'हर बार पापा आर्थर बचाने नहीं आएंगे', शोएब अख्तर ने आमिर को दी सलाह

Shoaib Akhtar adviced Mohammad Amir to sort out his differences with national team | Oneindia Sports

नई दिल्ली। पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर ने दिसंबर 2020 में क्रिकेट से अचानक संन्यास लेने की घोषणा कर एक बड़ा विवाद खड़ा कर दिया। अपनी रिटायरमेंट के साथ, आमिर ने पाकिस्तान के टीम प्रबंधन पर उनके साथ दुर्व्यवहार करने और उन्हें मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाया। आमिर द्वारा लगाए गए आरोपों को क्रिकेट बिरादरी से मिली-जुली प्रतिक्रिया मिली क्योंकि कुछ ने तेज गेंदबाज का समर्थन किया, जबकि अन्य ने टीम के मुख्य कोच और अन्य प्रबंधन सदस्यों के खिलाफ इस तरह के बयान देने के लिए उनकी आलोचना की। अब, पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने आमिर पर निशाना साथा है।

पृथ्वी शाॅ बोले- वो हमारे साथ डिनर पर शामिल होते थे, लेकिन हम उनसे डरते थे

अख्तर ने आमिर को दी सलाह

अख्तर ने आमिर को दी सलाह

अख्तर ने जोर देकर कहा कि आमिर को बड़े होने की जरूरत है क्योंकि उन्हें पाकिस्तान के पूर्व मुख्य कोच मिकी आर्थर से हमेशा आश्रय नहीं मिलेगा। अख्तर ने आगे मोहम्मद हफीज का उदाहरण देते हुए कहा कि हफीज को टीम प्रबंधन से भी समस्या थी लेकिन उन्होंने फिर भी एक लंबे क्रिकेट करियर का आनंद लिया। अख्तर ने कहा, "कभी आपके अच्छे दिन होते हैं और कभी-कभी आपके बुरे दिन होते हैं। आमिर को इस बात का एहसास होना चाहिए था कि हर बार पापा मिकी आर्थर हमेशा उन्हें बचाने नहीं आएंगे। कभी-कभी आपको बड़ा होना पड़ता है। यह मैं आमिर के लिए कह रहा हूं। कभी-कभी आपको बड़ा होना पड़ता है।

सुशील जांच में ठीक से नहीं दे रहे सहयोग, गैंगस्टर नीरज के मामले पर साधी चुप्पी

यह ना सोचें कि प्रबंधन मेरी इच्छा के अनुसार नहीं है

यह ना सोचें कि प्रबंधन मेरी इच्छा के अनुसार नहीं है

अख्तर ने पीटीवी स्पोर्ट्स पर बोलते हुए कहा, "आपको इस बात को समझने के लिए पर्याप्त परिपक्व होना चाहिए। यह ना समझें कि प्रबंधन मेरी इच्छा के अनुसार नहीं है। यह सोचें कि अब मुझे अपना प्रदर्शन और कड़ी मेहनत का स्तर बढ़ाना है। प्रबंधन भी हफीज के खिलाफ था। हफीज ने ऐसा क्या किया जो अलग था? उन्होंने सिर्फ रन बनाए और कुछ नहीं। उन्होंने प्रबंधन को पैसों से भरा लिफाफा नहीं दिया। आमिर को हफीज से सीखना चाहिए था।"

उन खिलाड़ियों पर कभी शक न करें जिन्होंने अतीत में आपके लिए मैच जीते हैं

उन खिलाड़ियों पर कभी शक न करें जिन्होंने अतीत में आपके लिए मैच जीते हैं

हाल ही में, मोहम्मद आमिर ने फिर से सुर्खियां बटोरीं क्योंकि उन्होंने प्रतिभा के गलत इस्तेमाल के लिए पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की खिंचाई की। 29 वर्षीय आमिर ने जोर देकर कहा कि प्रबंधन को आंकड़ों के बजाय खिलाड़ी की मैच जीतने की क्षमताओं पर अधिक ध्यान देना चाहिए। उन्होंने आगे सुझाव दिया कि पीसीबी को खिलाड़ियों को उनके बुरे दौर में समर्थन देना चाहिए।

मोहम्मद आमिर ने क्रिकबज से बात करते हुए कहा था, "उन खिलाड़ियों पर कभी संदेह न करें जिन्होंने अतीत में आपके लिए गेम जीते हैं। आंकड़ों की वजह से उनकी क्षमता पर कभी शक नहीं करना चाहिए। आंकड़ों पर बहुत ज्यादा ध्यान देने के बजाय आपको यह देखना होगा कि क्या खिलाड़ी मुश्किल परिस्थितियों से पाकिस्तान के लिए मैच जीतने की क्षमता रखता है। जब कोई खिलाड़ी बुरे दौर में होता है, तब टीम प्रबंधन और प्रशंसकों को उसका सबसे ज्यादा समर्थन करने की जरूरत होती है।"

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Wednesday, May 26, 2021, 13:50 [IST]
Other articles published on May 26, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X