रिकी पोंटिंग ने ठुकरा दिया टीम इंडिया के हेड कोच बनने का ऑफर- रिपोर्ट

नई दिल्लीः इस समय टी20 वर्ल्ड कप से ज्यादा चर्चा इस बात की है कि रवि शास्त्री के बाद टीम इंडिया का हेड कोच बनेगा। रिपोर्ट्स की मानें तो राहुल द्रविड़ पर बोर्ड ने पक्की बात कर ली है और यह दिग्गज दो साल के लिए कोच होगा। इन्हीं रिपोर्ट्स की माने तो ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज रिकी पोंटिंग को भी बीसीसीआई ने भारतीय टीम की कोचिंग करने का प्रस्ताव दिया था जिसको महान कंगारू कप्तान रहे पंटर ने ठुकरा दिया था। पोंटिंग वर्तमान में इंडियन प्रीमियर लीग में दिल्ली कैपिटल्स के मुख्य कोच हैं। उनकी कोचिंग में दिल्ली कैपिटल्स का कायापलट हुआ है।

पोंटिंग को रवि शास्त्री की जगह लेने के लिए कहा गया था, जिनका मुख्य कोच के रूप में कार्यकाल ओमान और यूएई में चल रहे टी 20 विश्व कप के 2021 संस्करण के बाद समाप्त हो रहा है।

हालांकि, पोंटिंग ने इस प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया, हालांकि उनके फैसले के पीछे के कारण अभी भी पता नहीं हैं। पूर्व भारतीय क्रिकेटर राहुल द्रविड़ को शास्त्री के उत्तराधिकारी के रूप में नियुक्त किया गया था। दुबई में बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली और मानद सचिव जय शाह से मिलने के बाद द्रविड़ को कॉन्ट्रैक्ट दिया गया है।

T20 WC 2007 की जीत का असर बाद में पता चला, इसने मुझे बदल दिया- विराट कोहलीT20 WC 2007 की जीत का असर बाद में पता चला, इसने मुझे बदल दिया- विराट कोहली

एक सूत्र ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, "राहुल एकमात्र आदर्श उम्मीदवार थे। चुनौती उन्हें इसके लिए राजी करने की थी। सच कहा जाए, तो कोई दूसरा विकल्प नहीं है।"

रिपोर्टों के अनुसार, द्रविड़ को दो साल के अनुबंध पर नियुक्त किया गया है और वह INR 10 करोड़ का वेतन प्राप्त करेंगे। इसके अलावा, उन्हें राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी के प्रमुख के रूप में पद छोड़ना होगा। भरत अरुण की जगह पारस म्हाम्ब्रे को गेंदबाजी कोच बनाया गया है।

विक्रम राठौर के बल्लेबाजी कोच के रूप में भारत के बने रहने की सबसे अधिक संभावना है। द्रविड़ और उनकी टीम टी20 विश्व कप के बाद शुरू होने वाली न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत की घरेलू श्रृंखला से कार्यभार संभालने के लिए तैयार हैं।

बीसीसीआई के एक अधिकारी के अनुसार इसकी द्रविड़ ने पुष्टि की है कि वह भारतीय टीम के अगले मुख्य कोच होंगे। वह जल्द ही एनसीए के प्रमुख के रूप में पद छोड़ देंगे।

द्रविड़ भारत के मुख्य कोच थे जब टीम ने जुलाई में श्रीलंका में एक टी20ई और एकदिवसीय श्रृंखला खेली थी। रवि शास्त्री का कार्यकाल भी काफी अच्छा रहा है। उनकी विदाई भारतीय क्रिकेट मे कोहली-शास्त्री के प्रभुत्व का अंत भी है। इस जोड़ी ने देश में क्रिकेट को अगले स्तर तक पहुंचाया लेकिन एक भी विश्व खिताब जीत नहीं सके। अगर टी20 वर्ल्ड में भारत को ट्रॉफी हाथ लगी और यह कोहली और शास्त्री दोनों के लिए जाते-जाते एक बड़ी उपलब्धि होगी क्योंकि कोहली भी टी20 की कप्तानी छोड़ देंगे।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Sunday, October 17, 2021, 11:40 [IST]
Other articles published on Oct 17, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X