ये हैं IPL से जुड़ चुके 5 सबसे 'बदमाश' क्रिकेटर, खा चुके हैं जेल की हवा

नई दिल्ली। आईपीएल को दुनिया की शीर्ष टी20 लीगों में से एक माना जाता है। अब तक कई खिलाड़ियों को इस विश्व स्तरीय आईपीएल क्रिकेट टूर्नामेंट में अपने लिए एक नाम बनाने का अवसर मिला है। इनमें से कई खिलाड़ियों ने इस मौके का फायदा उठाया और सभी का ध्यान आकर्षित किया। कुछ को राष्ट्रीय टीम में भी जगह मिली। लेकिन कुछ खिलाड़ी ऐसे भी हैं जिन्होंने ऐसी शर्मनाक हरकतें कीं जिसके कारण उन्हें जेल की हवा खानी पड़ी। कुछ पूर्व खिलाड़ियों ने भी आईपीएल में गलत कामों के कारण बदनामी खटी। ऐसे में आइए जानें IPL के 5 सबसे 'बदमाश' क्रिकेटरों के बारे में-

IPL 2021: जोस बटलर ने 2 साल की बेटी की मदद से शुरू की तैयारी, दिल छू लेगा वीडियो

1. एस श्रीसंत

1. एस श्रीसंत

श्रीसंत, जो कभी भारतीय टीम की तेज गेंदबाजी का एक महत्वपूर्ण हिस्सा थे, आईपीएल 2013 के दौरान जेल गए थे। श्रीसंत के साथ, राजस्थान रॉयल्स के दो खिलाड़ी अजीत चंदीला और अंकित चव्हाण को भी दिल्ली पुलिस के एक विशेष दल ने गिरफ्तार किया। आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग जांच के दौरान तीनों खिलाड़ियों को दोषी पाया गया था। श्रीसंत को आईपीएल में स्पॉट फिक्सिंग में शामिल होने के आरोप में बीसीसीआई द्वारा आजीवन प्रतिबंध भी लगाया गया था। हालांकि अदालत के आदेश के बाद अब उनका प्रतिबंध हटा दिया गया है, लेकिन भारतीय टीम के दरवाजे अब उनके लिए लगभग बंद हो गए हैं।

2. राहुल शर्मा

2. राहुल शर्मा

आईपीएल 2012 के दौरान, पुणे वारियर्स के राहुल शर्मा और दक्षिण अफ्रीका के वेन पर्नेल को ड्रग के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। मुंबई के एक होटल में पुलिस के छापे के बाद दोनों खिलाड़ियों को गिरफ्तार किया गया। आरोप था कि होटल में ड्रग्स का इस्तेमाल किया जा रहा था। पार्टी में भाग लेने वाले 86 लोगों के खिलाफ 1,200 पन्नों का आरोप पत्र दायर किया गया था। हालांकि, दोनों खिलाड़ियों ने सभी आरोपों से इनकार किया और दोषी नहीं होने की दलील दी।

3. ल्यूक पोमेरबैक

3. ल्यूक पोमेरबैक

आरसीबी के विदेशी खिलाड़ी ल्यूक पोमेरबैक को 2012 में एक अमेरिकी महिला के साथ दुर्व्यवहार करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। उन पर दिल्ली के एक पांच सितारा होटल में एक अमेरिकी महिला के प्रेमी की पिटाई करने का भी आरोप था। यह घटना दिल्ली कैपिटल और आरसीबी के बीच मैच के बाद हुई। ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर पर आईपीसी की धारा 354, 323, 454 और 511 के तहत आरोप लगाए गए थे।

4. तुषार अरोठे

4. तुषार अरोठे

गुजरात के 100 प्रथम श्रेणी मैच खेलने वाले पहले क्रिकेटर तुषार अरोठे को पुलिस ने 2019 में आईपीएल के 12 वें सीजन में सट्टेबाजी के आरोप में गिरफ्तार किया था। बड़ौदा पुलिस ने दिल्ली राजधानी और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच मैच पर सट्टा लगाने के आरोप में तुषार अरोठे सहित 18 लोगों को गिरफ्तार किया है। तुषार अरोठे को बाद में जमानत पर रिहा कर दिया गया। उन्होंने कहा था कि वह मामले में पूरी तरह निर्दोष हैं।

5. नयन शाह

5. नयन शाह

महाराष्ट्र के एक युवा क्रिकेटर नयन शाह को आईपीएल में सट्टेबाजी के लिए गिरफ्तार किया गया था। कानपुर पुलिस को पता चला था कि 19 साल से कम उम्र और सट्टेबाजी में क्रिकेटरों का एक रैकेट था। आरोप लगाया गया कि पिच के बारे में जानकारी देने के लिए नयन ने 15 लाख रुपए लिए। साथ ही, मुंबई पिच की तस्वीरें उसके मोबाइल फोन से जब्त कर ली गईं और कहा गया कि उसका पूरे आईपीएल टूर्नामेंट के लिए अनुबंध है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Read more about: cricket ipl ipl 2021 s sreesanth
Story first published: Tuesday, April 6, 2021, 21:28 [IST]
Other articles published on Apr 6, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X