
Other articles published on Nov 8, 2017
Please Wait while comments are loading...