क्रिसमस की बधाई देकर ट्रोल हुए मोहम्मद कैफ, जानिए क्या-क्या सुनने को मिला?

Posted By:
mohammad kaif

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद कैफ को सोशल मीडिया पर एक बार फिर ट्रोल किया गया है। मोहम्मद कैफ ने अपने ट्विटर अकाउंट से फैंस को क्रिसमस की बधाई दी थी जिसके बाद लोग उनकी आलोचना करने लगे। कई लोगों को इस बात से तकलीफ है कि मुसलमान होने के बाद कैफ ईसाई धर्म का त्योहार क्यों मना रहे हैं। मोहम्मद कैफ को ट्रोल्स इससे पहले भी कई बार निशाना बना चुके हैं।

लोगों ने कैफ की फोटो पर किए भद्दे कमेंट

लोगों ने कैफ की फोटो पर किए भद्दे कमेंट

मोहम्मद कैफ ने 25 दिसंबर को अपने परिवार के साथ क्रिसमस की फोटो फैंस के साथ शेयर की थी। उन्होंने सभी को क्रिसमस की बधाई देते हुए लिखा था, 'मेरी क्रिसमस। शांति और मोहब्बत बना रहे।' इस तस्वीर को डालते ही सोशल मीडिया यूजर के नेगेटिव कमेंट आने लगे।

कुछ ने उन्हें फतवे और इस्लाम का डर दिखाया

कुछ ने उन्हें फतवे और इस्लाम का डर दिखाया

लोगों कैफ की तस्वीर पर काफी भद्दे कमेंट किए। कुछ ने उन्हें फतवे और इस्लाम का डर दिखाया, तो किसी ने लानतें दे डालीं। एक ट्विटर यूजर ने लिखा, 'मेरा दिल दुख गया ये देखकर, इसे डीलिट करिए। ये त्योहार हम मुसलमानों का नहीं है, इसकी मुबारक देना भी गुनाह है।' वहीं कई लोगों ने लिखा कि इसके लिए उन्हें जल्द ही फतवा मिलने वाला है।

छठ की बधाई देने पर भी ट्रोल हुए थे कैफ

छठ की बधाई देने पर भी ट्रोल हुए थे कैफ

वैसे ये पहली बार नहीं है जब कैफ को किसी बात पर ट्रोल किया गया हो। इससे पहले उन्होंने देशवासियों को छठ त्योहार की बधाई दी थी जिसपर उन्हें काफी ट्रोल किया गया था। तब भी लोगों ने यही कहा था कि वो गैर-इस्लामिक त्योहारों को क्यों बधाई दे रहे हैं।

तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का किया था समर्थन

तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का किया था समर्थन

इससे पहले मोहम्मद कैफ को तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का समर्थन करने के लिए ट्रोल किया गया था। सुप्रीम कोर्ट ने इंस्टैंट तीन तलाक पर बैन लगा दिया था। इसपर कैफ ने कहा था कि इससे मुस्लिम महिलाओं को सुरक्षा मिलगी। लोगों ने कैफ के इस ट्वीट पर भी काफी भद्दे कमेंट किए थे। उन्हें सूर्य नमस्कार करने के लिए भी ट्रोल किया गया था।

ये भी पढ़ें:VIDEO: धोनी की बेटी जीवा ने गाया क्रिसमस सॉन्ग, वीडियो हो रहा है वायरल

Story first published: Tuesday, December 26, 2017, 16:16 [IST]
Other articles published on Dec 26, 2017
Please Wait while comments are loading...