विकेट लेने के बाद कप्तान कोहली से ये सवाल पूछते हैं मोहम्मद शमी

नई दिल्ली। क्रिकेट के मैदान में जब तेज गेंदबाज विकेट लेता है तो वह इस विकेट का बखूबी जश्न मनाता है क्योंकि उसे लगता है कि यह विकेट उसने पूरी तरह से अपने दम पर लिया है। टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी भी जब विकेट लेते हैं तो वह कप्तान कोहली से पूछते हैं कि क्या यह आपका विकेट है या मेरा। शमी का कहना है कि तेज गेंदबाज काफी नई और पुरानी दोनों ही गेंद से काफी आक्रामक होते हैं और विकेट लेने के बाद वह अपनी खुशी जाहिर करते हैं। लेकिन एक खिलाड़ी जो सबसे ज्यादा अपनी भावना को जाहिर करता है वह हैं हमारे कप्तान।

मोहम्मद शमी और विराट कोहली काफी लंबे समय से एक दूसरे के साथ खेलते आए हैं। क्रिकेट के मैदान पर विराट कोहली जिस तरह से अपने खिलाड़ियों की सफलता पर जश्न मनाते हैं उसे देखकर कोई यह नहीं कह सकता है कि यह उनकी व्यक्तिगत उपलब्धि नहीं है। यही वजह है जब मैदान पर कोई गेंदबाज विकेट लेता है तो विराट कोहली जिस तरह से जश्न मनाते हैं वो तस्वीर वायरल होती है नाकि उस गेंदबाज की जिसने वो विकेट लिया होता है। इसी के चलते मोहम्मद शमी जब विकेट लेते हैं और विराट कोहली का जश्न सोशल मीडिया पर वायरल होता है तो वह कप्तान से पूछते हैं कि यह मेरा विकेट है या आपका।

शमी ने कहा कि विराट कोहली विकेट गिरने के बाद गेंदबाज से ज्यादा जश्न मनाते हैं, कभी-कभी वो कहते हैं कि तुम विकेट से बहुत ज्यादा खुश नजर नहीं आ रहे हो तो मैं उनसे पूछता हूं कि मेरे लिए पूरा जश्न तो आपने ही मना लिया। क्रिकेट के मैदान पर विराट कोहली अपनी भावनाओं के इजहार करने से कतराते नहीं हैं और खुलकर गुस्सा, खुशी जाहिर करते हैं। लेकिन जिस तरह से वह दूसरे खिलाड़ी की सफलता पर जश्न मनाते हैं वह उस खिलाड़ी के उस पल को भी उससे ले लेते हैं। शमी कहते हैं कि लेकिन ज्यादा जरूरी यह है कि मैदान पर मजाकिया माहौल रहे। विराट अपना गुस्सा जाहिर करते हैं, लेकिन बतौर कप्तान उन्होंने टीम को काफी अच्छे से लीड किया है, वह जबरदस्त बल्लेबाज हैं।

इसे भी पढ़ें- IPL 2021 खेलने वाले बड़े खिलाड़ियों को इंग्लैंड ने क्यों किया न्यूजीलैंड सीरीज से बाहर? जानें कारण

वहीं रोहित शर्मा के बारे में शमी ने कहा कि वह विराट कोहली से बिल्कुल अलग हैं। वह शांत स्वभाव के हैं, लेकिन जब वह बल्लेबाजी करने आते हैं तो बहुत ही आक्रामक रहते हैं। वह सकारात्मक व्यक्ति हैं। जब बतौर गेंदबाज मैं गेंदबाजी करने जाता हूं तो उनकी सलाह लेता हूं, वह हमेशा सकारात्मक जवाब देते हैं। रोहित हमेशा मुझे अच्छा करने के लिए प्रेरित करते हैं, इससे फर्क नहीं पड़ता है कि सामने कौन सा बल्लेबाज है। मेरे हिसाब से तेज गेंदबाज के लिए यह आत्मविश्वास काफी मायने रखता है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Wednesday, May 19, 2021, 15:43 [IST]
Other articles published on May 19, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X