IND vs SL: कुलदीय यादव ने बताया कैसे वीडियो तकनीक ने उनकी दमदार वापसी में मदद की

नई दिल्ली: कुलदीप यादव के लिए, 2019 खुद को नए सिरे से पहचानने का साल था। मैदान पर योजना के अनुसार उनके लिए बहुत कम ही चीजें घटित हो पाई थी और आईपीएल के एक सीज़न के बाद विश्व कप में भी भारत के पहले चाइनामैन गेंदबाज को कुछ हासिल नहीं हो सका।

हालांकि इससे मदद मिली, क्योंकि यादव अपनी गेंदबाजी योजनाओं और खेल के बारे में अपनी समझ रखने के बाद मानसिक रूप से मजबूत होकर उभरे, यहीं नहीं उनकी फिटनेस भी पहले से बेहतर हुई। भारतीय टीम में दोबारा एंट्री भी आसान नहीं थी। टी 20 विश्व कप की तैयारी के लिए अलग-अलग स्पिन विकल्पों को टीम इंडिया आजमा रही थी जिसके चलते यादव को वेस्टइंडीज और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी 20 आई से बाहर बैठना पड़ा।

कुलदीप मानते हैं कि यह समय उनके लिए काफी कुछ सीखाने वाला रहा- "यह (2019) कठिन था। मैंने बहुत सी चीजें सीखीं और सबसे बड़ी सकारात्मकता यह जानने में रही कि मैं चीजों को बेहतर तरीके से बना सकता था। अगर मैं अधिक सोचता और खुद को अधिक समय देता, तो मैं बेहतर प्रदर्शन कर सकता था। "यादव ने एमसीए स्टेडियम में श्रीलंका के खिलाफ टी 20 श्रृंखला के निर्णायक की पूर्व संध्या पर कहा।

'पहाड़ों की रानी' में 2020 की पहली बर्फबारी का धोनी ने फैमिली संग उठाया लुत्फ, VIDEO

एक समय पर, यादव की गेंदबाजी बहुत अधिक पकड़ में आने वाली हो गई और परिणामस्वरूप उन्होंने आसान रन देना शुरू कर दिया। इससे यादव अहसास हुआ कि अपनी गेंदबाजी किसी भी चीज की तरह से समय के साथ अपग्रेड करना पड़ता है।

"अब मैं वीडियो विश्लेषकों की मदद लेता हूं। मैं विभिन्न बल्लेबाजों की ताकत और कमजोरी के बारे में नेट्स में गेंदबाजी कोच से बात करता हूं ताकि यह पता चल सके कि वह मैदान पर कैसे बल्लेबाजी करते हैं। '

"अब सबको पता है कि कुलदीप कैसे गेंदबाजी करता है - वह एक चाइनामैन है, जिसके पास कई तरह की गेंदें हैं। तो मुझे अपनी गेंदबाजी में बदलाव लाना होगा, जिसे बल्लेबाज समझ नहीं सकता। "

यादव अपने खेल के उस हिस्से पर पर्दा नहीं डालना चाहते, जिससे उन्हें सफलता मिली है। और वह केवल विरोधियों पर ध्यान केंद्रित करना चाहता है, "अगर कोई साझेदारी चल रही है, तो मुझे लगता है कि मुझे एक विकेट के लिए जाना चाहिए और रन रोकना चाहिए। जब भी मैं गेंदबाजी करता हूं और एक सेट बल्लेबाज होता है, तो मैं एक मौका लेने की कोशिश करता हूं और विपक्षी टीम पर दबाव बनाने के लिए उनका विकेट हासिल करता हूं।

हालांकि यह देखा जाना बाकी है कि वाशिंगटन सुंदर, रवींद्र जडेजा, युजवेंद्र चहल और यादव में से किसको टी 20 विश्व कप के लिए मंजूरी मिली है, उत्तर प्रदेश का स्पिनर इस मामले में रेस में बना हुआ है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Friday, January 10, 2020, 9:53 [IST]
Other articles published on Jan 10, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X