श्रेयस अय्यर की इंजरी पर बोले वीरेंद्र सहवाग, मैंने तो ठान लिया था कि बेकार की डाइव नहीं मारूंगा

पुणे। इंग्लैंड के खिलाफ पहले वनडे मैच में टीम इंडिया ने 66 रन की जबरदस्त जीत दर्ज जरूर की थी लेकिन मैच में भारतीय टीम को बड़ा झटका भी लगा था। टीम के स्टार बल्लेबाज श्रेयस अय्यर फील्डिंग के दौरान चोटिल हो गए थे, जिसके बाद उन्हें मैच के बीच में ही मैदान से बाहर जाना पड़ा और उनकी जगह शुबमन गिल मैदान पर फील्डिंग के लिए आए थे। श्रेयस अय्यर के कंधे में चोट लग गई, जिसके बाद वो बाकी के दो वनडे मैचों के लिए टीम से बाहर हो गए, साथ ही आईपीएल में भी वह खेलते हुए नजर नहीं आएंगे। अय्यर के चोटिल होने के बाद पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने कहा कि खिलाड़ियों को बेकार की डाइव मारने से बचना चाहिए।

 बेकार की डाइव नहीं मारनी चाहिए

बेकार की डाइव नहीं मारनी चाहिए

क्रिकबज के कार्यक्रम में बोलते हुए वीरेंद्र सहवाग ने कहा चोट लगना खेल का हिस्सा है, लेकिन फिर भी मैं ये मानता हूं कि जो इंजरी जानबूझकर आ जाती है, जैसे आपको डाइव मारने की जरूरत नहीं है और आप डाइव मारकर खुद को चोटिल कर लेते हैं। मैंने बहुत बार देखा है कि खिलाड़ी गेंद के पीछे भाग रहे हैं, बाउंड्री हो गई है,फिर भी जबरदस्ती की डाइव मार देते हैं। अगर पैर फंस गया तो घुटने को कुछ हो जाएगा, या फिर कंधे के बल आप गिर गए तो आपका कंधा डिस्लोकेट हो सकता है।

2002 में मेरे साथ ऐसे हुआ था

2002 में मेरे साथ ऐसे हुआ था

सहवाग ने अपने साथ हुए वाकये का जिक्र करते हुए कहा कि मेरे साथ 2002 में ऐसा हुआ था, मेरा बायां कंधा डिस्लोकेट हो गया था, जब मैं कैच पकड़ने की कोशिश कर रहा था तो डाइव मारी और मेरा कंधा डिस्लोकेट हो गया था, जिसके बाद मैंने लगभग 5-7 टेस्ट मैच मिस किए। उसके बाद मैंने ठान ली थी कि बेकार की फालतू में डाइव नहीं मारूंगा, चार रन जाने दूंगा, अगर फिट रहा तो 10 रन ज्यादा बना दूंगा और10 मैच ज्यादा खेल सकता हूं। मुझे लगता है कि इन चीजों को नजरअंदाज करना चाहिए। बाउंड्री लाइन पर जो फील्डर फील्डिंग करते हैं उन्हें इन चीजों से बचना चाहिए ताकि इंजरी ना हो।

6 महीने के लिए बाहर हो सकते हैं अय्यर

6 महीने के लिए बाहर हो सकते हैं अय्यर

श्रेयस अय्यर की चोट के बारे में वीरेंद्र सहवाग ने कहा कि यह इतनी तगड़ी इंजरी है कि अगर उनका ऑपरेशन हुआ तो उनके 6 महीने चले जाएंगे। एक बार जब सर्जरी होती है तो डॉक्टर भी कम से कम 6-8 हफ्ते के लिए आराम करने को कहता है। लेकिन डॉक्टर यह सामान्य व्यक्ति के लिए कहता है, स्पोर्ट्समैन के लिए ये 3-4 महीने हो जाते हैं। लेकिन वास्तव में खिलाड़ी को वापसी करने में अपनी फिटनेस को फिर से हासिल करने में 5-6 महीने लग जाते हैं। मेरी तीन बार सर्जरी हुई है, मेरा तो 8 हफ्ते बाद भी मेरा हाथ ऊपर नहीं जा रहा था। मेरे हिसाब से अगर श्रेयस अय्यर का ऑपरेशन होता है तो वह लंबे समय तक बैठ सकते हैं। ऐसे में मुझे लगता है कि श्रेयस अय्यर को यह नजरअंदाज करना चाहिए था। श्रेयस अय्यर की कमी उनकी टीम को खलेगी। दिल्ली की टीम को उनकी कमी खलेगी।

इसे भी पढ़ें- इंग्लैंड की पूरी टीम लगाती है महिलाओं वाला डियोड्रेंट, बेन ने बताया अपना पसंदीदा फ्लेवर

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Friday, March 26, 2021, 15:19 [IST]
Other articles published on Mar 26, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X