इंग्लैंड से हार के बाद सबसे मुश्किल दौर में जब धोनी को मिला इरफान खान का सपोर्ट

When Irrfan Khan supported MS Dhoni during his toughest phase in captaincy career | वनइंडिया हिंदी

नई दिल्ली: हाल ही में गुजरे असाधारण अभिनेता इरफान खान, एक शौकीन क्रिकेट प्रशंसक होने के अलावा पूर्व भारतीय कप्तान एमएस धोनी के समर्थक भी थे। इरफान ने मौकों पर दिखाया कि वे धोनी के समर्थक थे और उनको क्रिकेट की अच्छी समझ थी। यह भी बात छुपी नहीं है कि एक समय इरफान खुद क्रिकेटर बनना चाहते थे।

जब भारतीय टीम अपने घर में इंग्लैंड के हाथों अपमानजनक हार के बाद फजीहत के दौर से गुजर रही थी और धोनी अचानक नेशनल विलेन की तरह से देखे जाने लगे थे, तब भी इरफान ने तत्कालीन कप्तान का सपोर्ट किया था।

इंग्लैंड से घर में हार के बाद धोनी पर सवाल-

इंग्लैंड से घर में हार के बाद धोनी पर सवाल-

दरअसल भारतीय टीम ने घर में एक अभेद्य किले का निर्माण किया और 2004 में ऑस्ट्रेलियाई टीम से मिली हार के बाद घरेलू टेस्ट श्रृंखला में अपराजित रही थी। और भारतीय टीम 2010 में टेस्ट क्रिकेट में शिखर पर पहुंची थी। हालांकि, सब 2011-2012 के मौसम में बदल गया जब इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में भारत ने अपना सूपड़ा साफ करवा लिया। धोनी को खेल के सबसे लंबे प्रारूप में उनकी कप्तानी पर तीखी टिप्पणी मिलनी शुरू हो गई।

रॉस टेलर ने जीता टॉप कीवी अवॉर्ड, बताया कब तक है संन्यास लेने का इरादा

धोनी के सपोर्ट में आगे आए थे इरफान खान-

धोनी के सपोर्ट में आगे आए थे इरफान खान-

लेकिन घावों पर नमक छिड़कने वाली हार मिली 2012 में जब भारत ने अपने घर में इंग्लैंड के हाथ चार मैचों की टेस्ट सीरीज भी 2-1 के अंतर से गंवाई। कोलकाता टेस्ट मैच में भारत के हारने के बाद, इरफान ने ट्वीट कर धोनी के समर्थन में कहा, "अब वे बलि का बकरा ढूंढेंगे, और वह धोनी होगा।"

2017 में, एमएस धोनी ने कप्तानी छोड़ने का फैसला किया और विराट कोहली को बल्लेबाजी के लिए आगे किया। इरफान ने धोनी को भारतीय टीम के कप्तान के रूप में उनके शानदार करियर के लिए के लिए बधाई दी।

सचिन, कपिल और धोनी थे पसंदीदा क्रिकेटर-

सचिन, कपिल और धोनी थे पसंदीदा क्रिकेटर-

"एक समय पर, मैं सचिन (तेंदुलकर) को पसंद करता था। कपिल (देव) भी पसंदीदा थे। (एमएस) धोनी ने कुछ चरित्र दिखाए हैं। उन्होंने अपने दम पर भारत के लिए मैच जीते हैं। वह एक महान कप्तान हैं, "इरफान ने 2014 में कहा था। यहां तक ​​कि 2018 में ब्रिटेन में उनके इलाज के दौरान, इरफान को भारत के इंग्लैंड के दौरे के दौरान खेलों में से एक में देखा गया था।

खुद भी क्रिकेटर बनना चाहते थे इरफान-

खुद भी क्रिकेटर बनना चाहते थे इरफान-

इरफान खान बचपन से ही एक सफल क्रिकेटर बनना चाहते थे, द टेलिग्रॉफ को दिये गये एक इंटरव्यू में उन्होंने खुद ही इस बात का खुलासा किया था। इस दौरान इरफान ने बताया था कि उनका चयन सीके नायडू ट्रॉफी में खेलने के लिये टीम में हो गया था, लेकिन मैच खेलने के लिये उन्हें ट्रैवल करना पड़ता और उसके लिये उन्हें आने-जाने के लिये कम से कम 600 रु की दरकार थी। जो उस वक्त वे किसी से मांग नहीं सके।

गौतम गंभीर ने बताया रोहित शर्मा को दुनिया का सर्वश्रेष्ठ सफेद बॉल क्रिकेटर

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Friday, May 1, 2020, 9:42 [IST]
Other articles published on May 1, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X