जब 2012 में CSK को हराकर KKR बना चैंपियन, बिसला ने ठोके थे तूफानी रन

स्पोर्ट्स डेस्क (नोएडा)। आईपीएल सीजन-14 अब समाप्ति की ओर आ चुका है। काैन सी टीम विजेता रहेगी, इसका फैसला 15 अक्तूबर को दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में होगा। मुकाबला केकेआर और तीन बार की चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स के बीच होगा। यह मैच धमाकेदार रहने वाला है क्योंकि इतिहास पर नजर डालें तो केकेआर अहम मुकाबलों में भी किसी को मात देने में सक्षम है। केकेआर ने क्वालिफायर 2 में दिल्ली कैपिटल्स को हराकर फाइनल में जगह बनाई थी। केकेआर दो बार चैंपियन रह चुका है। एक बार 2012 में तो दूसरी बार 2014 में। अब तीसरा खिताब जीतने के करीब भी टीम खड़ी है। लेकिन इस मैच से पहले केकेआर के फैंस को यह बात खुश कर देगी कि 2012 में टीम चेन्नई को हराकर ही चैंपियन बनी थी।

यह भी पढ़ें- हार के बाद रो पड़े ऋषभ पंत, कहा- अगले सीजन में बेहतर वापसी करेंगे

सीएसके को हरा चुके हैं फाइनल में

सीएसके को हरा चुके हैं फाइनल में

केकेआर के लिए अच्छी बात यह है कि वो जब पहली बार चैंपियन बनी थी तो उसने फाइनल में चेन्नई को ही 5 विकेट से हराया था। उस समय केकेआर के लिए कप्तान गाैतम गंभीर थे, जबकि चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ही थे, जो इस बार भी फाइनल में केकेआर का सामना करने के लिए तैयार हैं। 2012 के फाइनल में केकेआर ने अंक तालिका में दूसरे स्थान पर रहते हुए फाइनल में जगह बनाई थी, जबकि चेन्नई ने चाैथे स्थान पर रहकर एलिमिनेटर व क्वालिफायर 2 में जीतकर फाइनल में प्रवेश किया था। मैच चेन्नई के एमए चिंदबरम स्टेडियम में हुआ, जहां धोनी ने टाॅस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया। चेन्नई ने 3 विकेट खोकर 190 रन बना डाले, जिसमें माइकल हसी के 43 गेदों में 54 रन थे, जबकि सुरेश रैना ने 38 गेंदों मे 73 रन बनाए थे। मुरली विजय ने 42 तो धोनी 14 रन बनाकर नाबाद रहे थे।

बिसला ने ठोके थे तूफानी रन

बिसला ने ठोके थे तूफानी रन

लक्ष्य का पीछा करने उतरी तब केकेआर को पहला झटका महज 3 के स्कोक पर कप्तान गाैतम गंभीर (2) के रूप में लग गया। लेकिन इसके बाद दूसरे विकेट के लिए मनविंदर बिसला व जैक कैलिस के बीच 136 रनों की तेज साझेदारी हुई जिससे चेन्नई के हाथ से मैच जाता दिखा। ओपनर बिसला ने 48 गेंदों में तूफानी 89 रन ठोके, जिसमें 8 चाैके व 5 छक्के शामिल रहे। वहीं कैलिस ने 49 गेंदों में 69 रन बनाए। इनके आउट होने के बाद लक्ष्मी शुक्ला (3), युसूफ पठान (1) सस्ते में आउट हो गए, लेकिन अंत में शाकिब अल हसन (11) व मनोज तिवारी (9) ने मिलकर टीम को शेष 2 गेंदें रहते 5 विकेट से जीत दिला दी और पहला खिताब भी जीत लिया।

केकेआर के पास तीसरी बार खिताब जीतने का माैका

केकेआर के पास तीसरी बार खिताब जीतने का माैका

अब केकेआर के खिलाफ तीसरा खिताब जीतने का सुनहरा माैका है। केकेआर ने 2014 में पंजाब को हराया था। पंजाब ने 199 रन बनाए थे, लेकिन केकेआर ने 3 गेंदें शेष रहते मैच जीतकर दूसरी बार खिताब अपने नाम कर लिया था। अब केकेआर के पास एक बार फिर इसपर कब्जा करने का माैका है। ओपनर वेंकटेश अय्यर फाॅर्म में हैं, जिन्होंने दिल्ली के खिलाफ जीत दिलाने के लिए मुश्किल पिच पर 55 रनों की पारी खेली थी। वहीं सीएसके की नजरें चाैथी बार चैंपियन बनने पर होंगी।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Thursday, October 14, 2021, 14:16 [IST]
Other articles published on Oct 14, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X