बॉथम का रिकॉर्ड तोड़ने के बाद शार्दुल ठाकुर ने कहा- रन तो रन हैं, चाहे जैसे भी आएं

नई दिल्लीः भारत के हरफनमौला खिलाड़ी शार्दुल ठाकुर ने कहा कि वह इंग्लैंड में सबसे तेज टेस्ट अर्धशतक के इयान बॉथम के रिकॉर्ड को तोड़कर खुश हैं। इंग्लैंड के खिलाफ ओवल टेस्ट के पहले दिन बल्ले से ठाकुर ने कमाल का प्रदर्शन किया और अपनी टीम को 191 रनों तक पहुंचाया वर्ना यह स्कोर डेढ़ सौ पार भी नहीं हो पाता।

शार्दुल ठाकुर को भारतीय ड्रेसिंग रूम में उनके साथियों और मुख्य कोच बीफी कहकर बुलाते हैं। ठाकुर ने 31 गेंदों पर लगाए अर्धशतक के दम पर इयान बॉथम को पीछे छोड़ दिया।

शार्दुल ने जवाबी हमला करते हुए 36 गेंदों में 57 रन पर 7 चौके और 3 छक्के लगाए। शार्दुल ने बहुत दृढ़ विश्वास के साथ बल्लेबाजी की। 8वें विकेट के लिए टेल-एंडर उमेश यादव के साथ शार्दुल के 63 रन के स्टैंड ने सुनिश्चित किया कि रोहित शर्मा, केएल राहुल, चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे के फ्लॉप हो जाने के बाद भारत इन हालातों में एक सम्मानजनक पहली पारी स्कोर बनाए।

Tokyo Paralympics: हाई जंपर प्रवीण कुमार ने जीता सिल्वर मेडल, भारत को मिला 11वां पदकTokyo Paralympics: हाई जंपर प्रवीण कुमार ने जीता सिल्वर मेडल, भारत को मिला 11वां पदक

शार्दुल ने मेजबान प्रसारकों से कहा, "मुझे इसके बारे में पता नहीं था (इयान बॉथम का रिकॉर्ड तोड़ना)। लेकिन टीम के लिए महत्वपूर्ण रन बनाना हमेशा अच्छा होता है। हां, ये लोग मुझे बॉथम के नाम से चिढ़ा रहे हैं। लेकिन मुझे लगता है कि महान खिलाड़ी के साथ तुलना करना अच्छा है।"

शार्दुल ने कहा कि ऋषभ पंत के 9 रन पर आउट होने के बाद उन्होंने इंग्लैंड के गेंदबाजों पर आक्रमण करने का फैसला किया। मुंबई के हरफनमौला खिलाड़ी ने कहा कि रन बनाने का कोई सही तरीका नहीं है और वह गुरुवार को बड़े शॉट मारने के मूड में थे।

उन्होंने कहा, "जब ऋषभ आउट हुए, तो मेरे लिए ऐसी पारी खेलना महत्वपूर्ण था। दो तरीके हैं, या तो आप धैर्य रख सकते हैं और रन बनाने के लिए साथी पर भरोसा कर सकते हैं या इसे हिट कर सकते हैं। लेकिन दिन के अंत में, आपको रन बनाने होंगे। मुझे लगता है कि रन बनाने का कोई सही तरीका नहीं है। रन तो रन हैं। आज एक ऐसा दिन था जहां मैं ठीक से कनेक्ट कर सकता था। इसलिए मैं रनों के लिए जा रहा था।"

भारत ने दिन का खेल खत्म होने तक जो रूट के बड़े विकेट के साथ वापसी की। उमेश यादव ने इंग्लैंड के कप्तान के बेल्स को हिट कर दिया। इससे पहले जसप्रीत बुमराह ने नई गेंद से इंग्लैंड के ओपनरों को चलता कर दिया था।

ठाकुर ने कहा, "मुझे लगता है कि यह पिच बल्लेबाजों और गेंदबाजों दोनों के लिए अच्छी है। अगर आप सही क्षेत्रों में पिच करते रहते हैं, तो पिच में कुछ होता है। लेकिन साथ ही, गलती करने की गुंजाइश भी कम है क्योंकि बल्लेबाज रन बना सकता है।"

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Friday, September 3, 2021, 10:19 [IST]
Other articles published on Sep 3, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X