तेज गेंदबाज टी नटराजन क्यों हैं इतने खास? जानें उनके बारे में दिलचस्प बातें

Ind vs Aus: Team India ने बनाया नया Record, Series में 19 Players का किया इस्तेमाल |वनइंडिया हिन्दी

Thangarasu Natarajan : नई दिल्ली। सभी की निगाहें अबू धाबी के शेख जायद स्टेडियम में दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच इंडियन प्रीमियर लीग (Indian Premier League) के 11वें मैच के दौरान स्पिनर राशिद खान (Rashid Khan) पर टिकी थीं। उन्होंने हैदराबाद को तीन विकेट से पहली जीत दिलाई। लेकिन इसी मैच में टीम के दूसरे गेंदबाज ने भी अच्छा प्रदर्शन किया और वह गेंदबाज तमिलनाडु का टी नटराजन था।

आईपीएल 2020 में सुर्खियों में आने वाले टी नटराजन को ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए रिजर्व गेंदबाज के रूप में चुना गया है। लेकिन इन रिजर्व गेंदबाजों के लिए यह दौरा सबसे यादगार होने वाला था। रिजर्व गेंदबाज के रूप में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर आए नटराजन को टीम में चुने गए खिलाड़ियों की चोटों के कारण वनडे, टी 20 और अब टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण करने का मौका मिला है। आइए जानें इस खास गेंदबाज के बारे में कुछ खास बातें।

Test : वो 3 खिलाड़ी, जो इंग्लैंड के खिलाफ ले सकते हैं हनुमा विहारी की जगह

तमिलनाडु प्रीमियर लीग में आए थे सुर्खियों में

तमिलनाडु प्रीमियर लीग में आए थे सुर्खियों में

यह इस प्रतियोगिता के दौरान था कि नटराजन अपने यॉर्कर के सटीक चरण से प्रभावित थे। 2016 में तमिलनाडु प्रीमियर लीग में डिंडीगुल ड्रेगन और अल्बर्ट टट्टी पैट्रियट्स के बीच मैच में, उन्होंने एक सुपर ओवर के दौरान यॉर्कर गेंद पर पूरी गेंदबाजी करके अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। उन्हें बाद में 2017 की आईपीएल नीलामी के दौरान किंग्स इलेवन पंजाब ने 3 करोड़ रुपये में खरीदा था। उस सीजन में नटराजन ने पंजाब के लिए छह मैच खेले।

पंजाब से निकले तो हैदराबाद ने मौका दिया

पंजाब से निकले तो हैदराबाद ने मौका दिया

उस खराब सीजन के बाद, नटराजन की कीमत में भारी गिरावट आई और आईपीएल 2018 में, सनराइजर्स हैदराबाद ने उन्हें सिर्फ 40 लाख रुपए में खरीदा। हैदराबाद के गेंदबाजी कोच मुथैया मुरलीधरन ने नटराजन पर भरोसा जताया। हालांकि, नटराजन ने 2018 और 2019 सीजन में एक भी मैच नहीं खेला। लेकिन इस बीच उन्होंने घरेलू प्रतियोगिताओं में अपना प्रदर्शन जारी रखा। आईपीएल 2020 में दिल्ली के खिलाफ खेलने वाले नटराजन को नहीं लगा कि वह पिछले दो सत्रों में टीम के अंतिम एकादश से बाहर थे। नटराजन ने एक के बाद एक यॉर्कर फेंककर अपनी प्रतिभा दिखाई। नटराजन ने इस सीजन में 16 मैचों में 16 विकेट लिए हैं। उन्होंने सबसे ज्यादार यॉर्कर गेंद भी फेंकी।

मां बेचती हैं मांस

मां बेचती हैं मांस

सलेम से 35 किमी दूर चिनप्पट्टी गांव में रहने वाले नटराजन के पिता थंगारसू, बुनाई करते हैं और उनकी मां सड़क पर मांस बेचती हैं। पांच भाई-बहनों में सबसे बड़े नटराजन को कोच जयप्रकाश ने क्रिकेट से जोड़ा था। उन्होंने इस युवा खिलाड़ी की कला को पहचाना और नटराजन को क्रिकेट में आगे बढ़ने की सलाह दी। अपने गुरु का धन्यवाद करने के लिए, नटराजन ने दिल्ली के खिलाफ मैच के दौरान 'जेपी नट्टू' नामक एक जर्सी पहनी थी।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

 

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Friday, January 15, 2021, 10:43 [IST]
Other articles published on Jan 15, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X