कोहली की खराब फाॅर्म पर सचिन ने दी राय, रोहित को बताया शानदार खिलाड़ी

नई दिल्ली। टीम इंडिया ने सोमवार को लॉर्ड्स में इंग्लैंड को 151 रन से हराकर यादगार जीत दर्ज की। भारत के गेंदबाजों की बदौलत अंतिम दिन चीजें नाटकीय रूप से बदल गईं, जिन्होंने अच्छी बल्लेबाजी भी की और फिर इतिहास रचने के लिए 52 ओवरों के भीतर घरेलू टीम को ढेर कर दिया। पांच मैचों की सीरीज में बढ़त लेने के बावजूद, कुछ मुद्दे हैं जिनका समाधान टीम इंडिया को करना है और उनकी चिंताओं में से एक कप्तान विराट कोहली की फॉर्म है।

भारतीय कप्तान विराट कोहली अभी तक इंग्लैंड के मौजूदा दौरे में अपना प्रभाव नहीं छोड़ पाए हैं। कोहली ने अब तक की तीन पारियों में केवल 62 रन बनाए हैं और ऑफ स्टंप के बाहर जा रही गेंदों पर उनकी कमजोरी साफ दिखी। तीनों पारियों में अलग-अलग गेंदबाजों जेम्स एंडरसन, ओली रॉबिन्सन और सैम कुरेन द्वारा आउट कर चुके हैं। भारत के पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने इस मामले पर अपनी राय दी है और मानते हैं कि विराट कोहली के दिमाग में इस समय वह बात है जो उन्हें तकनीकी रूप से उजागर कर रही है। उनके मुताबिक ये चीजें हर किसी के साथ होती हैं और इससे उबरने के लिए बल्लेबाज अपनी हरकतों में जरूरत से ज्यादा भरपाई कर देते हैं और यही इस समय कोहली को आहत कर रहा है।

सचिन ने News18 से बात करते हुए कहा, ''विराट की शुरुआत अच्छी नहीं रही। यह दिमाग ही है जो तकनीकी त्रुटियों की ओर ले जाता है और यदि शुरुआत अच्छी नहीं है तो आप बहुत सी चीजों के बारे में सोचना शुरू कर देते हैं। क्योंकि चिंता का स्तर अधिक होता है, इसलिए आप अपनी गलतियों की भरपाई करना ध्यान में रखते हैं। जब कोई बल्लेबाज अच्छी फॉर्म में नहीं होता है तो आप या तो बहुत दूर चले जाते हैं या अपने पैर बिल्कुल नहीं हिलाते। ऐसा सबके साथ होता है। शरीर के साथ सद्भाव में काम करने के साथ-साथ फॉर्म भी आपकी मन की स्थिति है।''

गावस्कर की नजरों में ये हैं जीत के हीरो, लोग मानते हैं इन्हें लो-प्रोफाइल खिलाड़ीगावस्कर की नजरों में ये हैं जीत के हीरो, लोग मानते हैं इन्हें लो-प्रोफाइल खिलाड़ी

सचिन ने की रोहित शर्मा की बल्लेबाजी की तारीफ
इस बीच, सचिन तेंदुलकर भी रोहित शर्मा के टेस्ट में बल्लेबाजी करने के तरीके से प्रभावित हैं, जब से उन्होंने पारी की शुरुआत की है। उन्होंने यह भी बताया कि रोहित ने गेंदों को वास्तव में अच्छी तरह से खेला है और अब तक दोनों टेस्ट मैचों में टीम के लिए अहम योगदान दिया।

तेंदुलकर ने कहा, "मैंने जो कुछ भी देखा है, मुझे लगता है, उसने सबको दिखाया है कि वह अपने खेल को कैसे बदल सकता है और स्थिति के अनुसार कैसे खेल सकता है। वह अपनी जगह पक्की कर गया है। वह वहां के(आईपीएल) कप्तान रहे हैं और केएल ने उनका शानदार समर्थन किया है। जहां तक ​​पुल शॉट खेलने की बात है तो उन्होंने उस शॉट से बाड़ साफ कर दी है और मैं देख रहा हूं कि वह दोनों टेस्ट में टीम के लिए क्या हासिल कर पाए हैं।'' सचिन ने कहा, "रोहित ने खराब गेंदें छोड़ना सीखा है और गेंद को शानदार या समान रूप से अच्छी तरह से डिफेंड किया है। वह हमेशा एक शानदार खिलाड़ी थे लेकिन इंग्लैंड में उनकी पिछली कुछ पारियों को देखकर, मैं कह सकता हूं कि वह निश्चित रूप से एक कदम ऊपर गए हैं।"

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Tuesday, August 17, 2021, 18:50 [IST]
Other articles published on Aug 17, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X