IPL में 10 विकेट की जीत में वॉटसन-डु प्लेसिस ने की दूसरी बड़ी साझेदारी, ये हैं बाकी टॉप साझेदारियां

CSK vs KXIP: Shane Watson and Faf Du Plesis record opening partnership this season | वनइंडिया हिंदी

नई दिल्लीः किंग्स इलेवन पर धमाकेदार जीत दर्ज करने के बाद धोनी का कहना है कि शेन वॉटसन नेट्स पर लगातार अच्छे दिख रहे थे बस इसको मैदान पर उतारना बाकी था। धोनी का ये कहना गलत नहीं था क्योंकि वॉटसन सीजन की शुरुआत से ही पॉजिटिव लग रहे थे लेकिन अंदर आती कुछ गेंदों पर वे आउट हो रहे थे।

अगली बात धोनी ने फाफ डु प्लेसिस के लिए कही जिनको इस समय सीएसके का सबसे बेहतर बल्लेबाज कहा जा सकता है। धोनी का कहना है कि डुप्लेसिस एक शिल्पी किस्म की भूमिका में हैं जो पारी को सजाने का काम करते हैं। एक ऐसा बल्लेबाज जो अपने शॉट खेलने की क्षमताओं से गेंदबाजों को बीच-बीच में भ्रमित भी करता है।

युवाओं के दमखम के खेल में अनुभव का सबक-

युवाओं के दमखम के खेल में अनुभव का सबक-

चेन्नई सुपर किंग्स ने दिखा दिया कि अनुभव क्या चीज है और यह कहां काम आता है। चेन्नई एक अलग किस्म की फ्रेंचाइजी है और धोनी की छाप इस पर पूरी तरह से दिखाई देती है। शायद धोनी युवा होते तो यह टीम इतनी उम्रदराज खिलाड़ियों की टीम ना लगती लेकिन 40 के करीब के धोनी अनुभव की अहमियत अच्छे से समझते हैं।

IPL 2020: KXIP की 3 गलतियां जिनके चलते CSK से मिली 10 विकेट की शर्मनाक हार

कुल मिलाकर युवाओं के दमखम के खेल में अनुभव का सबक बहुत मायने रखता है। किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ इस मुकाबले में सीएसके को 179 रनों का लक्ष्य मिला था जिसको 17.4 ओवर में बिना कोई विकेट गंवाए हासिल कर लिया गया।

10 विकेट की जीत में आईपीएल की दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी-

10 विकेट की जीत में आईपीएल की दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी-

शेन वॉटसन और डु प्लेसिस दोनों ने 53-53 गेंदों को खेला और क्रमशः 83 और 87 रनों का योगदान दिया। दोनों ने 11-11 चौके लगाए लेकिन वॉटसन ने तीन छक्के भी जड़े। यह 10 विकेट से जीत में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए की गई अब तक की सबसे बड़ी भागेदारी है।

जबकि कुल मिलाकर आईपीएल के ओवरऑल इतिहास में दूसरे नंबर पर सबसे बड़ी साझेदारी है जब बात 10 विकेट से जीत की आती है। इस मामले में नंबर एक पर केकेआर की जोड़ी गौतम गंभीर और क्रिस लिन है जिन्होंने 2017 में गुजरात लॉयन्स के खिलाफ 184 रनों की नाबाद ओपनिंग साझेदारी करके मैच जिताया था।

2008 से अब तक चार बड़ी पार्टनशिप-

2008 से अब तक चार बड़ी पार्टनशिप-

तीसरे नंबर पर बात पुरानी हो जाती है क्योंकि तब सचिन तेंदुलकर खेलते थे जिन्होंने सीजन 2012 में मुंबई इंडियंस के लिए ओपन करते हुए ड्वेन स्मिथ के साथ 163 रनों की ओपनिंग साझेदारी करके मैच जिताया था जबकि विपक्षी टीम थी- राजस्थान रॉयल्स।

चौथे नंबर पर बात और पुरानी हो जाती है जब एडम गिलक्रिस्ट ने डेक्कन चार्ज्स के लिए वीवीएस लक्ष्मण के साथ ओपन किया और 155 रनों की साझेदारी की। यह मुंबई इंडियंस के खिलाफ हुई थी जो साल 2008 में आई थी।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Monday, October 5, 2020, 9:49 [IST]
Other articles published on Oct 5, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X