'मुसलमान बन जाओ, जन्नत मिलेगी', जब पाकिस्तानी खिलाड़ी ने दिलशान को दी थी धर्म परिवर्तन की सलाह

नई दिल्ली। क्रिकेट के मैदान पर खिलाड़ियों के बीच अक्सर रनों की हाथापाई के बीच कई तरह के वाद-विवाद भी देखने को मिलते हैं। इस दौरान खिलाड़ियों के बीच आपस में होने वाली नोंक झोंक कई बार आराम से खत्म हो जाती है तो वहीं कई बार यह विवाद इतना बढ़ जाता है कि मीडिया की सुर्खियों में तब्दील हो जाता है। नतीजन दोनों में से कोई एक खिलाड़ी सोशल मीडिया पर फैन्स की ट्रोलिंग का शिकार हो जाता है। अपने विवादित बयानों को लेकर अक्सर चर्चा में रहने वाले पाकिस्तानी खिलाड़ियों ने कई बार ऐसी बातें की हैं जिसको लेकर अच्छा खासा विवाद हो गया लेकिन हद तो तब हो गई जब पाकिस्तान क्रिकेट टीम के खिलाड़ी ने मैच के दौरान धर्म परिवर्तन की सलाह दे डाली।

और पढ़ें: Racism के खिलाफ विंडीज ही नहीं इंग्लैंड की टीम भी करेगी खास काम, जर्सी पर होगा यह निशान

साल 2014 में पाकिस्तान क्रिकेट टीम श्रीलंका दौरे पर थी जहां पर मैच के बीच में पाकिस्तान के बल्लेबाज अहमद शहजाद ने श्रीलंका के दिग्गज ऑलराउंडर खिलाड़ी तिलकरत्ने दिलशान को धर्म परिवर्तन कर मुसलमान बनने की सलाह दे डाली थी।

और पढ़ें: 2011 World Cup Final: डिसिल्वा के बाद संगकारा से 5 घंटे तक हुई पूछताछ, भड़के फैन्स

मुसलमान बन जाओ, जन्नत मिलेगी

मुसलमान बन जाओ, जन्नत मिलेगी

उल्लेखनीय है कि साल 2014 में दांबुला के मैदान पाकिस्तान और श्रीलंका की टीमें एक दूसरे के खिलाफ मैच खेल रही थी। श्रीलंका की टीम मैच जीत गई जिसके बाद पाकिस्तान के बल्लेबाज अहमद शहजाद ने श्रीलंका के दिग्गज खिलाड़ी तिलकरत्ने दिलशान को मुसलमान बनने की सलाह दे डाली।

अहमद शहजाद ने दिलशान के करीब जाकर कहा, 'अगर तुम मुस्लिम नहीं हो और तुम मुस्लिम बन जाते हो तो तुम जीवन में कुछ भी करो, तुम्हें जन्नत नसीब होगी।'

जमकर ट्रोल हुए थे अहमद शहजाद

जमकर ट्रोल हुए थे अहमद शहजाद

हालांकि अहमद शहजाद की यह बात मैच के दौरान रिकॉर्ड हो गई और दिलशान का धर्म परिवर्तन कराने की उनकी सलाह का वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। खिलाड़ियों का धर्म परिवर्तन कराने की सलाह पर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को भी काफी फजीहत का सामना करना पड़ा और सोशल मीडिया यूजर्स ने जमकर ट्रोल किया, जिसके बाद पीसीबी ने शहजाद को तलब किया।

पीसीबी के तलब के जवाब में शहजाद ने कहा कि वह दिलशान से निजी बात कर रहे थे। गौरतलब है कि पाकिस्तान के दिग्गज खिलाड़ी अपने प्रदर्शन से ज्यादा अपने विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं जिसकी वजह से उन्हें आलोचनाओं का भी सामना करना पड़ा।

इस कारण जान बूझ के शहजाद ने दिलशान को बनाना चाहा मुसलमान

आपको बता दें कि श्रीलंका के दिग्गज खिलाड़ी तिलकरत्ने दिलशान के पिता मुस्लिम और माता बौद्ध धर्म से ताल्लुक रखती थीं। शुरुआत में दिलशान मुस्लिम धर्म का अनुसरण करते थे लेकिन बाद में उन्होंने धर्म परिवर्तन कर बौद्ध धर्म को अपना लिया। दिलशान का नाम पहले मोहम्मद दिलशान था लेकिन बाद में जब वो बौद्ध बने तो उन्होंने अपना नाम तिलकरत्ने दिलशान रख लिया।

यह बात शायद अहमद शहजाद को भी पता थी इसीलिये उन्होंने मैच खत्म होने के बाद दिलशान से धर्म परिवर्त की बात कही। अहमद शहजाद ने अपने करियर में पाकिस्तान के लिये 13 टेस्ट मैचों में 982, 81 वनडे मैचों में 2605 रन और 59 टी20 मैचों में 1471 रन बनाये हैं। इस दौरान उन्होंने 3 टेस्ट, 6 वनडे और एक टी20 शतक भी लगाया है। पिछले तीन सालों से पाकिस्तान की वनडे और टी20 टीम से बाहर चल रहे हैं।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Friday, July 3, 2020, 15:09 [IST]
Other articles published on Jul 3, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X