IND vs SL : वीरेंद्र सहवाग ने बताई हार की वजह, बोले- शिखर धवन से यहां हुई चूक

Virender Sehwag, Ashish Nehra chooses Team India playing 11 for T20I WC 2021| Oneindia Sports

कोलंबो : कई अटकलों के बाद आखिरकार भारत-श्रीलंका के बीच तीन टी20 मैचों की सीरीज का दूसरा मैच बुधवार को खेला गया। इस मैच में भारत की ओर 4 खिलाड़ियों ने डेब्यू किया। एक नई टीम के साथ शिखर धवन मैदान पर उतरे, हालांकी टीम को रोमांचक मोड़ पर हार का सामना करना पड़ा। खराब बल्लेबाजी के चलते भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 5 विकेट खोकर सिर्फ 132 रन बनाए, जवाब में श्रीलंका ने 2 गेंदें शेष रहते मैच अपने नाम कर लिया। एक समय था जब भारत जीत की ओर था, लेकिन अंतिम समय सब पलट गया। वहीं पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने हार की वजह निकालते हुए बताया कि आखिर कहां कप्तान धवन से चूक हुई।

Tokyo Olympics : जाट परिवार से है पूजा रानी, पिता से बचने के लिए दोस्त के घर रहना पड़ता थाTokyo Olympics : जाट परिवार से है पूजा रानी, पिता से बचने के लिए दोस्त के घर रहना पड़ता था

शायद यहां धवन चूक गए

शायद यहां धवन चूक गए

सहवाग का कहना है कि धवन बीच के ओवरों में नवदीप सैनी को गेंद साैंप सकते थे और नीतीश राणा से भी गेंदबाजी करवानी चाहिए थी क्योंकि पिच स्पिन के अनुकूल थी। सहवाग ने क्रिकबज के साथ बात करते हुए कहा, ''वरूण चक्रवर्ती ने साबित किया है कि आप उनसे आखिरी ओवरों में भी गेंदबाजी कवा सकते हैं। यह नई बात नहीं है। चक्रवर्ती ने आईपीएल में कोलकाना नाइट राइडर्स के लिए यह काम किया है। पावरप्ले खत्म होने के बाद जब कुलदीप यादव और राहुल चाहर ने विकेट ली थी तो उस समय नीतीश को गेंद साैंपनी चाहिए थी, उससे दो ओवर कराए जा सकते थे। मुझे लगता है कि शायद यहां धवन चूक गए। आखिर समय में जो रन जाते हैं वो दुख देते हैं। भले ही आप नए लड़कों को मौका दे रहे हो लेकिन आपकी प्राथमिकता मैच जीतना ही होनी चाहिए।''

सहवाग कप्तान होते तो क्या करते?

सहवाग कप्तान होते तो क्या करते?

इसके बात सहवाग से सवाल किया गया कि अगर वो कप्तान होते तो ऐसे हालात में क्या करते? इसका जवाब देते हुए सहवाग ने कहा कि वो बीच में नवदीप सैनी से गेंदबाजी करवाते। उन्होंने कहा, ''मैं चक्रवर्ती का प्रयोग आखिरी के ओवरों में करता और कुलदीप यादव के अनुभव का भी फायदा उठाता। तेज गेंदबाजों को आखिरी समय चाैके पड़ सकते हैं। वैसे भी इस पिच पर स्पिनर्स के खिलाफ खेलना मुश्किल भरा था।''

सैनी ने नहीं फेंका एक भी ओवर

सैनी ने नहीं फेंका एक भी ओवर

धवन से यह गलती रही कि उन्होंने नवदीप सैनी से एक भी ओवर नहीं फेंकवाया। इस मैच में 6 गेंदबाज उतरे, लेकिन धवन ने 5 को आजमाया। चेतन सकारिया सबसे महंगे साबित हुए जिन्होंने 1 विकेट तो लिया लेकिन 34 रन लुटा दिए। आखिरी 2 ओवर में 20 रन चाहिए थे, लेकिन भुवनेश्वर कुमार ने 19वें ओवर में 12 रन लुटा दिए। वहीं आखिरी ओवर में चेतन भी 8 रन का बचाव नहीं कर सके। अब सीरीज 1-1 की बराबरी पर है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Thursday, July 29, 2021, 11:59 [IST]
Other articles published on Jul 29, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X