ये हैं 5 युवा भारतीय खिलाड़ी, जो 2022 T20 वर्ल्ड कप के लिए हो सकते हैं तैयार

नई दिल्ली। आईसीसी टी20 विश्व कप 2021 में भारतीय क्रिकेट टीम का सफर बेहद खराब रहा था। टीम सुपर 12 में खेले 5 मैचों दो हार मिलने के कारण सेमीफाइनल की दाैड़ से बाहर हो गई थी। हालांकि, ऑस्ट्रेलिया में अक्तूबर 2022 में शुरू होने वाले आगामी टी20 विश्व कप में टीम के पास फिर से खुद को साबित करने का मौका है। एक नए मुख्य कोच राहुल द्रविड़ के रूप में और नए टी20आई कप्तान रोहित शर्मा के साथ टीम अगले साल के विश्व कप की योजना पर काम करने के लिए लग गई है। कई नए चेहरे हैं जिन्हें आजमाया जा सकता है जबकि कुछ सितारों को दरकिनार करते हुए देखा जा सकता है। फिर भी, इस बात से इनकार किया जा सकता है कि टीम प्रबंधन को अभी के लिए खिलाड़ियों को तैयार करने की जरूरत है। हम उन 5 भारतीय खिलाड़ियों का जिक्र करेंगे, जो अगले टी20 वर्ल्ड कप के लिए तैयार हो सकते हैं-

यह भी पढ़ें- T20 World Cup : माईखेल हिंदी ने चुनी 'बेस्ट प्लेइंग इलेवन', सिर्फ 1 भारतीय को मिली जगह

1. वेंकटेश अय्यर

1. वेंकटेश अय्यर

मध्यप्रदेश के ऑलराउंडर वेंकटेश अय्यर इंडियन प्रीमियर लीग 2021 के दूसरे चरण में कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए खेलते हुए चर्चा में आए हैं। दूसरे चरण में खेले गए दस मैचों में उन्होंने 370 रन बनाए। उन्होंने 41.11 के औसत और 128.47 के स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी की। उनके बारे में जो खास बात है, वो है उनका हरफनमौला खेलना। भले ही केकेआर ने उन्हें एक गेंदबाज के रूप में ज्यादा इस्तेमाल नहीं किया, लेकिन कुछ मैचों में उन्होंने दिखाया कि आगे चलकर वह एक अच्छा सीम-बॉलिंग विकल्प क्यों हो सकते हैं। आईपीएल के बाद वह सैयद मुश्ताक अली टी20 ट्रॉफी 2021 में अपने घरेलू पक्ष के लिए दिखाई दिए और बल्ले और गेंद से कमाल करते दिखे। उन्होंने मुश्ताक अली ट्राॅफी में 141 के स्ट्राइक रेट से 155 रन बनाए और 5.80 की इकॉनमी से पांच विकेट लिए। उनके प्रदर्शन ने उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ T20I सीरीज के लिए टीम में शामिल कर दिया। अय्यर भी डेब्यू कर सकते हैं। उन्हें हार्दिक पांड्या का विकल्प माना जा रहा है।

2. ईशान किशन

2. ईशान किशन

इसमें कोई शक नहीं कि ईशान किशन इस समय घरेलू सर्किट में सबसे प्रतिभाशाली बल्लेबाजों में से एक है। झारखंड के विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान 2016 में U19 विश्व कप के फाइनल में जूनियर भारतीय टीम का नेतृत्व करने के बाद से अपने बल्ले से काफी प्रभावशाली रहा है। पिछले कुछ सालों में उन्होंने दिखाया है कि वह बड़े स्तर पर क्या हासिल कर सकते हैं। आईपीएल के 2020 सीजन में किशन को मध्यक्रम में आजमाया गया और वह लगभग हर खेल में प्रदर्शन करके सफल रहे। हालांकि भारतीय टीम के लिए उन्हें बतौर ओपनर आजमाया गया और उन्होंने अपने करियर की शुरुआत धमाकेदार तरीके से की। आईपीएल 2021 में भी उन्हें बताैर ओपनर आजमाया गया, जहां उन्होंने खतरनाक खेल दिखाकर सबका ध्यान अपनी ओर खींचा। उनकी प्रतिभा, कौशल को देखते हुए उन्हें आगामी विश्व कप के लिए तैयार करना मैनजमेंट का लक्ष्य होगा। इसी कारण उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ तीन टी20 मैचों की सीरीज के लिए चुना गया।

3. टी नटराजन

3. टी नटराजन

तमिलनाडु के इस तेज गेंदबाज ने 2020-21 में ऑस्ट्रेलियाई दौरे के दौरान अपने अंतरराष्ट्रीय करियर की शानदार शुरुआत की थी। उन्होंने तीनों प्रारूपों में पदार्पण किया और उन सभी मैचों में काफी प्रभावशाली थे। उन्होंने सबसे ज्यादा प्रभावित टी20आई क्रिकेट में। यॉर्कर फेंकने की उनकी क्षमता पहले से ही आईपीएल में देखी जा चुकी थी और माना जा रहा था कि वह इसे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी दोहरा सकते हैं। हालांकि किस्मत उनके साथ नहीं थी। 2021 की शुरुआत में इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज खेलने के बाद, एक चोट ने उन्हें आईपीएल के पहले चरण से बाहर कर दिया। जब वह दूसरे चरण के लिए लौटे, तो वे कोरोन पाॅजिटिव पाए गए। और वे T20 विश्व कप के लिए भी नहीं चुने गए। लेकिन, नए विश्व कप को देखते हुए वह एक अच्छा विकल्प है। सबसे पहले, अगर वह खेलते हैं, तो वह बाएं हाथ के तेज गेंदबाजी भारतीय आक्रमण को मजबूत करेंगे। वह एक बेहतरीन टी20 गेंदबाज हैं, जो मुश्किल हालात में अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं। वह ऐसा व्यक्ति है जो वास्तव में आगे बढ़ते हुए एक विशेषज्ञ सफेद गेंद वाला गेंदबाज बन सकता है और उसने ऑस्ट्रेलिया दौरे के दौरान भी प्रभावित किया था, यही कारण है कि भारत को अगले संस्करण के लिए उसका समर्थन करना चाहिए।

4. उमरान मलिक

4. उमरान मलिक

बहुत सारे प्रशंसक जम्मू-कश्मीर के इस युवा क्रिकेटर के बारे में नहीं जानते होंगे, लेकिन इंडियन प्रीमियर लीग के दूसरे चरण के अंत में, उन्होंने अपने गेंदबाजी प्रयास से बहुत सारे प्रशंसकों और विशेषज्ञों को प्रभावित किया। उनके बारे में सबसे दिलचस्प बात उनकी गति है। 21 वर्षीय उमरान में 150 किमी प्रति घंटे या उससे अधिक की रफ्तार से गेंद फेंक सकते हैं। उस तरह की गति के साथ, वह निस्संदेह भारत के सबसे तेज गेंदबाजों में से एक है। सनराइजर्स हैदराबाद के लिए खेलने के बाद उन्हें टी20 विश्व कप के लिए नेट गेंदबाज के रूप में चुना गया। फिर सैयद मुश्ताक अली टी20 ट्रॉफी में खेलने के लिए भारत लौट आए। उस टूर्नामेंट के बाद उन्हें दक्षिण अफ्रीका का दौरा करने वाली भारत ए टीम के लिए चुना गया। वह भारत के लिए घातक विकल्प हो सकते हैं, इसका कारण उनकी गति है। भारत के पास कोई भी गेंदबाज नहीं है जो 150 या उससे अधिक की गति से चल सके, एक ऐसा कौशल जो टी20 विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया में उनके लिए वास्तव में उपयोगी हो सकता है।

5. आवेश खान

5. आवेश खान

मध्यप्रदेश का यह तेज गेंदबाज कई सालों से सुर्खियों में नहीं था और पिछले कुछ सालों से अपने खेल में कड़ी मेहनत कर रहा था। अंडर-19 विश्व कप 2016 में स्वाभाविक क्षमता दिखाने के बाद उन्हें बड़े स्तर पर नियमित मौके नहीं मिले। हालांकि, 2021 को उनके करियर के टर्निंग पॉइंट के तौर पर याद किया जाएगा। दिल्ली कैपिटल्स ने इंडियन प्रीमियर लीग 2021 में उनका समर्थन किया और उन्होंने अपना कौशल दिखाया। 16 मैचों में, उन्होंने 24 विकेट लिए, जो टूर्नामेंट में सर्वाधिक विकेट लेने वाले दूसरे गेंदबाज थे। वह हर मैच में विकेट लीं और उन्होंने नई गेंद के साथ-साथ डेथ ओवरों में भी अपनी प्रतिभा दिखाई। अब, उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ T20I सीरीज के लिए भारतीय टीम के लिए चुना गया है और यह युवा पेसर के लिए सीखने का काम होना चाहिए। हालांकि, वह भारतीय क्रिकेट प्रणाली में एक उज्जवल प्रतिभा में से एक है और यह अच्छी बात होगी यदि भारत उसे अगले विश्व कप के लिए ठीक से तैयार करते हैं।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Wednesday, November 17, 2021, 15:10 [IST]
Other articles published on Nov 17, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X