क्या T20 WC फाइनल में टॉस से ही तय हो जायेगा वर्ल्ड चैम्पियन, जानें क्या बोले कप्तान एरॉन फिंच

T20 World Cup
Photo Credit: Twitter/T20WorldCup

नई दिल्ली। यूएई में खेले जा रहे टी20 विश्वकप का फाइनल मैच आयोजित होने में अब कुछ घंटों का ही समय बाकी रह गया है, जिसमें न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया की टीमें दुबई के मैदान पर खिताब के लिये भिड़ेंगी। फैन्स को 2015 वनडे विश्वकप का एक्शन रिप्ले देखने की उम्मीद है जिसमें कीवी टीम जीत की दहलीज पर पहुंचकर मैच हार गई थी। टी20 विश्वकप के फाइनल में पहुंचने के लिये जहां न्यूजीलैंड की टीम ने इंग्लैंड को 5 विकेट से मात दी तो वहीं पर ऑस्ट्रेलिया की टीम ने भी रोमांचक मैच में पाकिस्तान को हराकर अपने दूसरे फाइनल में जगह बनायी। दोनों टीमों ने अब तक टी20 क्रिकेट के इतिहास में अब तक एक बार भी खिताब नहीं जीता है, लेकिन अब जब दोनों ने फाइनल में जगह बना ली है तो फैन्स को एक नया चैम्पियन मिलना तय हो गया है।

और पढ़ें: क्या स्प्लिट कैप्टेंसी से बढ़ेगी भारत की मुश्किल, रोहित-कोहली को लेकर पूर्व पाक कप्तान ने दिया बड़ा बयान

टी20 विश्वकप का फाइनल मैच दुबई के मैदान पर खेला जाना है, जहां पर टॉस ने अब तक के मैचों के नतीजे में बेहद अहम भूमिका निभाई है। आईपीएल 2021 से लेकर अब तक दुबई के मैदान पर 17 मैच खेले जा चुके हैं जिसमें से 16 बार टॉस जीतकर रनों का पीछा करने वाली टीम को जीत मिली है तो वहीं पर सिर्फ एक बार ही टॉस हारने वाली टीम को जीत हासिल हुई है। ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि क्या इस खिताबी मुकाबले के विजेता का फैसला भी टॉस पर हो जायेगा।

और पढ़ें: IND vs PAK: 2022 में कम से कम 3 बार पाकिस्तान से भिड़ेगा भारत, जानें कब और कहां होगी भिड़ंत

क्या विश्वकप में भी दिखेगा आईपीएल फाइनल का रिप्ले

क्या विश्वकप में भी दिखेगा आईपीएल फाइनल का रिप्ले

उल्लेखनीय है कि दुबई के मैदान पर टॉस जीतने वाली टीम का बोलबाला रहा है और सिर्फ एक बार ही टॉस हारने वाली टीम को जीत मिली है। यह जीत चेन्नई सुपर किंग्स की टीम ने आईपीएल 2021 के फाइनल मैच में केकेआर के खिलाफ हासिल की थी। आईपीएल 2021 के दूसरे लेग के दौरान टॉस जीतने वाली टीम पहले फील्डिंग कर रही थी और मैच जीत रही थी लेकिन इस ट्रेंड को फाइनल में सीएसके की टीम ने तोड़ा जिसे टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी के लिये उतरना पड़ा। सीएसके की टीम ने विशाल स्कोर खड़ा किया और केकेआर की टीम को उसे चेज करने से रोका। कुछ वैसा ही ट्रेंड हमें टी20 विश्वकप के दौरान भी देखने को मिला, ऐसे में सवाल यह है कि क्या आईपीएल की तरह इस टूर्नामेंट के फाइनल मैच में भी ट्रेंड बदलता नजर आयेगा या एक बार फिर से टॉस का दबदबा रहेगा।

जानें क्या बोले एरॉन फिंच

जानें क्या बोले एरॉन फिंच

वहीं जब यह सवाल ऑस्ट्रेलियाई कप्तान एरॉन फिंच से किया गया तो उन्होंने कहा कि आप पूरी तरह से टॉस पर निर्भर नहीं रह सकते हैं और अगर आपको खिताब जीतना है तो कभी न कभी तो पहले बल्लेबाजी करनी होगी।

सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड से बात करते हुए उन्होंने कहा,'जाहिर सी बात है यह देखने को मिल सकता है। इस टूर्नामेंट में कभी न कभी जीत हासिल करने के लिये आपको पहले बल्लेबाजी करनी होती है। दरअसल पाकिस्तान के खिलाफ खेले गये मैच में मैं उम्मीद कर रहा था कि टॉस हार जाउं और पहले बल्लेबाजी करके सेमीफाइनल मैच जीतूं। यह उन दिनों में से होता है जहां पर आपको कभी भी पहले बल्लेबाजी का मौका नहीं मिलता लेकिन आप बुरा नहीं मानते हैं अगर करनी पड़ती है। फाइनल में जाते हुए भी ऐसा ही मानना है।'

टी20 प्रारूप में हर कोई करना चाहता है चेज

टी20 प्रारूप में हर कोई करना चाहता है चेज

एरॉन फिंच ने आगे बात करते हुए कहा कि क्रिकेट के सबसे छोटे प्रारूप में हर टीम रनों का पीछा करना चाहती है लेकिन ऐसे मैचों में आपको पहले खेलकर स्कोर बनाने पर भी जोर देना होता है।

उन्होंने कहा,'हम सबने आईपीएल का फाइनल देखा था, चेन्नई ने बड़ा स्कोर बनाया और बोर्ड पर रनों का अंबार लगाकर सामने वाली टीम को रोक दिया। अगर उस दिन यह हो सकता है तो हमें दोबारा भी यह देखने को मिल सकता है। अगर आप एक बड़ा स्कोर बोर्ड पर लगाते हैं तो विपक्षी टीम तेजी से रन बनाने का रिस्क लेती है और कुछ विकेट मैच को आपके फेवर में कर देते हैं। दुनिया की हर टीम रनों का पीछा करना चाहती है लेकिन आपको बड़े स्कोर डिफेंड करने का महत्व भी पता होना चाहिये।'

कीवी टीम के सामने जीत आसान नहीं होगी

कीवी टीम के सामने जीत आसान नहीं होगी

फिंच ने आगे बात करते हुए कहा,'रनों का पीछा करने के अपने रिस्क हैं, अगर आपकी विपक्षी टीम ने बड़ा स्कोर खड़ा कर दिया तो आपके लिये उसका पीछा करना मुश्किल हो जाता है। भले ही आप दुनिया के किसी भी मैदान पर खेल रहे हैं बड़े रनों का पीछा करना आसान नहीं होता है। भले ही इस टूर्नामेंट में चेज करना एक ट्रेंड रहा है लेकिन आपको किसी भी परिस्थिति में खेलने के लिये तैयार रहना होता है। न्यूजीलैंड की टीम के बारे में आप जानते हैं कि वो कितनी ज्यादा कॉम्पिटेटिव हैं, उनके सामने जीत आसान नहीं रहने वाली है।'

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Saturday, November 13, 2021, 21:08 [IST]
Other articles published on Nov 13, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X