क्या सुशांत के बिना धोनी का सीक्वल बनेगा? माही के करीबी मित्र ने दिया जवाब

MS Dhoni's biopic sequel not possible without Sushant Singh, says Arun Pandey | वनइंडिया हिंदी

नई दिल्ली। 'एमएस धोनी- द अनटोल्ड स्टोरी', इस फिल्म ने खूब सुर्खियां बटोरीं। कैसे धोनी ने अपना करियर शुरू किया और फिर 2011 में विश्व कप दिलाया, उनकी इस बायोपिक में बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने पूरा घटनाक्रम अच्छे से पेश किया है। आज सुशांत भले ही हम लोगों के बीच में नहीं है। उन्होंने बांद्रा स्थित अपने घर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सुशांत के निधन से क्रिकेट जगत में भी मायूसी बनी हुई है। धोनी ने अभी तक संन्यास नहीं लिया, 2011 के बाद उनका करियर कैसा गया यह उनके अगले सीक्वल में दिखाया जाना था लेकिन सुशांत के बिना 'एमएस धोनी- द अनटोल्ड स्टोरी' फिल्म का अब सीक्वल बनना संभव है या नहीं, इसका जवाब माही के करीबी मित्र और फिल्म के सह निर्माता अरुण पांडे ने दिया।

ना बुमराह ना शमी, स्मिथ ने बताया किस गेंदबाज ने उन्हें किया सबसे ज्यादा परेशानना बुमराह ना शमी, स्मिथ ने बताया किस गेंदबाज ने उन्हें किया सबसे ज्यादा परेशान

अब संभव नहीं सीक्वल बनना

अब संभव नहीं सीक्वल बनना

सुशांत ने फिल्म में धोनी का अच्छे से रोल निभाया था। फैंस उन्हें दूसरा धोनी कहते थे। फिल्म के अगले सिक्वंस में सुशांत फिर से धोनी का रोल निभाने के लिए तैयार थे। लेकिन अब सुशांत के ना रहने पर अरुण पांडे ने कहा है कि अब इस फिल्म का सीक्वल सुशांत के बिना संभव नहीं है। उन्होंने एक न्यूज चैनल से बातचीत में कहा, ''सुशांत की मृत्यु के बाद फिल्म का सीक्वल बनाना संभव नहीं है। हम सुशांत के बिना इस फिल्म के सीक्वल के बारे में सोच भी नहीं सकते।'' उन्होंने कहा कि हम इस फिल्म के सीक्वल पर सोच रहे थे, परंतु अब इसका कोई मतलब नहीं रह जाता है।

सुशांत करते थे कड़ी मेहनत

सुशांत करते थे कड़ी मेहनत

अरुण ने बताया कि धोनी का किरदार निभाने के लिए सुशांत कड़ी मेहनत किया करते थे। वह छोटी-छोटी चीजें फाॅलो किया करते थे। दोनों बिहार से थे तो तालमेल बिठाने में भी सफल रहे। अरुण पांडे ने कहा, ''मैं और सुशांत दिल्ली में धोनी के एयर इंडिया कॉलोनी मकान में गए थे। माही ने याद किया कि वह कहां बैठते थे, खाते थे तो सुशांत भी किरदार को महसूस करने के लिए ऐसा करता था। घर में ऐसा भी स्थान था, जहां माही जमीन पर लेटता था तो सुशांत ने भी ऐसा ही किया।''

2016 में हुई थी रिलीज

2016 में हुई थी रिलीज

बता दें कि धोनी पर बनी ये फिल्म 2016 में रिलीज हुई थी। सुशांत ने सुनहरे पर्दे पर धोनी के किरदार को जीवंत करने के लिए महीनों मेहनत की थी। इस फिल्म में रांची से निकले धोनी की विश्व कप विजय तक की यात्रा और संघर्ष को दिखाया गया है। सुशांत ने इसके लिए कड़ी मेहनत की थी। इस फिल्म के लिए पूर्व भारतीय विकेटकीपर किरण मोरे से सुशांत ने बल्लेबाजी, विकेटकीपिंग और हेलीकॉप्टर शॉट के गुर सीखे थे।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Wednesday, June 17, 2020, 10:56 [IST]
Other articles published on Jun 17, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X