माइकल वॉन ने बताई भारत की ODI टीम के इंजन रूम में पॉवर की कमी

नई दिल्ली: इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन का मानना ​​है कि भारत के पास वनडे में उनके इंजन रूम में पॉवर की कमी है और इसलिए वे इस प्रारूप में अपनी क्षमता के साथ न्याय नहीं कर पाए हैं। उन्होंने आगे कहा कि टीम इस तथ्य को भी स्वीकार करेगी कि उन्होंने पिछले 2 विश्व कपों में जीत हासिल नहीं की है।

ट्विटर पर वॉन ने लिखा: "यह देखना दिलचस्प होगा कि भारत दूसरे वनडे में कैसे प्रतिक्रिया देता है। अगर वे ईमानदार हैं तो वे पिछले 2 विश्व कपों को स्वीकार कर लेंगे जिन्हें उन्होंने हाथ से गंवा दिया है। मेरे हिसाब से उनके इंजन रूम में शक्ति की कमी है, जो मिडिल ऑर्डर है, उनके पास यह सुनिश्चित करने के लिए 3 वर्ष हैं कि मेजबान जीतते हैं। "

वॉन ने बताई ODI टीम इंडिया में कमी

वॉन ने बताई ODI टीम इंडिया में कमी

भारत ने मुंबई में पहले एकदिवसीय मैच में हार का सामना किया। जो एक करारी हार थी हालांकि भारत ने उस मैच में अपने बल्लेबाज ऑर्डर से काफी छेड़खानी की थी लेकिन दूसरे मैच में ऐसा देखने को नहीं मिला। इस बार रोहित धवन ने भारत को ठोस शुरुआत दी। धवन मात्र 4 रनों से शतक से चूक गए और विराट कोहली भी अपने परंपरागत बैटिंग ऑर्डर पर छाप छोड़ कर गए हैं। उन्होंने 78 रन बनाए।

बैटिंग ऑर्डर हुआ ठीक तो फिर चला भारत

बैटिंग ऑर्डर हुआ ठीक तो फिर चला भारत

दूसरे मैच से पहले भी अय्यर इस बात से वाकिफ थे कि उनको परिस्थिति के अनुसार अपना बल्लेबाज क्रम ऊपर नीचे करना पड़ेगा। "आपको किसी भी नंबर पर बल्लेबाजी करने के लिए तैयार होना चाहिए क्योंकि हमारे पास अब जो प्रतियोगिता है, उसमें टीम में खेलना वास्तव में महत्वपूर्ण है। हमारे लिए ध्यान केंद्रित करना और किसी विशेष स्थान पर बल्लेबाजी नहीं करने के बारे में नहीं रोना बहुत महत्वपूर्ण है। प्रयोग एक ऐसी चीज है जिसका हम इंतजार कर रहे हैं। उम्मीद है, हमें प्रत्येक बल्लेबाज के लिए अच्छा बैटिंग ऑर्डर मिलेगा। "अय्यर ने कहा।

15 वर्षीय क्रिकेटर को मिला बीसीसीआई का सालाना प्लेयर कॉन्ट्रैक्ट

राहुल ने 5वें नंबर पर की तूफानी बल्लेबाजी

राहुल ने 5वें नंबर पर की तूफानी बल्लेबाजी

बता दें कि अय्यर राजकोट मुकाबले में नंबर चार पर ही बैटिंग करने आए थे लेकिन उन्होंने केवल 7 ही रन बनाए जबकि 5वें नंबर पर आए लोकेश राहुल ने कमाल की बल्लेबाजी का मुजायरा पेश करते हुए अंतिम ओवरों में तेज अर्धशतक लगाया। उन्होंने केवल 52 गेंदों पर 80 रनों की पारी खेली। जिसके दम पर भारत अंतिम ओवरों में तेज रन बनाने में कामयाब साबित हुआ। टीम इंडिया ने कंगारूओं को जीत के लिए 341 रनों का लक्ष्य दिया है। जबकि इससे पहले मैच में राहुल को तीसरा नंबर दिया गया था। राहुल ओपनिंग में भी काफी बल्लेबाजी कर चुके हैं।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

 

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Friday, January 17, 2020, 17:08 [IST]
Other articles published on Jan 17, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X