युवराज सिंह ने बताया आखिर क्यों 4 छक्के के बाद उन्होंने एक और छक्का नहीं लगाया

नई दिल्ली। टीम इंडिया के पूर्व स्टार बल्लेबाज युवराज सिंह ने एक बार फिर से क्रिकेट के मैदान पर अपना जलवा बिखेरा है। शनिवार को रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज के मुकाबले में युवराज सिंह ने लगातार चार गेंदों पर चार छक्के लगाकर एक बार फिर से अपनी बल्लेबाजी का लोहा मनवाया है। उन्होंने जैंडर डे ब्रूयन के ओवर में लगातार चार गेंद पर चार छक्का लगाया। मैच में इंडिया लेजेंड्स ने साउथ अफ्रीका लेजेंड्स के खिलाफ जीत दर्ज करके सेमीफाइनल में अपनी जगह बनाई है। लेकिन जिस तरह से लगातार चार गेंदों पर युवराज सिंह ने छक्का मारा तो लोग उम्मीद कर रहे थे कि एक बार फिर से युवराज अगली गेंद पर छक्का मारेंगे लेकिन युवराज सिंह ने ऐसा नहीं किया। मैच के बाद खुद युवराज सिंह ने इसकी वजह बताई है।

लगातार 4 छक्के लगाए

18वें ओवर में ब्रूयन की गेंद की युवराज सिंह ने जमकर धुनाई की। जिस तरह से युवराज सिंह ने लगातार चार छक्के लगाए उसके बाद लोगों को 2007 का वर्ल्ड कप याद आ गया जब युवराज सिंह ने स्टुअर्ट ब्रॉड के एक ही ओवर में 6 छक्के लगाए थे। युवराज सिंह और सचिन तेंदुलकर की शानदार पारी की बदौलत भारत की टीम ने दक्षिण अफ्रीका के सामने जीत के लिए 205 रन का लक्ष्य रखा। मैच में सचिन तेंदुलकर ने शानदार अर्धशतक लगाया था।

आखिरी तक करना चाहते थे बल्लेबाजी

युवराज सिंह ने कहा कि मैं लगातार पांचवा छक्का लगाने की सोच रहा था, मुझे याद है कि ओवर में एक खाली गेंद गई थी और मैं इंतजार कर रहा था कि गेंदबाज मेरे एरिया में गेंद फेके। चौथे छक्के के बाद मैं पांचवा और छठा छक्का मारने की सोच रहा था, लेकिन उस ओवर के बाद भी दो ओवर बाकी थे तो मैंने फैसला लिया कि स्ट्राइक को रोटेट करते हैं और आखिर तक बल्लेबाजी करते हैं और स्कोर को बड़ा करते हैं। विकेट काफी अच्छा था, दक्षिण अफ्रीका ने पिछला मैच जीता था। लिहाजा मैं चाहता था कि आखिर तक बल्लेबाजी करूं और ऐसा करके मैं खुश हूं।

57 रन से जीता भारत

बता दें कि मैच में इंडिया लेजेंड्स ने 57 रन से जीत दर्ज की। 205 रन के विशाल स्कोर का पीछा करने उतरी दक्षिण अफ्रीका लेजेंड्स की टीम सिर्फ 146 रन की बना सकी। मैच में सचिन तेंदुलकर ने सीरीज का अपना पहला अर्धशतक लगाया, जबकि युवराज सिंह ने नाबाद 52 रनों की तूफानी पारी खेली। युवराज ने कहा कि दर्शकों के बीच मैदान में जब मैं खेलने के लिए उतरा तो ऐसा लगा कि मैं सच में भारत के लिए खेल रहा हूं। मैदान में हर कोई मोबाइल की लाइट जला रहा था, यह जबरदस्त अनुभव था। लोग वापस मैदान में आ रहे हैं और खेल का मजा ले रहे हैं,यह काफी अच्छा है।

इसे भी पढ़ें- IPL में किसी भी टीम ने नहीं खरीदा तो आदिल रशीद ने कही ये बात

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Sunday, March 14, 2021, 10:22 [IST]
Other articles published on Mar 14, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X