IND vs SA : टेस्ट सीरीज के दाैरान इन 5 भारतीय खिलाड़ियों पर रहेगी सबकी नजर

नई दिल्ली। भारत और साउथ अफ्रीका के बीच टेस्ट सीरीज की शुरुआत 26 दिसंबर से होगी। दोनों टीमें 3 वनडे और 3 टेस्ट की सीरीज खेलेंगी। भारतीय टीम ने इससे पहले साउथ अफ्रीका में कोई टेस्ट सीरीज नहीं जीती है। साल 2018 में जब भारतीय टीम अफ्रीकी दाैरे पर थी तो तीन टेस्ट मैचों की सीरीज 1-2 से हार गई थी। अब विराट कोहली की कप्तानी में साउथ अफ्रीका में सीरीज जीतने का सूखा खत्म होने की उम्मीद है। इसलिए इस बार भारतीय टीम दमदार प्रदर्शन के साथ जीत हासिल करने की कोशिश करेगी। ऐसे में भारतीय टीम में 5 ऐसे खिलाड़ी हैं, जिनकी परफॉर्मेंस पर सबकी नजर रहने वाली है। काैन हैं वो 5 खिलाड़ी, आइए जानें-

यह भी पढ़ें- वो 3 दिग्गज क्रिकेटर, जिन्होंने जल्दबाजी में लिया संन्यास, खेलना चाहिए था और क्रिकेट

1) विराट कोहली

1) विराट कोहली

भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली पिछले कुछ महीनों में कुछ खास कमाल नहीं कर पाए हैं। फिलहाल वह जिस फॉर्म में हैं, उससे भारतीय टीम की चिंता बढ़ सकती है। उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 70 शतक बनाए हैं। वह सचिन तेंदुलकर (100) और रिकी पोंटिंग (71) के बाद तीसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं। उन्होंने अपना आखिरी शतक 2019 में बनाया था। कोहली इसके बाद 23 टेस्ट पारियां खेल चुके हैं और एक भी शतक नहीं बना पाए हैं। टेस्ट क्रिकेट में विराट का प्रदर्शन लगातार दो साल से अच्छा नहीं रहा है। उन्होंने 2020 में छह पारियों में 19.33 की औसत से केवल 116 रन बनाए हैं। उन्होंने 2021 में 17 पारियों में 28.41 की औसत से 483 रन बनाए हैं।

हालांकि साउथ अफ्रीका के खिलाफ कोहली का रिकॉर्ड शानदार है। उन्होंने अब तक 20 पारियों में 1075 रन बनाए हैं। उनका बल्लेबाजी औसत 59.72 है। इसमें तीन शतक और तीन अर्धशतक शामिल हैं। इतना ही नहीं साउथ अफ्रीका में उनका बल्ला खूब चला है। उन्होंने 10 पारियों में 55.80 की औसत से 558 रन बनाए हैं। इसमें दो शतक और दो अर्धशतक हैं। कोहली पिछले कुछ दिनों से विवादों की वजह से चर्चा में हैं। वनडे इंटरनेशनल में उनसे कप्तानी छीन ली गई थी। इसके बाद विवाद और बढ़ गया। हालांकि कोहली कोशिश करेंगे कि उनके बल्ले पर इन विवादों का कोई असर न पड़े।

2) चेतेश्वर पुजारा

2) चेतेश्वर पुजारा

भारत के टेस्ट विशेषज्ञ बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा के लिए मुश्किलें और भी बड़ी हैं। उनके लिए टीम में अपनी जगह बरकरार रखना चुनौती होगी। लगातार दो साल से पुजारा का प्रदर्शन बेहद खराब रहा है। वह रन बनाने के लिए काफी संघर्ष कर रहे हैं। साल 2020 में उन्होंने 8 पारियों में 20.37 की औसत से सिर्फ 163 रन बनाए। 2021 में उन्होंने अब तक 24 पारियों में 29.82 की औसत से 686 रन बनाए हैं।

पुजारा को अंतरराष्ट्रीय शतक बनाए लगभग तीन साल बीत चुके हैं। उन्होंने जनवरी 2019 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शतक बनाया था। उन्होंने सिडनी में 193 रनों की पारी खेली थी। उन्होंने पिछली 42 पारियों में शतक लगाया है। हाल ही में पुजारा भारत में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेली गई सीरीज में कुछ खास कमाल नहीं कर पाए थे। उन्होंने चार पारियों में केवल 95 रन बनाए। 92 टेस्ट खेल चुके पुजारा का साउथ अफ्रीका के खिलाफ बहुत अच्छा रिकॉर्ड नहीं है। पुजारा ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ 23 पारियों में 32.95 की औसत से 758 रन बनाए हैं। इसमें एक शतक और पांच अर्धशतक हैं। साउथ अफ्रीका में उनका औसत भी बहुत अच्छा नहीं है। उन्होंने 13 पारियों में 411 रन बनाए हैं। उनका बल्लेबाजी औसत 31.61 है। इसमें एक शतक और दो अर्धशतक शामिल हैं। पुजारा की जगह को लेकर भले ही कितने ही सवाल उठ रहे हों, लेकिन वह उन सभी चीजों को भूलकर उसी ताकत का प्रदर्शन करने की कोशिश करेंगे, जिसके लिए उन्हें जाना जाता है।

3) श्रेयस अय्यर

3) श्रेयस अय्यर

भारत के खिलाफ हाल ही में समाप्त हुई न्यूजीलैंड टेस्ट सीरीज में भारतीय टीम ने 1-0 से जीत हासिल की थी। श्रेयस अय्यर को सीरीज के पहले मैच में डेब्यू करने का मौका दिया गया। श्रेयस अय्यर ने अपने डेब्यू मैच में पहली पारी में शतक और दूसरी पारी में अर्धशतक लगाया। अय्यर ने न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में खेले गए दो मैचों में 202 रन बनाए। उनका बल्लेबाजी औसत 50.50 रहा। श्रेयस अय्यर ने वनडे और टी20 में भारतीय टीम के लिए शानदार प्रदर्शन किया है। अगर साउथ अफ्रीका दौरे पर चेतेश्वर पुजारा या अजिंक्य रहाणे फ्लॉप होते हैं तो उनकी जगह श्रेयस अय्यर को मौका दिया जा सकता है।

4) आर अश्विन

4) आर अश्विन

आर अश्विन भी अच्छी फॉर्म में हैं। उन्होंने हाल ही में न्यूजीलैंड के खिलाफ एक टेस्ट सीरीज में हरभजन सिंह के 417 विकेट के रिकॉर्ड को तोड़ा था। वह वर्तमान में भारत के लिए तीसरे सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। वह अनिल कुंबले (619) और कपिल देव (434) के बाद तीसरे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले (427) गेंदबाज हैं। उनके पास साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीरीज में कपिल देव का रिकॉर्ड तोड़ने का मौका होगा। हाल ही में अश्विन ने न्यूजीलैंड के खिलाफ दो टेस्ट मैचों में 14 विकेट लिए। उन्होंने साउथ अफ्रीका के खिलाफ 10 टेस्ट मैचों में 53 विकेट लिए हैं। उनका औसत 19.75 है। हालांकि इनमें से ज्यादातर मैच उन्होंने भारत में खेले हैं। वहीं, साउथ अफ्रीका में खेले गए तीन टेस्ट मैचों में वह सिर्फ सात विकेट ही ले पाए हैं।

5) जसप्रीत बुमराह

5) जसप्रीत बुमराह

भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह टी20 वर्ल्ड कप के बाद वापसी कर रहे हैं। उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट और टी20 सीरीज में मौका नहीं दिया गया। जसप्रीत बुमराह के प्रदर्शन की बात करें तो उन्होंने 24 टेस्ट में 101 विकेट लिए हैं। इस बीच, वह 6 बार में 5 विकेट लेने में सफल रहे हैं। इसलिए साउथ अफ्रीका दौरे पर तेज गेंदबाजी आक्रमण की जिम्मेदारी जसप्रीत बुमराह के कंधों पर होगी।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Thursday, December 23, 2021, 19:00 [IST]
Other articles published on Dec 23, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X