IPL Auction 2020: 10 करोड़ में बिके मॉरिस क्या RCB की दो बड़ी कमियों से निपट पाएंगे?

कोलकाता: आईपीएल 2020 यानी भारत के क्रिकेट के फटाफट प्रारूप का महाकुंभ अपना बिगुल सीजन की नीलामी के साथ बजा चुका है। अगले साल होने बड़े फेरबदल के बीच यह एक अपेक्षाकृत छोटी नीलामी है लेकिन इस सीजन के लिए टीम गठन के तहत काफी महत्वपूर्ण है। विराट कोहली की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू एक अंडरपरफॉर्म टीम रही है जिसके पास अच्छे खिलाड़ियों की कमी नहीं रही लेकिन उनका एकजुट प्रदर्शन मैदान पर ना दिखाई देना हमेशा एक बड़ी समस्या बनी रही। इस कारण यह टीम हमेशा फिसड्डी रही। पिछले सीजन में भी यह सिलसिला बदस्तूर जारी रहा। ऐसे में इस सीजन की नीलामी में यह टीम सिरे से अपने टीम गठन की ओर ध्यान देने की सोच के साथ आई है।

4.4 करोड़ में बिके फिंच तो 10 करोड़ में मॉरिस

4.4 करोड़ में बिके फिंच तो 10 करोड़ में मॉरिस

आरसीबी की बोली में पहला बड़ा नाम एरोन फिंच साबित हुए जिनको 4.4 करोड़ रुपए में खरीद लिया गया। कंगारू कप्तान से कोहली एंड कंपनी जरूर कुछ अच्छी शुरुआत चाहेगी। ये वहीं फिंच हैं जिनके साथ पिछले सीजन में डेविड वार्नर ने सनराइजर्स के लिए धमाल मचाया था। इनका बेस प्राइज 1 करोड़ रुपए थे। हालांकि बड़ी बोली क्रिस मॉरिस की साबित हुई जिनको 10 करोड़ रुपए में खरीदा गया। मॉरिस प्रोटियाज ऑलराउंडर हैं जो अच्छी गेंदबाजी के अलावा बल्लेबाजी में बड़े शॉट्स भी लगा सकते हैं।

IPL Auction 2020: कमिंस को 15.5 करोड़ में खरीदकर केकेआर का खास मकसद हुआ पूरा

आरसीबी की दो बड़ी समस्याओं का हल मॉरिस?

आरसीबी की दो बड़ी समस्याओं का हल मॉरिस?

आरसीबी की एक बड़ी समस्या डेथ ओवरों में गेंदबाजी रही है जिसमें पिछले दो सीजन में उन्होंने ना केवल सबसे कम विकेट लिए हैं बल्कि उनका इकॉनमी रेट (8.45) भी दूसरे नंबर पर सबसे खराब रहा है। मॉरिस को इस स्थिति को संभालने के लिए डेथ ओवरों में यॉर्कर पर ध्यान केंद्रित करना होगा। हालांकि मॉरिस, बुमराह की तरह एक विशेषज्ञ डेथ गेंदबाज नहीं है ऐसे में यह देखने वाली बात होगी कि वे इस सीजन में अपनी रकम के साथ न्याय करने के लिए क्या करतब दिखाते हैं। मॉरिस ने आईपीएल में 61 पारियों में गेंदबाजी करते हुए 69 विकेट लिए हैं जिसमें उनका इकॉनमी 7.99 और औसत 24.77 का रहा है।

RCB को तलाश थी अच्छे ऑलराउंडर की

RCB को तलाश थी अच्छे ऑलराउंडर की

मॉरिस एक निचले क्रम पर उपयोगी फिनिशर भी साबित हो सकते हैं। उनके पार टिककर अच्छे शॉटस् लगाने की क्षमता है। आरसीबी से हेटमायर और कोलिन डि ग्रैंडहोम को रिलीज करने के बाद टीम को एक ऐसे ही ऑलराउंडर की तलाश थी जो कोहली और डिविलियर्स जैसे धुरंधरों के कंधों से बोझ कुछ कम कर सके। मॉरिस ने आईपीएल में खेले 61 मैचों में 39 पारियां खेलकर 517 रन बनाए हैं और इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 157.62 का रहा है जबकि औसत 27 का जो बहुत खराब आंकड़े नहीं हैं।

आईपीएल ऑक्शन स्पेशल पेज

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Thursday, December 19, 2019, 17:39 [IST]
Other articles published on Dec 19, 2019
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X