कहीं डेंटिस्ट के पास जाने से तो नहीं लगा पंत को कोरोना, रिपोर्ट में मिली क्लिनिक जाने की जानकारी

India vs England: Rishabh Pant dentist visit could be the possible reason | Oneindia Sports

नई दिल्लीः कोरोनावायरस से बचने के लिए आपको सामूहिक और व्यक्तिगत दोनों ही स्तर पर बहुत सावधानी बरतने की जरूरत होती है। इसके बावजूद आज लाइफ स्टाइल का सर्किल इतना बड़ा है कि हम कितने भी मजबूत इरादों के साथ कोरोना की चपेट में आने से बचना चाहें तब भी गारंटी नहीं है कि आप इस वायरस से मुक्त हो पाएंगे या नहीं। भारतीय क्रिकेटरों को कोरोनावायरस से बचने के लिए तमाम तरह की सुविधाएं मिल रही है और वे खेल के दौरान बायो बबल में रहते हैं लेकिन हमने देखा है कि कोरोना ने बबल में भी सेंधमारी शुरू कर दी है।

जब इतने सुरक्षित वातावरण में भी कोरोना का आना-जाना जारी है तो भारतीय टीम को जब विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के बाद 3 हफ्ते का ब्रेक मिला तब एक्सपर्ट लोगों को यही डर था कि अब खिलाड़ी कोरोना की चपेट के खतरे में हैं और आज वही हुआ है।

पंत को कहां से लग गया कोरोना?

पंत को कहां से लग गया कोरोना?

ऋषभ पंत कोरोनावायरस से पॉजिटिव है और आइसोलेशन में है तो वही रिद्धिमान साहा भी आइसोलेशन यानी पृथकवास में हैं। अब यह 100 प्रतिशत यकीन से नहीं कहा जा सकता कि ऋषभ पंत को वायरस किस जगह से लगा है। क्योंकि वह घूमे भी बहुत, इसमें कोई शक नहीं। इसलिए यह बात पूरे भरोसे के साथ नहीं कही जा सकती लेकिन कुछ रिपोर्ट इस ओर जरूर इशारा कर रही हैं कि वायरस लगने का संभावित स्रोत एक डेंटिस्ट के यहां ऋषभ पंत की विजिट हो सकती है। ऋषभ पंत 8 जुलाई को कराए गए टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए थे और टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने 5 जुलाई और 6 जुलाई में डेंटिस्ट के यहां खुद को दिखाया था।

IND vs SL 1st ODI: पृथ्वी शॉ, चहल पर होगा फोकस, ऐसी हो सकती है भारत की प्लेइंग XI

टेस्ट कराने से पहले डेंटिस्ट के क्लिनिक गए थे पंत- रिपोर्ट

टेस्ट कराने से पहले डेंटिस्ट के क्लिनिक गए थे पंत- रिपोर्ट

डेंटिस्ट दांतों के रोग का एक्सपोर्ट होता है और ऋषभ पंत शायद कुछ ऐसी समस्या के चलते क्लिनिक में गए। टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए एक सूत्र ने बताया, "ऋषभ पंत डेंटिस्ट के यहां पर 5 और 6 जुलाई को गए थे और वहां पर उनको क्लीनिक से वायरस लग सकता है। 7 जुलाई को उनको वैक्सीन की दूसरी डोज दी गई थी।"

हालांकि ऋषभ पंत 29 जून को इंग्लैंड के वेंबली स्टेडियम में भी पहुंचे थे जहां पर मेजबान टीम का जर्मनी के साथ यूरो 2020 में मैच चल रहा था।

ऋषभ पंत ब्रेक के दौरान बहुत घूमे-

ऋषभ पंत ब्रेक के दौरान बहुत घूमे-

इस बात का जिक्र बीसीसीआई सचिव जय शाह ने भी किया है जो कहते हैं कि ऋषभ पंत ब्रेक के दौरान टीम होटल के अंदर मौजूद नहीं थे और उन्होंने 8 जुलाई को कोरोनावायरस टेस्ट कराया। उनमें लक्षण नहीं आए और वे फिलहाल उसी जगह पर आइसोलेशन में है जहां पर उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई थी। बीसीसीआई की एक मेडिकल टीम के द्वारा उनकी करीबी नजदीकी निगरानी की जा रही है और वे अपने रिकवरी करने की राह पर हैं। जब वे दो आईटी-पीसीआर टेस्ट पॉजिटिव नेगेटिव करा देंगे तो डरहम में भारतीय टीम को ज्वॉइन कर पाएंगे।

बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने भी इस मुद्दे पर बात की और कहा कि हर समय मास्क पहनना संभव नहीं है। गांगुली का मानना है कि इंग्लैंड ने यूरो चैंपियनशिप और विंबलडन के लिए पहले ही लोगों की भीड़ को छूट दे दी थी, इसमें कोई क्या कर सकता है। इसके अलावा खिलाड़ी छुट्टी पर थे और यह असंभव है कि हर समय आप मास्क पहन कर रखें।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Friday, July 16, 2021, 16:44 [IST]
Other articles published on Jul 16, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X