आज के ही दिन सचिन ने लगाया था शतकों का शतक, इस रिकॉर्ड के लिए एक साल करना पड़ा था संघर्ष

लखनऊ। क्रिकेट के मैदान पर जितने रिकॉर्ड मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने अपने नाम किए हैं शायद ही किसी क्रिकेटर ने किए हो, ऐसे में क्रिकेट के मैदान में सर्वाधिक रिकॉर्ड बनाने का रिकॉर्ड भी सचिन तेंदुलकर के नाम है। इन रिकॉर्ड्स में से कई ऐसे रिकॉर्ड भी हैं जिन्हे तोड़ पाना आने वाली पीढ़ियों के लिए तकरीबन नामुमकिन है। इन रिकॉर्ड में से एक सबसे बड़ा रिकॉर्ड अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शतकों का शतक है। सचिन तेंदुलकर दुनिया के एकमात्र खिलाड़ी हैं जिन्होंने शतकों का शतक लगाया है। आज से 9 साल पहले सचिन तेंदुलकर ने यह रिकॉर्ड अपने नाम किया था। उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ 16 मार्च 2012 को शतकों का शतक लगाया था, हालांकि इस मैच में भारतीय टीम को हार का सामना करना पड़ा था और सचिन का यह शतक व्यर्थ चला गया था।

बांग्लादेश के खिलाफ लगाया 100वां शतक

बांग्लादेश के खिलाफ लगाया 100वां शतक

शतकों का शतक लगाने के लिए सचिन तेंदुलकर को काफी लंबा इंतजार करना पड़ा था। 100वां अंतरराष्ट्रीय शतक लगाने के लिए सचिन को तकरीबन एक साल से अधिक इंतजार करना पड़ा। लेकिन एशिया कप में मीरपुर शेर ए बांग्ला नेशनल स्टेडियम में सचिन तेंदुलकर ने यह मील का पत्थर अपने नाम किया था। सचिन तेंदुलकर ने वनडे क्रिकेट में अपना 49वां शतक लगाया और बांग्लादेश के खिलाफ अपना पहला शतक लगाया। उन्होंने शाकिब अल हसन की गेंद पर स्क्वॉयर लेग की दिशा में खेलकर सिंगल लिया और अपना शतक पूरा किया। हालांकि इस शतक के बाद सचिन ने इसका बहुत जश्न नहीं मनाया क्योंकि भारतीय दर्शकों का टीम पर इस मैच को लेकर काफी दबाव था।

एक साल करना पड़ा था इंतजार

एक साल करना पड़ा था इंतजार

अपनी इस पारी के बाद सचिन तेंदुलकर ने कहा था, मैं इस स्टेज पर और कुछ नहीं सोच सकता हूं, मेरे लिए यह मुश्किल दौर रहा है। मैंने सीजन की शुरुआत अच्छी की थी, लेकिन किस्मत का साथ नहीं मिल रहा था। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है कि आपने कितने शतक लगाए हैं, आपको हर मैच में मैदान में रन बनाने के लिए संघर्ष करना पड़ता है। बता दें कि सचिन तेंदुलकर ने अपना आखिरी शतक दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 12 मार्च 2011 के विश्वकप में लगाया था। यह शतक उन्होंने विश्वकप में नागपुर में लगाया था। इसके बाद तकरीबन एक साल तक सचिन को अपने अगले शतक का इंतजार करना पड़ा और आखिरकार उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ 16 मार्च 2012 को अपना 100वां शतक लगाया।

कई बार चूके मौका

कई बार चूके मौका

वर्ष 2011 में सचिन तेंदुलकर 2 बार 90 रन का आंकड़ा पार करने के बाद आउट हो गए। इंग्लैंड के खिलाफ ओवल में उन्होंने 91 रन बनाए और वेस्ट इंडीज के खिलाफ 94 रन बनाकर आउट हो गए। जबकि मोहाली में वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ सचिन 85 रन बनाकर आउट हो गए थे। 100वें शतक के बाद सचिन ने कहा था कि जब मैंने 99वां शतक लगाया तो किसी ने इसके बारे में बात नहीं की, मेरे खयाल से मीडिया ने इस बारे में बात शुरू की। जहां भी मैं जाता था लोग मुझसे 100वें शतक के बारे में पूछते थे। अपने 100वें शतक में सचिन ने 114 रन की पारी खेली और मशरफे मुर्तजा की गेंद पर आउट हो गए थे।

इसे भी पढ़ें- IND vs ENG: आनंद महिंद्रा ने किया खुलासा, मैच के दौरान क्यों पहने 'अक्षर शेड्स'

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Tuesday, March 16, 2021, 11:18 [IST]
Other articles published on Mar 16, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X