इस खिलाड़ी के नाम दर्ज है 199 शतक लगाने का रिकाॅर्ड, बनाए 61,760 रन

नई दिल्ली। क्रिकेट जैसे चर्चित खेल में माैजूदा समय भारतीय कप्तान विराट कोहली का डंका बज रहा है जो आए दिन शतकों के साथ-साथ रनों का अंबार लगाते जा रहे हैं। वहीं सचिन तेंदुलकर भी हैं जिनके नाम 100 अंतरराष्ट्रीय शतक होने के अलावा टेस्ट व वनडे फाॅर्मेट में सबसे ज्यादा रन भी दर्ज हैं। लेकिन एक ऐसा बल्लेबाज भी है जिसके नाम क्रिकेट में सबसे ज्यादा 61,760 रन दर्ज हैं और साथ ही 199 शतक भी लगाए हैं। जी हां, हम बात कर रहे हैं जैक हॉब्स की जिन्होंने इतने ज्यादा रन व शतक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में तो नहीं लगाए लेकिन प्रथम श्रेणी क्रिकेट में जरूर लगाए हैं।

रविचंद्नन अश्विन ने बताया उस बल्लेबाज का नाम जिसे T-20 में गेंदबाजी करना है मुश्किल

काैन हैं हाॅब्स?

काैन हैं हाॅब्स?

जैक हॉब्स इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर थे जिनके नाम आज भी प्रथम श्रेणी क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन और शतक लगाने का बड़ा रिकाॅर्ड है। इनके रिकाॅर्ड का टूटना मुश्किल ही नहीं बल्कि नाममुंकिन है। इनका जन्म 16 दिसंबर 1882 को कैम्ब्रिज में हुआ था और अंतिम सांस 21 दिसंबर 1963 को ली थी। हॉब्स ने 1908 में इंग्लैंड के लिए टेस्ट क्रिकेट में डेब्यु किया जिसमें उन्होंने पहली पारी में 83 रन बनाए। 1911-12 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उन्होंने तीन शतक लगाए। इस प्रदर्शन के बाद उन्हें विश्व का सबसे बड़ा बल्लेबाज माना जाने लगा।

इतनी पारियों में बनाए रन

इतनी पारियों में बनाए रन

'द मास्टर' नाम से मशहूर इस बल्लेबाज ने इंग्लैंड के लिए 61 अंतरराष्ट्रीय टेस्ट मैच भी खेले हैं जिसकी उन्होंने 102 पारियों में 56.94 की औसत से 5410 रन बनाए हैं, जिसमें 15 शतक व 28 अर्धशतक शामिल रहे। लेकिन प्रथम श्रेणी क्रिकेट में खेले 834 मैचों की 1325 पारियों में उन्होंने 50.70 की औसत से 61,760 रन बनाए जिसमें उनका उच्चत्तम स्कोर नाबाद 316 रहा। इस दाैरान 199 शतक के साथ 273 अर्धशतक भी रहे। हाॅब्स फिल्डिंग में भी बहुत माहिर थे। इस बात का अंदाजा इस रिकाॅर्ड से लगाया जा सकता है कि उनके नाम प्रथम श्रेणी क्रिकेट में ही 342 कैच दर्ज हैं।

रिकॉर्ड को बनाने में लगाए दिए 29 साल

रिकॉर्ड को बनाने में लगाए दिए 29 साल

सबसे बड़ी बात यह है की हॉब्स ने यह रिकॉर्ड बनाने के लिए 29 साल तक क्रिकेट खेला है। हॉब्स ने 29 साल के अपने करियर के दौरान 834 प्रथम श्रेणी मैच खेले हैं। वह इतने ज्यादा मैच खेलने वाले दुनिया के दूसरे बल्लेबाज हैं। इनसे ज्यादा मैच फ्रैंक वूली ने 978 मैच खेले है। अगर आंकडों की बात करें तो हाॅब्स ने इन 29 सालों में प्रति साल 28 मैच खेले तो लगभग प्रति महा में 2 मैच खेले। इस से यह आंकलन लगाया जा सकता है कि अगर एक फर्स्ट क्लास मैच पांच दिन चलता है तो हॉब्स ने हर एक दिन छोड़ कर मैच खेला है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Tuesday, April 28, 2020, 16:59 [IST]
Other articles published on Apr 28, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X